home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन: इन बीमारियों से सुरक्षा प्रदान करती है ये वैक्सीन!

क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन: इन बीमारियों से सुरक्षा प्रदान करती है ये वैक्सीन!

क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन (Quadrovax Vaccine) को क्वाड्रोवैक्स एसडी वैक्सीन (Quadrovax SD Vaccine) के नाम से भी जाना जाता है। यह उन दवाईयों का कॉम्बिनेशन है, जिसका प्रयोग डिप्थीरिया (Diphtheria), काली खांसी (Pertussis), टेटनस (Tetanus), हिमोफिलस इन्फ्लूएंजा टाइप बी इंफेक्शन (Haemophilus influenzae type B infection) आदि के बचाव के लिए किया जाता है। इस वैक्सीन का प्रयोग इम्युनिटी को बढ़ाने में मदद करने के लिए भी किया जा सकता है। यह वैक्सीन भविष्य में इंफेक्शन से बचने में भी हमारे शरीर की सुरक्षा करती है। क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन (Quadrovax Vaccine) को केवल डॉक्टर की सलाह के बाद ही लेना चाहिए। यह वैक्सीन बच्चों और बड़ों दोनों के लिए फायदेमंद है। अगर आपको इस इंजेक्शन से किसी भी तरह की एलर्जी हो सकती है, तो इसे आप न लें।

यही नहीं, क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन से कुछ साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं। अगर इसे लेने के बाद आप या आपका बच्चा किसी भी साइड इफेक्ट्स का अनुभव करे या कोई अन्य लक्षण नजर आएं, तो भी डॉक्टर से तुरंत सलाह लेना अनिवार्य है। आइए जानते हैं क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन (Quadrovax Vaccine) के बारे में। शुरुआत करते हैं इसके प्रयोग से।

क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन (Quadrovax Vaccine) का प्रयोग किन स्थितियों में की जा सकती है?

क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन (Quadrovax Vaccine) का प्रयोग निम्नलिखित बीमारियां, कंडिशंस और लक्षणों को कंट्रोल करने, उनसे छुटकारा पाने और उनमें सुधार के लिए किया सकता है:

  • डिप्थीरिया के अगेंस्ट इम्युनायजेशन (Immunization against diphtheria)
  • बच्चों में चेस्ट इंफेक्शन (Chest infections in children)
  • 3 से 6 साल के बच्चों में हिमोफिलस इन्फ्लुएंजा टाइप बी रोग (Haemophilus influenzae type B disease)
  • मेनिंजेस में सूजन (Inflammation of Meninges)
  • बैक्टीरियल या टॉक्सिन्स ब्लड ब्लीडिंग (Bacterial or toxins blood bleeding)
  • सबक्यूटेनियस कनेक्टिव (subcutaneous connective tissue) टिशू में सूजन
  • अर्थराइटिस (Arthritis)
  • एपिग्लोटा​इटिस (Epiglottis) की सूजन
  • स्प्लीन के रिमूवल (Spleen removal) के लिए सर्जिकल ऑपरेशन
  • व्हूपिंग खांसी (Whooping cough)

इनके अलावा भी कुछ अन्य स्थितियां हो सकती हैं, जिनमें इस वैक्सीन का प्रयोग किया जाता हो। क्वाड्रोवैक्स एसडी वैक्सीन (Quadrovax SD Vaccine) के प्रयोग के बारे में अधिक जानने के लिए आप अपने डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं। अब जानिए कि यह वैक्सीन कैसे काम करती है?

और पढ़ें: क्या बच्चों के लिए फ्लू और कोविड वैक्सीन एक ही है : जानें इस पर एक्सपर्ट की राय

क्वाड्रोवैक्स एसडी वैक्सीन कैसे काम करती है?

क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन (Quadrovax Vaccine) जिसे क्वाड्रोवैक्स एसडी वैक्सीन (Quadrovax SD Vaccine) भी कहा जाता है, यह चार वैक्सीन्स का कॉम्बिनेशन है। यह वैक्सीन्स एक माइल्ड इंफेक्शन की शुरुआत करके इम्युनिटी विकसित करने में मदद करती है। इस प्रकार का इंफेक्शन बीमारी का कारण नहीं बनता है, लेकिन यह भविष्य में होने वाले किसी भी इंफेक्शन से बचाने के लिए एंटीबॉडी (प्रोटीन) का उत्पादन करके शरीर के इम्यून सिस्टम को उत्तेजित करता है। क्वाड्रोवैक्स इंजेक्शन में एक्टिव इंग्रीडिएंट्स के रूप में डिप्थीरिया टॉक्साइड (Diphtheria Toxoid), हेमोफाइल्स बी कोंजूगेट वैक्सीन (Haemophilus B Conjugate Vaccine) , पटोसिस टॉक्सोइड (Pertussis Toxoid) और टिटनेस टॉक्सोइड (Tetanus Toxoid) मौजूद होते हैं। यह वैक्सीन इस तरह से काम करती है:

  • क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन कोराइनबैक्टीरियम डिप्थीरिया (Corynebacterium Diphtheriae) के अगेंस्ट न्यूट्रालायजिंग सुरक्षा के लिए न्यूट्रालायजिंग एंटीबॉडीज (Neutralizing antibodies) को इंड्यूस्ड करती है।
  • वायरस के प्रति एंटीबॉडी प्रोड्यूस करती है।
  • बैक्टीरिया के अगेंस्ट लड़ने के लिए एंटीबॉडी बनाती है।

इसके अलावा भी कई समस्याओं में क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन का प्रयोग किया जा सकता है। रोगी को किन स्थितियों में इस वैक्सीन को देना है, यह बात डॉक्टर द्वारा निर्धारित की जाती है। अब जानते हैं इसके साइड इफेक्ट्स के बारे में।

क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन (Quadrovax Vaccine)

और पढ़ें: पेंटावैलेंट वैक्सीन बच्चों को इन 5 बीमारियों से बचाने में करती है मदद, जानिए किस उम्र में दी जाती है

क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन के साइड इफेक्ट्स (Side effects of Quadrovax Vaccine)

क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन (Quadrovax Vaccine) में मौजूद इंग्रेडिएंट्स के कारण कई साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। हालांकि कुछ लोग इन साइड इफेक्ट्स का अनुभव कर सकते हैं। जबकि हो सकता है कि इस इंजेक्शन के बाद कुछ लोग किसी भी दुष्प्रभाव को अनुभव न करें। क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन (Quadrovax Vaccine) के सामान्य साइड इफेक्ट्स इस प्रकार हैं:

  • एलर्जिक रिएक्शंस (Allergic reactions)
  • फीवर (Fever)
  • इंजेक्शन साइट पर दर्द (Pain at injection site)
  • इंजेक्शन साइट पर लालिमा (Redness at injection site)
  • इंजेक्शन साइट पर सूजन (Swelling at injection site)
  • बेचैनी (Malaise)
  • ठंड लगना (Chills)
  • सिरदर्द (Headache)
  • चक्कर आना (Dizziness)
  • एनाफिलेक्सिस (Anaphylaxis)
  • हायपोटेंशन (Hypotension)
  • टायकिकार्डिया (Tachycardia)
  • उलटी आना (Vomiting)
  • जोड़ों का दर्द (Arthralgia)
    मायल्जिया (Myalgia)
  • पोलीन्यूराइटिस (Polyneuritis)
  • मस्तिष्क विकृति (Encephalopathy)
  • ट्रांसवर्स माइलाइटिस (Transverse Myelitis)
  • डियल नर्व का पैरालिसिस (Paralysis of the radial nerve)
  • सांस लेने में समस्या (Difficulty breathing)
  • ईटिंग डिसऑर्डर (Eating disorder)
  • डायरिया (Diarrhea)
  • जोड़ों में दर्द (Joint pain)
  • चेहरे की सूजन (Swelling of face)
  • शरीर में दर्द (Body ache)
  • ऊपरी बाजू में लगातार दर्द (Continued pain in upper arm)

हो सकता है कि कुछ लोगों को ऊपर दिए गए साइड इफेक्ट्स के अलावा अन्य दुष्प्रभाव भी नजर आएं। कोई भी लक्षण महसूस होने की स्थिति में तुरंत डॉक्टर की सलाह लें। अब जानते हैं क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन (Quadrovax Vaccine) से जुड़ी सावधानियों के बारे में।

और पढ़ें: इंफ्लूवैक वैक्सीन: बच्चों को इंफ्लुएंजा से बचाने में करती है मदद, इस उम्र में दी जाती है पहली डोज

क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन को लेने से पहले इन बातों का रखें ध्यान

क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन (Quadrovax Vaccine) को लेने से पहले कई चीजों का ध्यान रखना चाहिए। ताकि यह वैक्सीन किसी समस्या का कारण न बनें। यह चीजें इस प्रकार हैं:

  • क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन (Quadrovax Vaccine) को लेने से पहले अपने डॉक्टर को उन सभी दवाईयों के बारे में बताएं , जिन्हें आप ले रहे हैं। इनमें विटामिन्स (Vitamins) और हर्बल सप्लिमेंट्स (Herbal Supplement) भी शामिल हैं।
  • अगर आपको कोई भी एलर्जी, बीमारी या समस्या है, तो इस स्थिति में भी डॉक्टर को इनके बारे में बताना जरूरी है। अगर आपकी कोई सर्जरी होने वाली है तो भी इसके बारे में बताना अनिवार्य है। क्योंकि, कुछ हेल्थ कंडिशंस आपको दवा के दुष्प्रभावों के प्रति अधिक संवेदनशील बना सकती हैं। यही नहीं इनकी डोज भी रोगी की स्थिति पर निर्भर करता है। इसलिए इस वैक्सीन की कितनी डोज रोगी की लेनी है इसके बारे में भी डॉक्टर की राय लेना आवश्यक है।
  • क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन (Quadrovax Vaccine) की कभी भी डॉक्टर की बताई डोज से अधिक इस वैक्सीन की डोज न लें। बच्चों के मामले में इस बात का खास ख्याल रखना जरूरी है।
  • इस वैक्सीन को दोस्तों या परिवार की सलाह के बाद न लें। यही नहीं किस अन्य व्यक्ति को भी इसकी सलाह न दें। इस वैक्सीन को केवल डॉक्टर के कहने पर ही लें।
  • इस वैक्सीन को लेने से पहले इसके लेबल पर लिखी एक्सपायरी डेट को भी पढ़ लें
  • इस वैक्सीन को रूम टेम्प्रेचर पर स्टोर करें और हीट या सनलाइट के डायरेक्ट एक्सपोजर से इसे बचाएं।
  • अगर इस वैक्सीन को लेने के बाद रोगीकी स्थिति खराब हो जाए तो भी तुरंत डॉक्टर की सलाह लें। क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन (Quadrovax Vaccine) के बूस्टर (Booster) की डोज को हर दस साल में लगातार लेना जरूरी है।

और पढ़ें: रिसर्च के अनुसार ब्रेस्टफीडिंग करवाने वाली महिलाएं भी ले सकती हैं कोविड 19 वैक्सीन, लेकिन पहले डॉक्टर से जरूर करें कंसल्ट

किन स्थितियों में इस वैक्सीन को न लें?

कुछ स्थितियों में क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन (Quadrovax Vaccine) न लेने की सलाह भी दी जाती है। यह स्थितियां इस प्रकार हैं:

  • प्रेग्नेंसी (Pregnancy) में इस वैक्सीन को लेना हानिकारक हो सकता है। क्योंकि, यह दवाई भ्रूण के विकास में बाधा पहुंचा सकती है। यही नहीं, ब्रेस्टफीडिंग (Breastfeeding) में भी इस वैक्सीन को लेने से बचें। क्योंकि यह दवाई बच्चे के लिए नुकसानदायक हो सकती है
  • सात साल से कम उम्र के बच्चों को क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन (Quadrovax Vaccine) की सलाह नहीं दी जाती है।
  • कोएगुलेशन डिसऑर्डर (Coagulation disorders) की स्थिति में भी इस वैक्सीन न लें।
  • अगर आप इम्यूनोसप्रेसिव थेरिपी (Immunosuppressive Therapy) ले रहे हों, तो भी इस वैक्सीन की सलाह नहीं दी जाती है।
  • अगर किसी की दौरे पढ़ना, इंफेक्शन (Infection), ब्लीडिंग डिसऑर्डर (Bleeding disorder), लो प्लेटलेट लेवल (Low platelet levels) या एड्स (AIDS) जैसी समस्याएं हैं, तो उन्हें भी इस दवाई को नहीं लेना चाहिए।
  • एलर्जिक रिएक्शन (Allergic Reaction) होने पर इस वैक्सीन को न लेने की सलाह दी जाती है।
  • ब्लड क्लॉटिंग डिसऑर्डर (Blood Clotting Disorders) होने पर इसे लेने से बचें।
  • इंसेफेलाइटिस (Encephalitis), हायपरसेंसिटिविटी (Hypersensitivity), न्यूरोलॉजिक रिएक्शन (Neurologic reaction) और न्यूरोलॉजिकल डिसऑर्डर (Neurological disorder) की स्थिति में भी इस वैक्सीन को न लेने की सलाह दी जाती है। अब जानिए कि क्या अन्य ड्रग्स के साथ इन वैक्सीन को लिया जा सकता है?

और पढ़ें: बच्चों को फ्लू से बचाने में मदद करती है वैक्सीग्रिप वैक्सीन, लेकिन इसके साइड इफेक्ट्स भी जान लें

क्या क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन को अन्य ड्रग्स के साथ लिया जा सकता है?

अगर आप कुछ अन्य ड्रग्स या ओवर द काउंटर प्रॉडक्ट्स का एक ही समय में प्रयोग करते हैं, तो क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन (Quadrovax Vaccine) का इफेक्ट बदल सकता है। यही नहीं, इसके कारण साइड इफेक्ट्स का जोखिम भी बढ़ सकता है या इससे ड्रग को अपना सही से काम करने में भी समस्या हो सकती है। आप अपने डॉक्टर से इस इंजेक्शन के प्रयोग से पहले इसके बारे में पूरी जानकारी ले लें। क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन (Quadrovax Vaccine) भी कुछ ड्रग्स या प्रोडक्ट्स के साथ इंटरैक्ट कर सकती हैं। यह ड्रग्स और प्रोडक्ट्स इस प्रकार हैं:

  • एल्काइलेटिंग एजेंट (Alkylating Agents)
  • एंटीकोएगुलेंट्स थेरेपी (Anticoagulants therapy)
  • एंटीमेटाबोलाइट्स (Antimetabolites)
  • सिमेटीडीन (Cimetidine)
  • कॉर्टिकॉस्टेरॉइड्स (Corticosteroids)
  • साइटोटोक्सिक ड्रग्स (Cytotoxic drugs)
  • इम्यूनोसप्रेसिव थेरेपी (Immunosuppressive therapy)
  • टिटनेस इम्यून ग्लोब्युलिन (Tetanus immune globulin)

क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन (Quadrovax Vaccine) को लिवर और किडनी के रोगियों के लिए सुरक्षित माना जा सकता है। लेकिन, इसके बारे में पूरी जानकारी नहीं है। अगर आपको लिवर और किडनी संबंधी कोई भी समस्या है, तो इस दवाई को लेने से पहले अपने डॉक्टर से अवश्य पूछें। इस बारे में भी सही जानकारी नहीं है कि क्या यह वैक्सीन ड्राइव करने की क्षमता को प्रभावित करती है या नहीं? लेकिन, अगर इस वैक्सीन के बाद आप ऐसे लक्षणों का अनुभव करते हैं। जिससे आपकी ध्यान लगाने या रियेक्ट करने की क्षमता को प्रभावित हो रही हो। तो ऐसा कोई भी काम करने से बचें, जिसमें ध्यान लगाने की जरूरत पड़े जैसे ड्राइव करना या किसी मशीनरी का प्रयोग आदि। एल्कोहॉल के साथ भी इसे लेने से बचना चाहिए। अब पाएं इससे संबंधित कुछ प्रश्नों के उत्तर।

और पढ़ें: Combe five vaccine: पांच बीमारियों से सुरक्षा प्रदान करती है ये वैक्सीन!

क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन से संबंधित पूछे जाने वाले कुछ प्रश्न और उनके उत्तर

क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन (Quadrovax Vaccine) को लेकर आपके मन में भी कुछ सवाल आना स्वभाविक है। आज हम आपको इस वैक्सीन से जुड़े कुछ ऐसे ही सवालों के उत्तर आपको देने वाले हैं। जानिए इनके बारे में:

अगर कोई क्वाड्रोवैक्स एसडी वैक्सीन की एक डोज मिस कर देता है, तो क्या करना चाहिए?

अगर आपने गलती से इसकी डोज मिस कर दी है तो याद आने पर जितनी जल्दी हो सके इसकी डोज ले लें। लेकिन, इसकी डबल डोज लेना हानिकारक हो सकता है।

क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन की अधिक डोज लेने पर क्या करना चाहिए?

क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन (Quadrovax Vaccine) की ओवरडोज की स्थिति में तुरंत अपने डॉक्टर की सलाह लेना जरूरी है। क्योंकि अधिक डोज के कारण कई गंभीर साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं।

क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन की एक्सपायर्ड डोज लेने पर क्या किया जा सकता है?

क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन (Quadrovax Vaccine) की एक्सपायर्ड डोज लेने से भी आपको कुछ समस्याएं हो सकती हैं। अगर आपको कोई परेशानी न भी हो तभी तुरंत मेडिकल हेल्प लें। ताकि किसी भी जोखिम से बचा जा सके।

और पढ़ें: बच्चों को DTaP वैक्सीन के लिए दिए जाते हैं ये डोज, जानिए क्यों हैं ये जरूरी?

प्रेग्नेंसी में टीकाकरण की क्यों होती है जरूरत ?

यह तो थी क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन (Quadrovax Vaccine) के बारे में पूरी जानकारी। इस इंजेक्शन को डॉक्टर द्वारा आर्म्स के ऊपरी मसल्स इंजेक्ट किया जाता है। अगर आप इस वैक्सीन को लेकर चिंतित हैं या आपके मन में कोई भी सवाल हो, तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लें। उम्मीद करते हैं कि आपको क्वाड्रोवैक्स वैक्सीन (Quadrovax Vaccine) से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

combination vaccine (Easyfour®-TT) with Quadrovax® in Indian infants.http://europepmc.org/article/PMC/5612288 .Accessed on 10/8/21

quadravac vaccine. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC8009612/.Accessed on 10/8/21

quadravac vaccine. https://www.science.gov/topicpages/v/vaccine+booster+dose .Accessed on 10/8/21

dose of quadrivalent DTwP. https://agris.fao.org/agris-search/search.do?recordID=US201500178470  .Accessed on 10/8/21

Diseases, Vaccine, and Related Terms. https://www.cdc.gov/vaccines/pubs/pinkbook/downloads/appendices/b/foreign-products-tables.pdf

.Accessed on 10/8/21

लेखक की तस्वीर badge
AnuSharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 13/08/2021 को
और Admin Writer द्वारा फैक्ट चेक्ड
x