home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

PCOS और एक्ने! 🤔 क्या है दोनों से छुटकारा पाने का रास्ता?

PCOS और एक्ने! 🤔  क्या है दोनों से छुटकारा पाने का रास्ता?

मुंहासे…इस शब्द से कोई परिचित ना हो ऐसा हो नहीं सकता है, क्योंकि कहते हैं प्यूबर्टी की उम्र के शुरुआत के साथ-साथ इस दौरान होने वाले हॉर्मोन लेवल डिस्बैलेंस से एक्ने यानी मुंहासे की समस्या आम मानी जाती है। हालांकि कुछ वक्त में चेहरे पर दिखने वाले ये मुंहासे अपने आप गायब भी हो जाते हैं, लेकिन कई बार PCOS और एक्ने (PCOS and Acne) का भी आपस में तालमेल माना जाता है। नहीं समझें! दरअसल पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम की वजह से एक्ने की समस्या शुरू हो सकती है, जो आपको परेशान कर सकती है और चेहरे पर पड़ने वाले ये दाग आपको चिड़चिड़ा भी बना सकते हैं। इसलिए PCOS और एक्ने की समस्या से जुड़े कई महत्वपूर्ण सवालों के जवाब आज आपसे शेयर करने वाले हैं। सबसे पहले जान लेते हैं PCOS और एक्ने (PCOS and Acne) के बारे में।

क्या है PCOS?

PCOS और एक्ने (PCOS and Acne)

पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (PCOS) एक तरह का हॉर्मोन डिसऑर्डर है। PCOS की समस्या होने पर महिलाओं के ओवरी में सिस्ट बनने लगते हैं। इन सिस्ट में तरल पदार्थ होता है, जो एक तरह का अपरिपक्व अंडा होता है। इस समस्या से पीड़ित महिलाओं का ओवरी सामान्य से ज्यादा बड़ा हो जाता है। पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम होने की वजह से अनियमित पीरियड्स (Periods), गर्भधारण (Pregnancy) एवं कार्डियक फंक्शन (Cardiac function) पर नेगेटिव प्रभाव डालता है। पीसीओएस (PCOS) की समस्या होने पर चेहरे पर मुंहासे या एक्स्ट्रा बाल आने लगते हैं। दरअसल इसके पीछे महत्वपूर्ण कारण ये माना जाता है कि फीमेल बॉडी में मेल हॉर्मोन का उत्पादन बढ़ने लगता है।

और पढ़ें : Polycystic Ovary Syndrome: पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

क्या है एक्ने? (Acne)

PCOS और एक्ने (PCOS and Acne)

मुंहासे (Pimples or Acne) होने पर चेहरे पर सफेद, काले या लाल दाने आने लगते हैं। कई बार ये दाने दर्द और जलन जैसी समस्या भी पैदा करने लगते हैं। 14 वर्ष से ज्यादा उम्र की महिलाओं में PCOS और एक्ने की समस्या देखी जाती है। PCOS और एक्ने का आपस में क्या है कनेक्शन यह इस आर्टिकल में आगे समझेंगे, लेकिन सबसे पहले इसके लक्षणों को समझने की कोशिश करते हैं।

और पढ़ें : वैजिनायटिस के कारणों की पहचाने के लिए किस तरह से जरूरी है वेट माउंट टेस्ट, जानिए!

PCOS और एक्ने: क्या हैं इसके लक्षण?

पीसीओएस के लक्षण निम्नलिखित हो सकते हैं। जैसे:

  • अनियमित पीरियड्स (Irregular Periods) होना।
  • चेहरे पर दाने (Acne) होना।
  • चेहरे, चेस्ट और बैक में बाल होना।
  • वेट बढ़ना (Weight gain)।
  • वेट कम (Weight loss) करने में परेशानी होना।
  • गले के पिछले हिस्सों में पैच पड़ना।

ऐसे लक्षण पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (PCOS) के हो सकते हैं। वैसे इन लक्षणों के अलावा और भी लक्षण देखे या महसूस किये जा सकते हैं। इन लक्षणों को इग्नोर नहीं करना चाहिए और डॉक्टर से कंसल्टेशन करना चाहिए।

एक्ने की समस्या किन कारणों से होती है, इसे भी समझ लेते हैं।

और पढ़ें : हार्मोनल ग्लैंड के फंक्शन में है प्रॉबल्म, एंडोक्राइन डिसऑर्डर का हो सकता है

PCOS और एक्ने: एक्ने की समस्या किन कारणों से होती हैं?

कील-मुंहासे की समस्या निम्नलिखित कारणों से हो सकती हैं। जैसे:

  • चेहरा अत्यधिक ऑयली (Oily skin) होना
  • डेड स्किन सेल्स की समस्या
  • बैक्टीरिया की समस्या
  • एक्सेस हॉर्मोन एक्टिविटी

इन कारणों के अलावा एक्ने की समस्या निम्नलिखित कारणों से भी हो सकती है। जैसे:

इन कारणों के अलावा एक्ने की समस्या निम्नलिखित कारणों से भी हो सकती है। जैसे:

एक्ने की समस्या इन कारणों की वजह से हो सकती है, जिनमें हॉर्मोनल डिबैलेंस भी खास कारण है। ऐसी स्थिति होने की वजह से ही PCOS और एक्ने (PCOS and Acne) की परेशानी हो सकती है।

ऑर्गेनिक ब्यूटी रेमेडीज☺️से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी के लिए नीचे दिए इस वीडियो पर क्लीक करें।

और पढ़ें : पीसीओडी से ग्रस्त महिलाओं की सेक्स लाइफ पर हो सकता है खतरा, जानें कैसे

कैसे दूर करें PCOS और एक्ने की समस्या?

पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (PCOS) और एक्ने की समस्या से बचने के लिए निम्नलिखित विकल्प अपनाये जा सकते हैं। जैसे:

ओरल कॉन्ट्रासेप्टिव (Oral contraceptives)-

बर्थ कंट्रोल पिल्स (Birth control pills) के सेवन से अनचाहे गर्भधारण से बचने के साथ-साथ एक्ने की समस्या से भी बचा जा सकता है। बर्थ कंट्रोल के सेवन से हॉर्मोन बैलेंस होता है और अनियमित पीरियड्स (Menstrual Cycle) से भी छुटकारा मिलता है।

नोट: बर्थ कंट्रोल पिल्स का सेवन 35 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को नहीं करना चाहिए। अगर आपको ब्रेस्ट कैंसर (Breast cancer), ब्लड क्लॉट (Blood clot) एवं हाय ब्लड प्रेशर (High Blood Pressure) की समस्या रहने पर बर्थ कंट्रोल का सेवन ना करें।

एंटी-एंड्रोजेन ड्रग्स (Anti-androgen drugs)-

टेस्टोस्टेरोन (Testosterone) लेवल को कम रखने के लिए एंटी-एंड्रोजेन ड्रग्स (Anti-androgen drugs) के सेवन की सलाह दी जाती है। इससे महिलाओं में बढ़ने वाले मेल हॉर्मोन के लेवल को कम करने में मदद मिलती है। दरअसल कभी-कभी PCOS एवं हॉर्मोन असंतुलित के कारण शरीर में टेस्टोस्टोरेन लेवल अत्यधिक बढ़ जाता है, जबकि महिलाओं में टेस्टोस्टोरेन लेवल कम रहता है। अगर महिलाओं में टेस्टोस्टोरेन लेवल जरूरत से ज्यादा बढ़ जाए, तो सीबम (Sebum) एवं स्किन सेल्स (Skin cells) एक्ने की समस्या शुरू करने लगते हैं।

ऑइंटमेंट्स (Ointments)-

ओवर-द-काउंटर (OTC) मिलने वाले एंटी एक्ने क्रीम रेटिनॉइड्स (Retinoids) के इस्तेमाल की सलाह दी जाती है। रेटिनॉइड्स का इस्तेमाल एंटी-रिंकल्स क्रीम (Anti wrinkles) के तौर पर भी किया जाता है।

PCOS और एक्ने की समस्या को दूर करने के लिए बर्थ कंट्रोल पिल्स, ड्रग्स एवं ऑइंटमेंट्स के अलावा आहार पर भी ध्यान देना जरूरी है।

और पढ़ें : पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (पीसीओएस) फर्टिलिटी को कर सकता है प्रभावित, जानें क्या करें

पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (PCOS) की समस्या को नीचे दिए इस 3 D मॉडल से आसानी से समझें।

PCOS और एक्ने (PCOS and Acne) की समस्या से बचने के लिए डायट पर ध्यान देना है जरूरी?

नैशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन (NCBI) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार जंक फूड (Junk food), चॉकलेट (Chocolate) एवं फ्रेंच फ्राइस जैसे अन्य खाद्य पदर्थों की वजह से भी एक्ने (Acne) की समस्या शुरू हो सकती है। इन खाद्य पदार्थों के अलावा कुछ ऐसे खाद्य पदार्थों का भी सेवन से बॉडी में इंफ्लेमेशन की समस्या हो सकती है, जो पीसीओएस के कारणों के साथ-साथ एक्ने की भी परेशानी शुरू कर सकते हैं। जैसे: टमाटर, काले, पालक, बादाम, अखरोट, ऑलिव ऑयल, मछली, रेड मीट। पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (PCOS) की समस्या होने पर डायट का विशेष ख्याल रखें, जो PCOS और एक्ने (PCOS and Acne) दोनों की परेशानियों को कम करने में सहायक होते हैं। अगर पीसीओएस की समस्या होने पर एक्ने की समस्या होती है, तो ऐसे में कुछ घरेलू उपाय अपनाये जा सकते हैं।

और पढ़ें : पीरियड्स के दौरान स्ट्रेस को दूर भगाने के लिए अपनाएं ये एक्सपर्ट टिप्स

एक्ने की समस्या होने पर क्या करें? (Tips to avoid acne)

  1. चेहरे को साफ रखें।
  2. कॉस्मेटिक प्रॉडक्ट्स (Cosmetic products) के इस्तेमाल से बचें या अगर मेकअप का इस्तेमाल करती हैं, तो मेकअप को अच्छी तरह से क्लीन करें।
  3. ऑयली खाने से दूर रहें।
  4. नियमित एक्सरसाइज करें। अगर एक्सरसाज या योग करने में परेशानी महसूस होती है, तो वॉक करें।
  5. पानी, जूस और फलों का सेवन करें।

ये उपाय पीसीओएस एवं एक्ने की समस्या के अलावा नियमित अपनाने से स्वस्थ रहा जा सकता है।

और पढ़ें : PCOS से छुटकारा ​पाने में मदद कर सकती है ऐसी डायट, जानें क्या खाना है और क्या नहीं

ध्यान रखें कि पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (PCOS) की समस्या होने पर डॉक्टर से कंसल्ट करें, क्योंकि अगर इस स्थिति में एक्ने या मुंहासे की समस्या होने पर इस परेशानी को हमेशा पीसीओएस (PCOS) से ही जोड़कर ना देखें। कई बार एक्ने (Acne) की समस्या अन्य कारणों की वजह से भी हो सकती है। इसलिए डॉक्टर से कंसल्टेशन करें और उचित इलाज करवाएं।

हेल्दी स्किन और मेकअप से जुड़ी आप रखती हैं कितनी जानकारी? नीचे दिए इस क्विज को खेलें और जानें अपना स्कोर 🕵🏻‍♀️

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

सायकल की लेंथ

(दिन)

28

ऑब्जेक्टिव्स

(दिन)

7

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

What Is Polycystic Ovary Syndrome (PCOS), and How Does It Affect Acne?/https://www.acne.org/what-is-polycystic-ovary-syndrome-and-how-does-it-affect-acne.html/Accessed on 20/04/2021

Polycystic Ovary Syndrome (PCOS)/https://www.hopkinsmedicine.org/health/conditions-and-diseases/polycystic-ovary-syndrome-pcos/Accessed on 20/04/2021

Polycystic Ovary Syndrome/https://www.womenshealth.gov/a-z-topics/polycystic-ovary-syndrome#:~:text=Women%20with%20PCOS%20have%20more,acne%2C%20two%20signs%20of%20PCOS./Accessed on 20/04/2021

Update on Management of Polycystic Ovarian Syndrome for Dermatologists/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6434760/Accessed on 20/04/2021

लेखक की तस्वीर badge
Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 20/04/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड