home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Vildagliptin tablets: जानिए डायबिटीज में विल्डग्लिप्टिन टेबलेट के फायदे और नुकसान

Vildagliptin tablets: जानिए डायबिटीज में विल्डग्लिप्टिन टेबलेट के फायदे और नुकसान

अमेरिकन डायबिटीज एसोसिएशन (American Diabetes Association) में पब्लिश्ड रिसर्च रिपोर्ट्स के अनुसार भारत में टाइप 2 डायबिटीज (Type 2 Diabetes) की मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है। रिसर्च रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि कम उम्र के लोगो में भी टाइप 2 डायबिटीज की समस्या ज्यादा देखी जा रही है। ऐसे में डायबिटीज में विल्डग्लिप्टिन टेबलेट (Vildagliptin tablets for diabetes) का विकल्प अपनाया जा सकता है, लेकिन डॉक्टर से कंसल्टेशन के बाद। आज इस आर्टिकल में टाइप 2 डायबिटी एवं डायबिटीज में विल्डग्लिप्टिन टेबलेट (Vildagliptin tablets for diabetes) से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी आपसे शेयर करें।

और पढ़ें : डायबिटीज है! इन्सुलिन प्लांट स्टीविया का कर सकते हैं सेवन, लेकिन डॉक्टर के इजाजत के बाद!

टाइप 2 डायबिटीज (Type 2 Diabetes) की समस्या क्या है?

डायबिटीज में विल्डग्लिप्टिन टेबलेट (Vildagliptin tablets for diabetes)

टाइप 2 डायबिटीज की समस्या की समस्या को अगर आसान शब्दों में समझें, तो जब पैंक्रियाज से इंसुलिन का निर्माण तो होता है, लेकिन बॉडी उस इंसुलिन का इस्तेमाल नहीं कर पाती है। ऐसी स्थिति में ब्लड शुगर लेवल बढ़ने लगता है, जिसे टाइप 2 डायबिटीज (Type 2 Diabetes) कहते हैं। डायबिटीज की समस्या होने पर डॉक्टर अलग-अलग डायबिटीज मेडिकेशन (Diabetes medication) या जरूरत पड़ने पर इंसुलिन इंजेक्शन लेने (Insulin injection) की भी सलाह देते हैं। इसलिए आज इस आर्टिकल में डायबिटीज में विल्डग्लिप्टिन टेबलेट के फायदे और इससे जुड़ी कई अन्य महत्वपूर्ण बातों को आर्टिकल में आगे जानेंगे।

और पढ़ें : जानें सुबह क्यों बढ़ जाता है ब्लड शुगर का लेवल?

विल्डग्लिप्टिन टेबलेट (Vildagliptin tablets) क्या है?

नैशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन (National Center for Biotechnology Information) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार विल्डग्लिप्टिन टेबलेट टाइप 2 डायबिटीज पेशेंट के लिए नई ओरल टेबलेट है। डायबिटीज में विल्डग्लिप्टिन टेबलेट DPP-4 इन्हिबिटर्स की श्रेणी से आता है। यहां DPP-4 का अर्थ है डायपेप्टिडाइल पेप्टिडेज-4 (Dipeptidyl peptidase-4)। यह दवा पैंक्रियाज द्वारा बनने वाले इंसुलिन का शरीर बेहतर तरीका से उपयोग कर सके, इसमें सहायक होता है। अगर इसे संक्षेप में समझें, तो डायबिटीज में विल्डग्लिप्टिन टेबलेट के सेवन से ब्लड शुगर लेवल को बैलेंस में रखने में मदद मिलती है। डायबिटीज में विल्डग्लिप्टिन टेबलेट के उपयोग के बारे में इस आर्टिकल में आगे समझेंगे।

और पढ़ें : डायबिटीज में गिलोय एंटी-डायबेटिक की तरह करता है काम, लेकिन बिना डॉक्टर के एडवाइस के सेवन करने से हो सकते हैं साइड इफेक्ट्स!

डायबिटीज में विल्डग्लिप्टिन टेबलेट का उपयोग कैसे करें? (Use of Vildagliptin in Type 2 Diabetes)

टाइप 2 डायबिटीज में विल्डग्लिप्टिन टेबलेट का उपयोग लाभकारी माना जाता है। अगर आप जिम जाते हैं और टाइप 2 डायबिटीज की समस्या से पीड़ित हैं, तो ऐसे में भी विल्डग्लिप्टिन टेबलेट का सेवन किया जा सकता है। विल्डग्लिप्टिन टेबलेट के सेवन से ब्लड शुगर लेवल (Blood Sugar Level) कंट्रोल रहता है। दरअसल विल्डग्लिप्टिन टेबलेट पैंक्रियाज को इन्सुलिन निर्माण में सहायता प्रदान करता है और वैसे हॉर्मोन्स को कम करने में सक्षम माना जाता है, जिनकी वजह से ब्लड शुगर लेवल बढ़ने की संभावना ज्यादा होती है। टाइप 2 डायबिटीज में विल्डग्लिप्टिन टेबलेट (Vildagliptin tablets for diabetes) या मधुमेह में विल्डग्लिप्टिन टेबलेट के सेवन से फास्टिंग या पोस्ट मील दोनों की वक्त में ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल रह सकता है। डायबिटीज के मरीजों के लिए ये अत्यधिक लाभकारी दवा मानी जाती है, लेकिन इसके साइड इफेक्ट्स भी देखे जा सकते हैं।

और पढ़ें : डायबिटिक नेफरोपैथी में एसीई इनहिबिटर्स ड्रग्स से जुड़ी जानकारी है यहां!

डायबिटीज में विल्डग्लिप्टिन टेबलेट के साइड इफेक्ट्स क्या हो सकते हैं? (Side effects of Vildagliptin tablets)

टाइप 2 डायबिटीज पेशेंट के लिए विल्डग्लिप्टिन टेबलेट लाभकारी तो है, लेकिन इसके सेवन से निम्नलिखित साइड इफेक्ट्स देखे जा सकते हैं। जैसे:

  • सिरदर्द (Headache) होना।
  • कफ (Cough) की समस्या होना।
  • कब्ज (Constipation) की समस्या होना।
  • अत्यधिक पसीना (Sweating) आना
  • हाइपोग्लाइसीमिया (Hypoglycemia) की समस्या होना।
  • कमजोरी (Weakness) महसूस होना।
  • सीने में जलन (Heartburn) महसूस होना।
  • चेहरे, होंठ या आंखों की पलकों पर सूजन (Swelling) आना।

कॉमन साइड इफेक्ट्स के लिए डॉक्टर से कंसल्टेशन की जरूरत नहीं होती है और जैसे ही दवा का सेवन करना आप रोजाना शुरू करते हैं, तो धीरे-धीरे ये तकलीफें भी दूर होने लगती है। हालांकि अगर इस दवा के सेवन से कोई गंभीर समस्या होती है, तो ऐसे में डॉक्टर से जल्द से जल्द कंसल्टेशन आवश्यक माना जाता है।

और पढ़ें : Huminsulin N: जानिए डायबिटीज पेशेंट के लिए ह्युमिनसुलिन एन के फायदे और नुकसान

विल्डग्लिप्टिन टेबलेट के दौरान किन-किन बातों का ध्यान रखें? (Precautions before taking Vildagliptin tablets)

डायबिटीज में विल्डग्लिप्टिन टेबलेट (Vildagliptin tablets for diabetes) या मधुमेह में विल्डग्लिप्टिन टेबलेट के सेवन से पहले इस बात का ध्यान रखें कि अगर आपको एलर्जी की समस्या है, तो अपने हेल्थ एक्सपर्ट को जरूर बताएं। क्योंकि विल्डग्लिप्टिन टेबलेट में मौजूद इनेक्टिव इंग्रीडिएंट्स से एलर्जी की समस्या और ज्यादा बढ़ सकती है। वहीं अगर आप डायबिटीज (Diabetes) के अलावा किसी अन्य बीमारी से पीड़ित हैं, तो इसकी जानकारी भी दें।

नोट: अगर आप किसी भी तरह के दवाओं का सेवन करते हैं, तो विल्डग्लिप्टिन टेबलेट के सेवन से पहले अपने डॉक्टर को इसकी जानकारी जरूर दें।

और पढ़ें : डायबिटीज है! पनीर डोडा का कर सकते हैं सेवन, लेकिन डॉक्टर के इजाजत के बाद!

टाइप 2 डायबिटीज में विल्डग्लिप्टिन टेबलेट की डोज मिस होने पर क्या करें?

अगर दवा की डोज मिस हो गई है, तो याद आते ही विल्डग्लिप्टिन टेबलेट का सेवन करें। हालांकि अगर दवा के दूसरे डोज का वक्त हो चूका है, तो मिस्ड डोज को स्किप करें। ध्यान रखें एक बार में दोनों डोज लेना नुकसानदायक दो सकता है।

ओवर डोज हो सकता है खतरनाक! (Risk factors of overdose of Vildagliptin tablets)

अगर विल्डग्लिप्टिन टेबलेट का सेवन प्रिस्क्राइब्ड डोज से ज्यादा किया जाता है, तो डायबिटीज पेशेंट में निम्नलिखित बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। जैसे:

इन ऊपर दी गई परेशानियों से बचने के लिए हमेशा डॉक्टर द्वारा प्रिस्क्राइब्ड डोज का ही सेवन करें।

नोट: प्रेग्नेंसी (Pregnancy) या ब्रेस्टफीडिंग (Breastfeeding) के दौरान विल्डग्लिप्टिन टेबलेट का सेवन नुकसानदायक हो सकती है। इसलिए अगर आप प्रेग्नेंट हैं या ब्रेस्टफीडिंग करवाती हैं, तो इस दवा के सेवन से पहले इसकी जानकारी अपने डॉक्टर को जरूर दें।

और पढ़ें : कहीं बढ़ता ब्लड शुगर लेवल हायपरग्लायसेमिक हायपरोस्मोलर सिंड्रोम का कारण ना बन जाए?

स्वस्थ रहने के लिए अपने दिनचर्या में योगासन शामिल करें। नीचे दिए इस वीडियो लिंक पर क्लिक कर योग करने का सही तरीका और नियमित योग करने के फायदे जानिए।

और पढ़ें : फास्टिंग के दौरान डायबिटीज के मरीज रखें इन बातों का रखें ध्यान

विल्डग्लिप्टिन टेबलेट को स्टोर कैसे करें? (Storage of Vildagliptin tablets)

विल्डग्लिप्टिन टेबलेट को धूप या गर्म स्थानों पर ना रखें और बच्चों के पहुंच से भी दवा को दूर रखें। दवा को 68ºF से 77ºF टेम्प्रेचर पर स्टोर किया जा सकता है।

डायबिटीज पेशेंट के लिए इंसुलिन या दवाएं लाभकारी मानी जाती है। अमेरिकन डायबिटीज असोसिएशन (American Diabetes Association) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार डायबिटीज पेशेंट इंसुलिन पेन् का इस्तेमाल आसानी से करते हैं। वहीं नैशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन (NCBI) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार 73 प्रतिशत डायबिटीज पेशेंट इंसुलिन पेन् (Insulin Pen) का इस्तेमाल करते हैं। ठीक वैसे ही डायबिटीज की दवाओं का भी सेवन किया जाता है। इसलिए अगर आप डायबिटीज के शिकार हैं और डायबिटीज में विल्डग्लिप्टिन टेबलेट (Vildagliptin tablets for diabetes) या मधुमेह में विल्डग्लिप्टिन टेबलेट लेने की सलाह डॉक्टर द्वारा दी गई है, तो इसके डोज का विशेष ध्यान रखें और जितनी डोज प्रिस्क्राइब की गई है, उतनी ही लें। अगर विल्डग्लिप्टिन टेबलेट लेने के बाद कोई परेशानी महसूस होती है, तो डॉक्टर को जरूर इस बारे में जरूर बतायें। अगर आप डायबिटीज या विल्डग्लिप्टिन टेबलेट से जुड़े अपने किसी सवालों का जवाब जानना चाहते हैं, तो आप हमें कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं।

डायबिटीज पेशेंट डायबिटिक दवाओं एवं इन्सुलिन इंजेक्शन की मदद से ब्लड शुगर लेवल बैलेंस रखने की कोशिश करते हैं, लेकिन इन सबके साथ डायबिटीज पेशेंट को डायट का भी विशेष ख्याल रखना चाहिए। इसलिए नीचे दिए इस क्विज को खेलिए और डायबिटिक डायट से जुड़ी सवालों के जवाब जानिए।

(function() { var qs,js,q,s,d=document, gi=d.getElementById, ce=d.createElement, gt=d.getElementsByTagName, id=”typef_orm”, b=”https://embed.typeform.com/”; if(!gi.call(d,id)) { js=ce.call(d,”script”); js.id=id; js.src=b+”embed.js”; q=gt.call(d,”script”)[0]; q.parentNode.insertBefore(js,q) } })()

powered by Typeform
health-tool-icon

बीएमआई कैलक्युलेटर

अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Combination treatment in the management of type 2 diabetes: focus on vildagliptin and metformin as a single tablet/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2515409/Accessed on 16/08/2021

Vildagliptin tablets/https://www.medicines.org.uk/emc/medicine/20734#gref/Accessed on 16/08/2021

Vildagliptin tablets/https://bpac.org.nz/2021/diabetes-vildagliptin.aspx/Accessed on 16/08/2021

Effects of Vildagliptin and Metformin on Blood Pressure and Heart Rate Responses to Small Intestinal Glucose in Type 2 Diabetes/https://care.diabetesjournals.org/content/40/5/702/Accessed on 16/08/2021

Vildagliptin /https://www.healthnavigator.org.nz/medicines/v/vildagliptin/Accessed on 16/08/2021

Vildagliptin: a new oral treatment for type 2 diabetes mellitus/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2663430/Accessed on 16/08/2021

 

लेखक की तस्वीर badge
Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट कुछ दिन पहले को
Sayali Chaudhari के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x