home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

प्रदूषण के कारण बंद या जमे हुए पोर्स से छुटकारा पाएं इन आयुर्वेदिक तरीकों से

प्रदूषण के कारण बंद या जमे हुए पोर्स से छुटकारा पाएं इन आयुर्वेदिक तरीकों से

शरीर के साथ ही अपनी त्वचा को स्वस्थ रखने की इच्छा सब की होती है। बेजान त्वचा और बंद या जमे हुए पोर्स हर किसी के लिए बुरे सपने की तरह हैं। अगर आपके शहर में प्रदूषण का स्तर अधिक है तो वहां स्वस्थ त्वचा की कल्पना करना थोड़ा मुश्किल हो सकता है। प्रदूषण और स्मोग के कारण हमें और हमारी त्वचा दोनों को सांस लेने में समस्या होती है। जिससे त्वचा को नुकसान हो सकता है। कई बार इससे त्वचा को अन्य गंभीर परेशानियां भी हो सकती हैं जैसे रेडनेस, रोजेशिया (rosacea) और एक्जिमा आदि। जानिए, प्रदूषण के कारण बंद पोर्स(clogged pores due to pollution) के आयुर्वेदिक उपचारों के बारे में।

अधिक बंद पोर्स(extremely clogged pores) के लिए आयुर्वेद के फायदे

यह बात तो सबको पता है कि प्रदूषण और स्मॉग के कारण शरीर और हमारी त्वचा दोनों को नुकसान होता है। इसके कारण समय से पहले उम्र बढ़ने के कुछ लक्षण दिखाई देते हैं जैसे फाइन लाइन, झुर्रियां, रेडनेस और मुहांसे आदि। प्रदूषण के स्त्रोत जैसे वाहन, फैक्ट्रियों और अन्य जगहों से निकलने वाले धुएं में नाइट्रोजन डाइऑक्साइड होती है, जिससे त्वचा पर काले धब्बे बन सकते हैं। प्रदूषण के कारण बंद पोर्स(clogged pores due to pollution) की समस्या और अधिक बढ़ सकती हैं। अक्सर हम त्वचा की समस्याओं को दूर करने के लिए बाजार में उपलब्ध उत्पादों को खरीदते हैं। लेकिन, केमिकल युक्त होने के कारण इनसे त्वचा की समस्याएं ठीक नहीं होती, बल्कि बढ़ सकती हैं।

यह भी पढ़ें: सर्दियों में त्वचा हो जाती है बेजान, इन टिप्स को अपनाकर डाल सकते हैं नई जान

हम लोग बहुत भाग्यशाली हैं कि हमारे पास आयुर्वेद जैसा वरदान है। जिसमें प्राकृतिक उत्पादों के साथ आयुर्वेद चमत्कारी परिणाम दे सकता है। यहां कुछ आयुर्वेदिक टिप्स दिए गए हैं जो प्रदूषण के खतरनाक स्तर से लड़ने में आपकी मदद करेंगे और प्रदूषण के कारण बंद पोर्स(clogged pores due to pollution) की समस्या को दूर करने में भी सहायक होंगे।

आयुर्वेद से करें प्रदूषण के कारण बंद पोर्स(clogged pores due to pollution) का उपचार

आयुर्वेदिक उपायों से आप बंद पोर्स का घर पर उपचार(clogged pores treatment at home) कर सकते हैं। इससे न केवल आपकी यह समस्या दूर होगी बल्कि आपको त्वचा में अच्छा बदलाव भी महसूस होगा। जानिए कौन से हैं वो तरीके, जिनसे बंद पोर्स को हटाना(clogged pores removal) आसान हो सकता है।

अधिक बंद पोर्स(extremely clogged pores) के लिए शहद का प्रयोग

शहद में एंटीबैक्टीरियल और एंटीसेप्टिक दोनों गुण होते हैं। जो कीटाणुओं या अशुद्धियों को दूर करके ब्लैकहेडस को हटाने में मदद करते हैं।

कैसे करें उपयोग

  • एक चम्मच में थोड़ा सा शहद लें और उसे हल्का गर्म कर लें।
  • अब इस हलके गर्म शहद को ब्लैकहैडस पर लगाएं और दस मिनटों तक लगा कर रखें।
  • इसके बाद किसी गर्म कपडे से इसे हटा लें।
  • इस शहद को आप रात भर भी लगा कर रख सकते हैं। इससे आपको अच्छे परिणाम देखने को मिलेंगे।
  • रोजाना इस तरीके को अपनाने से प्रदूषण के कारण बंद पोर्स(clogged pores due to pollution) खुल जाएंगे और ब्लैकहैडस दूर होंगे।

शहद

यह भी पढ़ें: ड्राई स्किन से हैं परेशान? तुरंत फॉलो करें रूखी त्वचा के लिए ये डायट

बेकिंग सोडा

बंद पोर्स को हटाना(clogged pores removal) आपके लिए आसान हो जाएगा, अगर आप बेकिंग सोडा का प्रयोग करेंगे। इसमें कोई संदेह नहीं है कि बेकिंग सोडा मुहांसे,नाक पर बंद पोर(clogged pores on nose) और ब्लैकहैडस के लिए बेहतरीन उपचार है। त्वचा से संबंधित कई समस्याओं को दूर करने में इसका प्रयोग किया जाता है।

आयुर्वेदिक ब्यूटी रोमेडीज, योग एवं स्वास्थ्य से जुड़ी जानकारी के लिए क्लिक करें

कैसे करें उपयोग

  • आयुर्वेद के प्रदूषण के कारण बंद पोर्स(clogged pores due to pollution) को खोलने के तरीके के लिए आपको केवल एक चम्मच बेकिंग सोडा की जरूरत है।
  • दो चम्मच बेकिंग सोडा को पानी के साथ मिलाएं, ताकि यह एक अच्छा मिश्रण बन जाए।
  • अब इस मिश्रण को अपने चेहरे पर लगाएं।
  • इससे लगभग तीन मिनटों तक मालिश करें
  • बीस मिनटों तक इस मिश्रण को ऐसे ही चेहरे पर लगे रहने दें।
  • इसके बाद इसे गर्म पानी से धो दें।
  • अच्छे परिणाम के लिए इस मिश्रण का हफ्ते में दो बार प्रयोग करें।

बेकिंग सोडा

हल्दी और पुदीने का जूस

बंद पोर्स का घर पर उपचार करने के लिए आयुर्वेद में हल्दी के प्रयोग को भी प्राथमिकता दी जाती है। हल्दी को सबसे अच्छा हीलिंग इंग्रीडिएंट माना जाता है। इसमें रोगाणुरोधी गुण होते हैं, जो त्वचा के पोर्स में मौजूद बैक्टीरिया को हटा देते हैं। यही नहीं, हल्दी के एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुण त्वचा के स्वास्थ्य और टेक्सचर को सुधारने में मदद करते है। यह प्रदूषण के कारण बंद पोर्स(clogged pores due to pollution) को खोलने के लिए सरल और सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाने वाला घरेलू उपचार है।

कैसे करें उपयोग

  • नाक पर बंद पोर(clogged pores on nose) के उपचार के लिए आपको हल्दी पाउडर और पुदीने के जूस की जरूरत पड़ेगी
  • एक चम्मच हल्दी को एक चम्मच पुदीने के जूस के साथ मिला कर इसका एक पेस्ट बना लें।
  • अब इस पेस्ट को प्रभावित स्थान पर लगाएं और उसके बाद 10 से 15 मिनटों तक सूखने दें।
  • हलके गर्म पानी से इसे साफ कर लें और उस स्थान को अच्छे से मॉइस्चराइज करें।
  • अच्छे परिणामों के लिए इस उपाय को हफ्ते में तीन बार प्रयोग में लाएं।

हल्दी और पुदीने का जूस

यह भी पढ़ें: मॉनसून में स्किन केयर से आप अपनी बढ़ती उम्र पर काबू पा सकती हैं, जानें कैसे

प्रदूषण के कारण बंद पोर्स(clogged pores due to pollution) के लिए शहद और दालचीनी

शहद में मौजूद एंटी-बैक्टीरियल एजेंट उन बैक्टीरिया को दूर रखने में मदद कर सकते हैं, जो मुहांसे पैदा करते हैं। इसके साथ ही यह पोर्स को ब्लॉक करने वाली गंदगी को निकलने के लिए एडहेसिव का काम करता है। दालचीनी सर्कुलेशन में सुधार करती है और सही रक्त प्रवाह के कारण आपकी त्वचा को स्वस्थ और चमकदार त्वचा मिलेगी

कैसे करें उपयोग

  • इसके लिए आपको एक चम्मच दालचीनी पाउडर, शहद और कॉटन की जरूरत पड़ेगी।
  • शहद और दालचीनी को साथ में तब तक मिक्स करें, जब तक यह एक पेस्ट न बन जाए।
  • अब इसकी पतली परत को ब्लैकहेड पर लगाएं और कॉटन को इसके ऊपर लगाए।
  • अब इसे तीन से पांच मिनटों तक ऐसे ही रहने दें उसके बाद कॉटन के साथ इसे निकल दें और अपने चेहरे को धो दें
  • अच्छे परिणामों के लिए इस तरीके को बार-बार दोहराएं।

शहद और दालचीनी

नींबू

आपको यह जानकार हैरानी होगी कि नींबू का रस प्रदूषण के कारण बंद पोर्स(clogged pores due to pollution) को ठीक करने में लाभदायक है। नींबू में विटामिन-C होता है जो एक एंटी-ऑक्सीडेंट है। यह त्वचा को स्वस्थ बनाये रखने के लिए कोलेजन उत्पादन को प्रोत्साहित करने में मदद करता है।

कैसे करें उपयोग

  • इसके लिए आपको एक चम्मच नमक, नींबू के रस और पानी की जरूरत पड़ती है।
  • इन सब इंग्रीडिएंट्स को अच्छे से मिला लें और एक पेस्ट बना लें।
  • इस पेस्ट को प्रभावित स्थान पर लगा लें आप पूरे चेहरे पर भी इसे लगा सकते हैं।
  • अब कॉटन की मदद से त्वचा की हलकी मालिश करें और 15 से 20 मिनटों तक लगा कर सूखने दें।
  • ठंडे पानी से धो दें और उसके बाद अच्छे से मॉइस्चराइज करें।

नींबू

यह भी पढ़ें: स्किन पिकिंग डिसऑर्डर क्या होता है, जानें क्यों अजीब है ये समस्या

नीम के पत्ते और गुलाबजल

प्रदूषण के कारण बंद पोर्स(clogged pores due to pollution) के उपचार में नीम भी प्रभावी है। नीम में एंटीबैक्टीरियल प्रभाव होते हैं और यह एक शक्तिशाली आयुर्वेदिक उपाय है। यह मुहांसे पैदा करने वाले बैक्टीरिया को कम करने में मदद कर सकता है। यही नहीं यह त्वचा के स्वस्थ pH संतुलन को बनाए रखने में भी सहायक है। गुलाब जल भी त्वचा पर एंटी-इंफ्लेमेटरी प्रभाव डालता है।

कैसे करें उपयोग

  • अधिक बंद पोर्स(extremely clogged pores) के उपचार के लिए आपको कुछ पत्ते नीम के और दो चम्मच गुलाबजल चाहिए।
  • नीम के पत्तों को कुछ मिनटों तक पानी में उबाल लें। इसके बाद इसे पीस कर इसका पेस्ट बना लें
  • इसमें गुलाबजल मिला लें और अपने चेहरे पर इस मिश्रण को लगाएं।
  • सूखने तक इस पैक को चेहरे पर लगा कर रखें।
  • इस पैक को हफ्ते में तीन से चार बार लगाएं और इस समस्या से छुटकारा पाएं।

प्रदूषण के कारण बंद पोर्स

प्रदूषण के कारण बंद पोर्स(clogged pores due to pollution) के लिए अतिरिक्त टिप्स

अगर आप प्रदूषण के कारण बंद पोर्स(clogged pores due to pollution) से छुटकारा पाना चाहते हैं तो आपको बंद पोर्स का घर पर उपचार(clogged pores treatment at home) के साथ ही कुछ अन्य चीजों का भी ध्यान रखना चाहिए। यह चीजें इस प्रकार हैं:

  • जितना हो सके प्रोसेस्ड फ़ूड, तला -भुना, अधिक मिर्च-मसाले, अधिक नमक और चीनी युक्त आहार से दूर रहें। इसके स्थान पर अपने आहार में सब्जियों, फल, अनाज आदि को शामिल करें।
  • शरीर में पानी की कमी न होने दें। जितना अधिक हो सके पानी और अन्य तरल पदार्थों का सेवन करें। इससे आपकी त्वचा भी सुन्दर भी बनेगी।
  • सौंदर्य उत्पादों के अधिक प्रयोग से भी बचे।
  • रोजाना कम से कम आठ घंटे की नींद अवश्य लें। क्योंकि, त्वचा को भी खुद को सुधारने के लिए समय चाहिए होता है।
  • अपने चेहरे को दिन में दो बार धोएं।
  • चेहरे को धोने के लिए गर्म पानी का प्रयोग न करें और किसी अच्छे क्लींजर से चेहरे को धोएं।

QUIZ : आयुर्वेदिक डिटॉक्स क्विज खेल कर बढ़ाएं अपना ज्ञान

  • भरे हुए पोर देखने में बड़े लग सकते हैं। ऐसे में दिन में दो बार मुंह को अच्छे से धोने से आप गंदे पोर्स से छुटकारा पा सकते हैं। ऐसे करने पर आपके चेहरे में मौजूद अतिरिक्त तेल भी निकल जाता है।
  • अपने चेहरे पर स्क्रबिंग करने से चेहरा साफ होता है। लेकिन, इससे आपकी त्वचा को नुकसान हो सकता है और पोर्स बड़े लग सकते हैं। इसके साथ ही पोर्स को छेड़ना, दबाना आदि से भी त्वचा को नुकसान हो सकता है। इसलिए, ऐसा करने से बचे।
  • अपनी त्वचा को सूरज की हानिकारक किरणों से बचाएं। जितना अधिक आपकी त्वचा सूरज के संपर्क में आएगी, उतना ही आपकी त्वचा को नुकसान होगा। इसके लिए ऐसे सनस्क्रीन का प्रयोग करें जिसका SPF 30 या उससे अधिक हो। घर से बाहर जाने से पहले अपने चेहरे आदि को अच्छे से ढक लें।

यह भी पढ़ें: स्किन टाइटनिंग के लिए एक बार आजमाकर देखें ये उपाय, दिखने लगेंगे जवान

इस बात का ध्यान रखें कि प्रदूषण के कारण बंद पोर्स(clogged pores due to pollution) के उपचार के लिए आयुर्वेदिक तरीके सबसे बेहतरीन हैं। जब आप इन उपायों के साथ स्वस्थ आहार, एक उचित स्किनकेयर, स्वस्थ जीवनशैली अपनाएंगे तो आपको अपने स्वाथ्य और त्वचा दोनों में बदलाव देखने को मिलेगा। अगर आपको अपनी त्वचा में कुछ गंभीर समस्याएं दिखाई देती हैं तो तुरंत डॉक्टर से मिलें और उपचार कराएं।

REVIEWED

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

How To Protect Your Skin During Smog.https://www.medanta.org/patient-education-blog/why-and-how-to-protect-your-skin-during-smog/. Accessed on 27.01.21

Is air pollution making my skin worse?https://grist.org/living/is-air-pollution-making-my-skin-worse-and-more-pressing-beauty-questions/Accessed on 27.01.21

Ayurveda for Healthy, Clear, Glowing Skin.https://kripalu.org/resources/ayurveda-healthy-clear-glowing-skin.Accessed on 27.01.21

AcneOverview.https://www.beaconhealthsystem.org/library/diseases-and-conditions/acne/.Accessed on 27.01.21

WHAT CAN TREAT LARGE FACIAL PORES?.aad.org/public/everyday-care/skin-care-secrets/face/treat-large-pores.Accessed on 27.01.21

लेखक की तस्वीर badge
AnuSharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 28/01/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x