home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

क्यों पति-पत्नी के बीच बातचीत हो जाती है कम

क्यों पति-पत्नी के बीच बातचीत हो जाती है कम

पति-पत्नी के बीच छोटे-मोटे झगड़े होना एक आम बात है और ये अक्सर एक-दूसरे से बात करके सुलझाएं भी जा सकते हैं लेकिन, दिक्क्त तब आती है जब कपल के बीच में संवाद की कमी हो जाती है। एक कामयाब रिश्ते के लिए संवाद का अच्छा होना बहुत महत्वपूर्ण होता है । वहीं, पति-पत्नी के बीच खराब कम्युनिकेशन कई अनसुलझे मुद्दों का कारण भी बनता है। इसीलिए जानते हैं वे कारण जिसकी वजह से अक्सर पार्टनर्स के बीच में खराब संवाद जन्म ले लेता है या बातचीत बंद हो जाती है।

जानिए इन सात कारणों को जिनकी वजह से पति-पत्नी के रिश्ते में आती है खटास

विवादपूर्ण स्थिति

पति-पत्नी एक दूसरे पर चिल्लाकर किसी भी मुद्दे को हल नहीं कर सकते हैं। खराब संवाद की वजह से कभी-कभी विवादपूर्ण स्थिति भी बन जाती है। ऐसे में पति-पत्नी में से किसी एक का चुप हो जाना ही बेहतर होता है। जब मामला थोड़ा शांत हो जाए, तब कोशिश करें कि आप अपनी बात प्रभावी ढंग से पार्टनर से कह सकें। यह सबसे बेहतर तरीका होगा जब आप दोनों एक दूसरे से आराम से बात कर पायेंगे और दोनों एक दूसरे को अपनी बात सही तरह से समझा पाएंगी।

एक दूसरे की बात न सुनना

समस्या के समाधान के लिए दोनों पक्षों को एक-दूसरे को सुनने की जरूरत है। किसी भी समस्या को हल करने के लिए दोनों व्यक्तियों को एक दूसरे से बात करने और एक दूसरे के बातें सुनने की जरूरत होती है। किसी रिश्ते को बेहतर बनाने के लिए सुनना एक प्रभावी तरीका हो सकता है।

गुस्सा

क्या आपके साथी को हर बात पर गुस्सा आता है? वह आपके हर विचार से असहमत होता है? ऐसे में बुरा बर्ताव करने से कुछ हल नहीं निकलेगा। बजाय इसके यह मामला और खराब होता जाएगा। ऐसे समय पर शांत रहकर रिश्ते अहमियत समझते हुए पति-पत्नी आपस में बात करके चीजों का हल निकालने की कोशिश करें।

चुप्पी साधना

जब आपके साथी के जीवन में संघर्ष हो तो ऐसे में किसी बात पर झगड़कर उसने अलग होने का चयन कभी न करें। किसी विषय पर असहमति के दौरान दोनों लोगों को इस पर बात करने की जरूरत होती है, न कि चुप रहकर खुद को दूर करने की।

और पढ़ें : पहली बार पार्टनर के सामने न्यूड होने पर सताता है महिलाओं को डर

अवगुण ढूंढना

जब कोई एक इंसान लगातार अपने साथी में बुराई ढूंढने लगता है या जबरदस्ती बुराइयां निकालता है, तो कपल आपस में एक-दूसरे से बात करने से कतराने लगते हैं। नतीजन, रिश्ता कमजोर पड़ने लगता है।

मौखिक या शारीरिक दुर्व्यवहार

किसी भी स्थिति में पार्टनर के साथ किया गया मौखिक या शारीरिक दुर्व्यवहार बेहद अपमानजनक होता है। यह रिश्ते को एक कगार पर ला सकता है।

बेड पर जाने से पहले तनाव को दूर करें

यदि कोई समस्या है तो उसे बेड पर जाने से पहले ही हल करें। हो सकता है किसी बहस के बाद संवाद करना कठिन हो जाए लेकिन, अपने पार्टनर से बात करने की कोशिश करें।

प्रभावी ढंग से संवाद करना ही पति-पत्नी के स्वस्थ रिश्ते की कुंजी है इसलिए, समस्या चाहें जैसी भी हो, बात करें। आखिर बात करने से ही बात बनती है।

और पढ़ें : प्रेग्नेंट लेडीज गर्भावस्था में पीठ दर्द होने पर इन घरेलू नुस्खों से मिलेगा आराम

जानते हैं कैसे पति-पानी एक दूसरे से क्लोज आ सकते हैं?

पति-पत्नी निम्नलिखित टिप्स अपनाकर एक-दूसरे से बिना झगड़े किये और प्यार से रह सकते हैं। जैसे-

  • आप दोनों एक-दूसरे से अपनी परेशानियों को आपस में शेयर करें। इस बारे में उनसे सलाह लें। आप दोनों को एक दूसरे के हर बात को समझना चाहिए। अगर आपको उनकी किसी बात से परेशानी होती है या उनके किसी फैसले पर आपत्ति होती है, तो इसके बारे में भी एक दूसरे से खुलकर बात करें।
  • पति-पत्नी भले ही एक दूसरी से शादी के बंधन में बंधें चुके हैं और एक साथ रह रहें हैं। हालांकि साथ-साथ रहने के बावजूद भी एक-दूसरे को उनके निजी समय के लिए फ्री रखें। कई बार पति-पत्नी साथ तो रहते हैं लेकिन, एक दूसरे को वक्त नहीं दे पाते हैं। इसलिए आप दोनों एक साथ रहते हों या परिवार के साथ वाइफ को भी अपने हस्बैंड के लिए और हस्बैंड को भी अपनी वाइफ के लिए वक्त निकालना चाहिए।
  • अगर आप दोनों में से कोई भी अपनी बात को शेयर नहीं करना चाहते हैं, तो उन्हें इसके लिए फोर्स न करें। यह भी याद रखें कि जिस तरह आपके अपने दोस्त हैं, ठीक उसी तरह उनके भी अपने दोस्त हो सकते हैं।
  • एक दूसरे की मदद के लिए हमेशा तैयार रहें। दरअसल पति-पत्नी को अपने बीच की बॉन्डिंग बढ़ाने के लिए एक दूसरे का साथ देना चाहिए जैसे घर के काम-काज या शॉपिंग में मदद करें। इससे आपके बीच की बॉन्डिंग स्ट्रांग हो सकती है।
  • आप दोनों को समय निकालकर एक ट्रिप पर जाना चाहिए। ऐसे में एक बेस्ट डेस्टिनेशन चुनें और अपने लाइफ पार्टनर के साथ इस वक्त को एंजॉय करें।
  • दिन में एक दूसरे को कॉल करें और लंच की जानकारी लें कि दिन का खाना खाया या नहीं।
  • दोनों को ही एक दूसरे की पसंद की अच्छी तरह से जानकारी होनी चाहिए।
  • दोनों को ही एक दूसरे के साथ इमानदार होना चाहिए। दिन भर आपने क्या किया, ऑफिस के बारे में बतायें।
  • अगर आप ऑफिस की ओर से किसी क्लब या रेस्टोरेंट में जा रहे हैं, तो अपने लाइफ पार्टनर को सच बता कर जाएं। अगर उनसे कुछ भी छुपाते हैं या उनसे झूठ बोलते हैं, तो यह आपके रिश्ते में दरार पैदा कर सकती है। आप अपनी फीलिंग अपने साथी के साथ शेयर करें। अपना प्यार, इनसिक्योरिटी जैसी बातें भी उनके साथ जरूर शेयर करें।
  • अगर पति-पत्नी किसी कारण लॉन्ग डिस्टेंस रिलेशनशिप में रह रहे हैं, तो भी ऐसी स्थिति में एक दूसरे का साथ दें। इसलिए, आप या आपका साथी कहीं भी रह रहा हो, हमेशा उनसे संपर्क बनाएं रखें। उनका दिन कैसा रहा, इसके बारे में उनसे जरूर पूछें। आप अपने साथी से हर रोज मैसेज, वीडियो कॉल के जरिए या फिर फोन के जरिए बातें कर सकते हैं। लेकिन, इसका यह मतलब नहीं कि आप हर मिनट उन्हें फोन करके परेशान करते रहें।

और पढ़ें : सेक्स के बाद रोमांस पार्टनर्स को लाता है और करीब, अपनाएं ये टिप्स

अगर आप पति-पत्नी में कम होते बात-चीत से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Relationships and communication/https://www.betterhealth.vic.gov.au/Accessed on 07/01/2020

21 Best Tips On Making A Long Distance Relationship Work/https://www.lifehack.org/Accessed on 07/01/2020

Strong Families/ Healthy Relationships/https://www.fatherhood.gov/Accessed on 07/01/2020

Relationships – tips for success/https://www.betterhealth.vic.gov.au/health/healthyliving/Relationships-tips-for-success/Accessed on 07/01/2020

Healthy Marriage/https://www.acf.hhs.gov/ofa/programs/healthy-marriage/healthy-marriage/Accessed on 07/01/2020

लेखक की तस्वीर
Shilpa Khopade द्वारा लिखित
अपडेटेड 28/08/2019
x