home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

ओरल मेलिग्नेंट मेलेनोमा (Oral Malignant Melanoma) : कैंसर के इस प्रकार के बारे में जानते हैं आप?

ओरल मेलिग्नेंट मेलेनोमा (Oral Malignant Melanoma) : कैंसर के इस प्रकार के बारे में जानते हैं आप?

मेलेनोमा को ही मेलिग्नेंट मेलेनोमा कहा जाता है, जो एक तरह का स्किन कैंसर है। यह स्किन कैंसर पिग्मेंट प्रोड्यूसिंग सेल्स (Pigment-Producing Cells) (जिन्हें मेलानोसाइट्स कहा जाता है) से विकसित होता है। मेलेनोमा आमतौर पर स्किन में होता है, लेकिन मुंह, आंख और इंटेंस्टाइन में भी इसके होने की संभावना हो सकती है। मुंह में होने वाले मेलेनोमा को ओरल मेलिग्नेंट मेलेनोमा (Oral Malignant Melanoma) कहा जाता है। आज हम इसी कैंसर के बारे में बात करने वाले हैं, जो बेहद गंभीर भी हो सकता है। जानिए ओरल मेलिग्नेंट मेलेनोमा (Oral Malignant Melanoma) के बारे में विस्तार से:

ओरल मेलिग्नेंट मेलेनोमा क्या है? (Oral Malignant Melanoma)

मेलिग्नेंट मेलेनोमा उन सेल्स में होता है, जो ब्लैक पिग्मेंट मेलेनिन (Black Pigment Melanin) बनाते हैं। ओरल मेलिग्नेंट मेलेनोमा (Oral Malignant Melanoma) एक दुर्लभ म्यूकोसल मेलेनोमा है, जो ओरल कैविटी की म्यूकस मेम्ब्रेन (Mucus Membrane) से विकसित होता है। इसे ओरल कैविटी का मेलिग्नेंट मेलेनोमा (Malignant Melanoma of the Oral Cavity) और मुंह का मेलिग्नेंट मेलेनोमा (Malignant Melanoma of the Mouth) भी कहा जाता है। ओरल कैविटी को प्रभावित करने वाला प्रायमरी मेलेनोमा बहुत दुर्लभ है, लेकिन फिर भी मुंह के मेटास्टैटिक म्यूकोसल मेलेनोमा (Metastatic Mucosal Melanoma) को पहचानना बहुत जरूरी है, जो गाल और जीभ को भी प्रभावित कर सकता है।

इस समस्या का निदान बायोप्सी (Biopsy) या अन्य इमेजिंग टेस्ट्स (Imaging Tests) से किया जा सकता है और इसे रिमूव करने के लिए सर्जरी का प्रयोग किया जाता है। इसके साथ ही इसके उपचार के लिए कीमोथेरेपी का इस्तेमाल भी किया जा सकता है। जानिए क्या हैं इसके कारण और रिस्क फैक्टर्स?

और पढ़ें : स्किन कैंसर के संकेत देते हैं ये लक्षण, भूलकर भी न करें नजरअंदाज

ओरल मेलिग्नेंट मेलेनोमा के कारण (Causes of Oral Malignant Melanoma)

ओरल मेलिग्नेंट मेलेनोमा (Oral Malignant Melanoma) के सही कारण क्या हैं, इसकी जानकारी मौजूद नहीं है। लेकिन इसके होने की संभावनाएं इन स्थितियों में बढ़ सकती हैं:

  • कुछ अध्ययन यह बताते हैं कि केमिकल और फिजिकल स्टिमुलेशन दोनों ओरल एपिथेलियम (Oral Epithelium) में मेलानोसाइट्स (Melanocytes) की प्रोडक्शन को बढ़ाने का कारण बनती हैं। ओरल एपिथेलियम (Oral Epithelium) मुंह के अंदर की लायनिंग को कहा जाता है और इसका कारण है पिग्मेंटेड घाव (Pigmented Lesions)।
  • म्यूकोसल मेलनोमास (Mucosal Melanomas) में अधिकतर प्रोटीन में बदलाव शामिल होता है, जो सेल सर्वाइवल (Cell survival), प्रोलाइफरेशन और डिफ्रेंटिएशन (differentiation) का कारण बनता है। इसके अलावा भी इस कैंसर के कई कारण हो सकते हैं। ओरल मेलिग्नेंट मेलेनोमा (Oral Malignant Melanoma) के रिस्क फैक्टर इस प्रकार हैं:

और पढ़ें : बिनाइन स्किन कैंसर क्या है, जानिए इसके बारे में अहम जानकारी

ओरल मेलिग्नेंट मेलेनोमा के रिस्क फैक्टर (Risk Factors of Oral Malignant Melanoma)

ओरल मेलिग्नेंट मेलेनोमा (Oral Malignant Melanoma) की संभावना 50-60 साल के पुरुषों और 60-70 साल की महिलाओं को अधिक होती है, हालांकि, इससे कम उम्र के लोगों को भी इसके होने की संभावना रहती है ।इस समस्या से जुड़े रिस्क फैक्टर्स के बारे में सही जानकारी नहीं है। लेकिन कुछ खास स्थितियों में इसकी संभावना बढ़ सकती है जैसे तंबाकू (Tobacco), स्मोकिंग (Smoking) या अन्य कैंसर प्रोड्यूसिंग चीजों (Cancer Producing Substances) का सेवन करने से। लेकिन रिस्क फैक्टर का यह अर्थ नहीं है कि किसी व्यक्ति को यह समस्या होगी ही। हालांकि, इससे यह रोग होने का जोखिम बढ़ सकता है। इसके साथ ही रिस्क फैक्टर का यह अर्थ भी नहीं है कि किसी को यह समस्या नहीं होगी। ऐसे में इन रिस्क फैक्टर्स के बारे में अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर की सलाह लें। अब जानिए क्या हैं इसके लक्षण?

और पढ़ें : स्किन कैंसर के 10 लक्षण, जिन्हें आप अनदेखा न करें

ओरल मेलिग्नेंट मेलेनोमा के लक्षण (Symptoms of Oral Malignant Melanoma)

नेशनल इंस्टीटूट्स ऑफ हेल्थ (National Institutes of Health) के अनुसार ओरल मेलिग्नेंट मेलेनोमा (Oral Malignant Melanoma) एक रेयर कैंसर है जो ओरल कैविटी के अन्य मेलिग्नेंट ट्यूमर की तुलना में अधिक तेजी से फैलता है। लेकिन, अगर इस समस्या का निदान शुरू में ही हो जाता है, तो सौ प्रतिशत इसका इलाज संभव है। मेलिग्नेंट मेलेनोमा म्यूकोसल पिंक से भूरे और नीले से काले घावों के और अल्सर के साथ बिना अल्सर के हो सकते हैं। ओरल मेलिग्नेंट मेलेनोमा के लक्षण इस प्रकार हैं :

  • मुंह के अंदर पिग्मेंटेड घाव या मास का होना, हालांकि कुछ घाव पिग्मेंटेड नहीं होते हैं जिन्हें मेलेनोटिक मेलेनोमा (Melanotic Melanoma) कहा जाता है।
  • मेलेनोमा के दुर्लभ मामलों में यह जीभ को भी प्रभावित करता है।
  • दर्दभरा ओरल घाव जो ब्लीडिंग (Bleeding) और अल्सरेशन (Ulceration) का कारण बन सकता है।
  • चबाने या निगलने में समस्या या दर्द होना।

इसके साथ ही ओरल मेलिग्नेंट मेलेनोमा (Oral Malignant Melanoma) के अन्य लक्षण भी नजर आ सकते हैं जैसे थकावट, वजन का कम होना, भूख न लगना या जी मचलना आदि। अगर आपको कोई भी लक्षण नजर आता है तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लेना जरुरी है। इस कैंसर का निदान इस तरह से हो सकता है।

और पढ़ें : Skin Disorders : चर्म रोग (त्वचा विकार) क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

ओरल मेलिग्नेंट मेलेनोमा का निदान (Diagnosis of Oral Malignant Melanoma)

ओरल मेलिग्नेंट मेलेनोमा (Oral Malignant Melanoma) के निदान के लिए डॉक्टर सबसे पहले रोगी से उसके लक्षणों के बारे में जानते हैं। इसके बाद रोगी की मेडिकल हिस्ट्री (Medical History) जानी जाती और इसके साथ ही शारीरिक जांच भी की जा सकती है। यही नहीं, डॉक्टर कुछ अन्य टेस्ट कराने की सलाह भी दे सकते हैं, जो इस प्रकार हैं:

  • घाव की बायोप्सी (Biopsy of lesions): इस टेस्ट में सेल्स के सैंपल लिए जाते हैं और उसके बाद इनका टेस्ट कराया जाता है ताकि कैंसर है या नहीं इसके बारे में जाना जा सके।
  • थिसेंटिनल लिम्फ नोड बायोप्सी (Sentinel Lymph Node Biopsy): थिसेंटिनल लिम्फ नोड इम्यून सेल्स का एक संग्रह है, जो कैंसर क्षेत्र के सबसे करीब होते हैं। इनका सैंपल ले कर भी टेस्ट कराया जा सकता है।
  • इमेजिंग टेस्ट (Imaging test) : कैंसर की स्थिति और साइज आदि के बारे में जानने के लिए डॉक्टर मैग्नेटिक रेजोनेंस इमेजिंग (Magnetic resonance imaging) की सलाह देते हैं। अगर डॉक्टर को यह संदेह हो कि मेलेनोमा इंटरनल ऑर्गन तक फैल चुका है, तो डॉक्टर प्रभावित स्थान के अन्य इमेजिंग टेस्ट जैसे एक्स रे (X -Ray), सिटी स्कैन (CT Scan) आदि की सलाह भी दे सकते हैं। ऊपर दिए टेस्ट्स के अलावा भी डॉक्टर रोगी और कैंसर की स्थिति में अनुसार अन्य टेस्ट करा सकते हैं।

दांतों की साफ-सफाई कैसे करते हैं आप? क्विज से जानें अपने दांतों की हालत

लेकिन कई क्लीनिकल कंडीशन के लक्षण भी इस कैंसर के समान लक्षण हो सकते हैं। ऐसे में, डॉक्टर इन संभावनाओं को खारिज करने के लिए अन्य टेस्ट करने की सलाह भी दे सकते हैं। समस्या के बढ़ने पर ओरल मेलिग्नेंट मेलेनोमा (Oral Malignant Melanoma) शरीर में अन्य भागों में भी फैल सकते हैं। यह जिन अंगों तक यह फैल सकते हैं, वो इस प्रकार हैं:

इन स्थितियों में तुरंत निदान और उपचार जरुरी है। इस समस्या के उपचार के लिए कई तरीके अपनाये जा सकते हैं। यह तरीके इस प्रकार हैं।

और पढ़ें : आपके शरीर में दिखने वाले स्किन टैग, हो सकते हैं डायबिटीज का संकेत…

ओरल मेलिग्नेंट मेलेनोमा का उपचार कैसे किया जाता है? (Treatment of Oral Malignant Melanoma)

ओरल मेलिग्नेंट मेलेनोमा (Oral Malignant Melanoma) एक दुर्लभ कैंसर है, लेकिन इसका उपचार कई तरीकों से संभव है। जिनमें से कुछ इस प्रकार हैं:

  • सर्जरी (Surgery) : सर्जरी से ट्यूमर को रिमूव किया जा सकता है।
  • कीमोथेरेपी (Chemotherapy) : कीमोथेरेपी में ड्रग्स का प्रयोग कर के कैंसर सेल्स को नष्ट किया जा सकता है। हालांकि, इसके कुछ साइड-इफेक्ट्स भी हो सकते हैं। जैसे जी मचलना, हेयर लॉस, डायरिया, थकावट, इंफेक्शन का जोखिम का बढ़ाना आदि।
  • इम्यूनोथेरेपी (Immunotherapy) : इस थेरेपी में मरीज के इम्यून सिस्टम को बूस्ट किया जाता है ताकि इम्यून सिस्टम कैंसर सेल्स पर अटैक कर सके। इसके कुछ साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं जैसे फ्लू जैसे लक्षण, बुखार, सिरदर्द, मसल्स पेन आदि।

इनके अलावा भी डॉक्टर उपचार के कुछ अन्य तरीकों की सलाह भी दे सकते हैं। यह उपचार रोगी की स्थिति, कैंसर की स्टेज और कैंसर कितना फैल चुका है। इन सब तरीकों पर निर्भर करता है। इस बारे में डॉक्टर सही निर्णय ले सकते हैं।

और पढ़ें : पीनायल मेलेनोमा : कितना गंभीर है पीनस का ये कैंसर? जानिए!

क्या ओरल मेलिग्नेंट मेलेनोमा से बचाव संभव है? (Prevention of Oral Malignant Melanoma)

अभी इस कैंसर से बचने के लिए कोई संभव तरीका ज्ञात नहीं है। लेकिन कुछ तरीकों से इस गंभीर और रेयर कैंसर से कुछ हद तक बचाव संभव है। यह तरीके इस प्रकार हैं:

  • तंबाकू के सेवन से बचें (Avoid Tobacco) : तंबाकू मुंह के कैंसर या ओरल मेलिग्नेंट मेलेनोमा (Oral Malignant Melanoma) का बहुत बड़ा कारण है। ऐसे में अगर आप इस समस्या से बचना चाहते हैं तो सबसे पहले तंबाकू का सेवन करना छोड़ दें। फिर चाहे स्मोकिंग के माध्यम से इसे लेना हो या चबाना। अगर आप तंबाकू का सेवन नहीं करते हैं, तो कभी भी इसकी आदत न डालें। तंबाकू से कैंसर का कारण बनने वाले केमिकल मुंह में जाते हैं।
  • शराब की मात्रा सीमित हो (Limit amount of Alcohol) : शराब की मात्रा को सीमित रखें। अत्यधिक अल्कोहल का सेवन करने से मुंह के सेल्स में समस्या हो सकती है। कैंसर या किसी भी हेल्थ कंडीशंस की स्थिति से बचने के लिए शराब का सेवन न करने की सलाह दी जाती है।
  • होंठों के सन एक्सपोजर से बचें (Avoid Sun Exposure) : अपने होंठों की त्वचा को सूरज की किरणों से बचाएं, और जितना हो सके छाया में रहें। सनस्क्रीन लिप प्रोडक्ट का प्रयोग कर के भी इससे बच सकते हैं।
  • डेंटिस्ट से नियमित जांच (Routine Dental Checkup): अधिकतर लोग दांतों के स्वास्थ्य को अधिक महत्व नहीं देते हैं लेकिन ओरल हेल्थ भी उतनी ही अवश्य है। जितनी शरीर के अन्य अंगों का स्वास्थ्य। ऐसे में अपने डेंटिस्ट से नियमित रूप से मुंह की जांच कराएं। ताकि माउथ कैंसर या अन्य किसी समस्या से बचा जा सके

और पढ़ें : स्क्रब के इस्तेमाल से स्किन कैंसर का खतरा बढ़ सकता है, फॉलो करें एक्सपर्ट टिप्स

यह तो थी ओरल मेलिग्नेंट मेलेनोमा (Oral Malignant Melanoma) के बारे में पूरी जानकारी। किसी भी ओरल समस्या या कैंसर से बचने का सबसे बेहतरीन उपाय है नियमित रूप से जांच, तंबाकू से दूरी और कोई भी समस्या होने पर शुरुआत में ही इसका निदान। अगर ओरल मेलिग्नेंट मेलेनोमा (Oral Malignant Melanoma) का शुरू में ही निदान हो जाता है तो इसका उपचार भी संभव है और इसके साथ ही मरीज जल्दी रिकवर भी हो सकता है। इसके साथ ही डॉक्टर मरीज को अच्छी आदतें अपनाने के लिए भी कह सकते हैं जैसे सही आहार का सेवन, व्यायाम, पर्याप्त नींद और तनाव से बचाव। इनसे न केवल कैंसर से बचाव हो सकता है बल्कि आप संपूर्ण रूप से भी हेल्दी रह सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Oral Malignant Melanoma. https://oralcancerfoundation.org/facts/rare/oral-malignant-melanoma/ .Accessed on 20/6/21

Oral malignant melanoma: A silent killer?. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3283947/  .Accessed on 20/6/21

Oral Malignant Melanoma: A Brief Review. https://www.omicsonline.org/open-access/oral-malignant-melanoma-a-brief-review-2161-0681-1000294.php?aid=81201  .Accessed on 20/6/21

Oral malignant melanoma: History of malignant degeneration. https://www.jomos.org/articles/mbcb/pdf/2019/02/mbcb180064.pdf .Accessed on 20/6/21

Oral malignant melanoma. https://www.jomos.org/articles/mbcb/full_html/2019/02/mbcb180064/mbcb180064.html .Accessed on 20/6/21

Oral malignant melanoma: A rare malignancy. https://www.cjhr.org/article.asp?issn=2348-3334;year=2015;volume=2;issue=2;spage=145;epage=147;aulast=Vagish  .Accessed on 20/6/21

लेखक की तस्वीर badge
AnuSharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 21/06/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड