home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

फिटनेस के लिए आलिया भट्ट ने शुरू किया 'एरियल पिलाटे वर्कआउट', जानिए इसके फायदे

फिटनेस के लिए आलिया भट्ट ने शुरू किया 'एरियल पिलाटे वर्कआउट', जानिए इसके फायदे

चाहे करियर हो या फिटनेस, आलिया का सफर काफी इंस्पिरेशनल रहा है। जितने चर्चे उनकी फिल्मों के होते हैं, उतने ही चर्चे आलिया भट्ट की फिटनेस के भी हैं। इंडस्ट्री में आलिया की गिनती सबसे फिट एंड स्लिम हीरोइनों में होती है। हर कोई उनके फिटनेस के पीछे का राज जानना चाहता है।

हाल ही में इंस्टाग्राम पर आलिया का एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें वह एरियल पिलाटे करती हुई नजर आ रही हैं और फिटनेस के नए गोलसेट कर रहीं हैं। आलिया भट्ट बॉलीवुड में उन एक्ट्रेसेस में से एक हैं जिनका फिटनेस रूटीन काफी मिक्स एंड मैच रहता है। एरियल पिलाटे की शुरुआत करने वाली आलिया बॉलीवुड की पहली अभिनेत्री हैं।

और पढ़ेंः Anxiety Attack VS Panic Attack: समझें एंग्जायटी अटैक और पैनिक अटैक में अंतर

बॉलीवुड फिटनेस इंस्ट्रक्टर यास्मीन कराचीवाला के पिलाटे स्टूडियो में 26 साल की आलिया का एरियल पिलाटे करते समय बनाया गया वीडियो लोगों को फिटनेस के लिए काफी प्रोत्साहित कर रहा है। बता दें कि कटरीना कैफ, मलाइका अरोड़ा, प्रीति जिंटा और शिल्पा शेट्टी जैसी कई बॉलीवुड एक्ट्रेसेस पिलाटे वर्कआउट करती हैं लेकिन, आलिया भट्ट ने एरियल पिलाटे की शुरूआत की है। वैसे फिटनेस के लिए एरियल पिलाटे से पहले एरियल योग बॉलीवुड हीरोइनों के बीच में काफी फेमस रहा है।

और पढ़ें :फिटनेस कोट जो करेंगी वर्कआउट के लिए प्रोत्साहित

ट्रेनर ने की तारीफ

सेलिब्रिटी फिटनेस ट्रेनर यासमीन कराचीवाला ने अभिनेत्री आलिया भट्ट का वीडियो पोस्ट किया और उनकी सराहना करते हुए कहा कि वाकई में आलिया ने पहली बार में ही कमाल का वर्कआउट किया। उन्होंने वीडियो पर कैप्शन देते हुए कहा कि “पूरी दुनिया को #AerialPilates एक्सरसाइज करनी चाहिए।”

क्या है पिलाटे वर्कआउट (Pilate Exercise)?

बॉलीवुड सेलिब्रिटीज के साथ-साथ आजकल जिसे देखो एरियल पिलाटे एक्सरसाइज का क्रेज चढ़ा है। एरियल पिलाटे को एरियल हैमॉक की मदद से किया जाता है। इसे करते वक्त स्विंग पर अलग-अलग पोज में बैठकर, खड़े होकर वर्कआउट किया जाता है। यह फुल बॉडी वर्कआउट है, जो मसल्स को मजबूत बनाता है और साथ ही एक्स्ट्रा चर्बी को कम करता है।

और पढ़ें:टीनएजर्स टिप्सः कैसे हटाएं प्यूबिक और अंडरआर्म हेयर?

पिलाटे वर्कआउट के फायदे:

फुल बॉडी वर्कआउट:
एरियल पिलाटे वर्कआउट में ऐसे पोज होते हैं, जिसमें आपके पूरे शरीर की स्ट्रेचिंग होती है और साथ ही आप अपने पूरे वजन को सपोर्ट करते हैं। ये मसल्स को मजबूत बनाने के साथ जोड़ों को स्ट्रांग बनाता है। इसके अलावा ये शरीर को फ्लेक्सिबल बनाता है। एरियल पिलाटे में आप शरीर के हर मसल पर काम करते हैं।

फ्लेक्सिबिलिटी:
एरियल पिलाटे वर्कआउट ग्रैविटी के सिद्धांत के आसपास काम करता है। इसे करते समय जब आप हवा में होते हैं तो उस समय हड्डियों और मांसपेशियों पर कम तनाव होता है, जो आपको मुश्किल पोज में भी रहने में मदद करता है। साथ ही ये आपको फ्लेक्सिबल भी बनाता है।

बैलेंस:
स्विंग के अंदर और बाहर, दोनों ही पोज में ग्रैविटी के विपरीत चलना रोमांचक होता है। लेकिन इसके लिए एकाग्रता और संतुलन की आवश्यकता होती है। एरियल पिलाटे वर्कआउट का नियमित अभ्यास दैनिक जीवन में संतुलन को बेहतर बनाने में मदद करता है।

मूड को बूस्ट करता है:
हर तरह की एक्सरासाइज को करने से मस्तिष्क को एंडोर्फिन को रिलीज करने के लिए प्रेरित करता है। बता दें एंडोर्फिन मस्तिष्क में गुड मूड केमिकल्स के रूप में जाना जाता है। इसी तरह एरियल पिलाटे में भी होता है। यह हवा में रहने के साथ एड्रेनालाईन को ट्रिगर कर सकता है। ये दिमाग को फोकस करने, स्ट्रेस को दूर करने और मूड को रिलैक्स करने में मदद करता है।

कमर और गर्दन के लिए फायदेमंद:
एरियल पिलाटे वर्कआउट के दौरान कूल्हे के जोड़ों और रीढ़ की हड्डी पर तनाव कम होता है। इसके साथ ही आपका शरीर बहुत रिलैक्स फील करता है। इस वर्कआउट को करने से गर्दन और पीठ के दर्द में राहत मिलती है। इसे करते समय एक बात का खास ख्याल रखें वो यह कि इसे किसी एक्सपर्ट की देखरेख में ही करें खासतौर पर अगर आपको हृदय रोग, या स्पाइनल प्रोब्लम है।

फेफड़ों को दुरुस्त रखने में मददगार:
एरियल पिलाटे वर्कआउट में ब्रीदिंग एक्सरसाइज भी शामिल होती है। ये फेफड़ों को दुरुस्त रखने में फायदेमंद है।

डर को दूर करता है:
एरियल पिलाटे वर्कआउट आपको शुरुआत में मुश्किल लग सकता है लेकिन इसे आसान पोज के साथ शुरू करके धीरे धीरे जब आप कठिन पोज करने लगेंगे तो आपके अंदर से सारा डर दूर हो जाएगा। अपने आप पर और अपने ट्रेनर पर भरोसा रखें।

वजन कम करने में मदद करता है:
नियमित रूप से एरियल पिलाटे वर्कआउट करना वजन कम करने के लिए प्रभावकारी माना जाता है। 50 मिनट एरियल पिलाटे वर्कआउट करने से 1000 कैलोरीज बर्न होती है। इसमें शरीर पर फिजिकल स्ट्रेस अधिक पड़ता है।

डायजेशन में मदद करता है:
एरियल पिलाटे वर्कआउट में कई पोज ऐसे होते हैं तो डायजेस्टिव सिस्टम को बूस्ट करने में मदद करते हैं साथ ही डायजेशन संबंधित परेशानियों जैसे कब्ज, अपच आदि से निजात दिलाते हैं।

एंटी-एजिंग:
एरियल पिलाटे वर्कआउट ब्लड सर्कुलेशन को बेहतर करता है जो एजिंग के लक्षणों को दूर करता है। ये शरीर को डिटॉक्सिफाई करने में भी मदद करता है।

और पढ़ें : कौन-से ब्यूटी प्रोडक्ट्स त्वचा को एलर्जी दे सकते हैं? जानें यहां

यदि आप एरियल पिलाटे वर्कआउट करने का प्लान कर रहे हैं तो निम्नलिखित बातों का जरूर ध्यान रखें:

  • हमेशा आरामदायक और फिटिंग वाले कपड़े पहनें, जिसमें किसी तरह की जिप और बटन न हो। अपने टॉप को हमेशा बॉटम में टक करके रखें। कोशिश करें स्लीव्स वाली शर्ट पहनें। इससे आप सिल्क को अपनी आर्मपिट के नीचे आराम से रख पाएंगे।
  • क्लास में जाने से पहले सारी गहने उतार दें। ये सिल्क में अटक सकते हैं जिससे चोट लग सकती है।
  • क्लास में जल्दी पहुंचे। क्लास से एक या दो घंटे पहले कुछ हल्का मील जरूर लें।
  • शुरुआत में आपको मोशन सिकनेस हो सकती है। अगर आपको महसूस हो तो थोड़ी देर नीचे मैट पर लेटें।

पिलाटे करते वक्त इन सिद्धांतों को जरूर याद रखें:

  • हमेशा ध्यान में रखें कि हमारा ऊपरी शरीर हमारी सारी ताकत और शक्ति का सेंटर है।
  • अपने हाथों, पैरों और शरीर के हर हिस्से पर आपका नियंत्रण होना चाहिए। यह पिलाटे का अति आवश्यक सिद्धांत है।
  • दूसरी चीज जिसकी आपको जरूरत है वो है ध्यान। एक्सरसाइज करते हुए पूरा ध्यान लगाएं। जितना ज्यादा आप ध्यान लगाएंगे देखना आप उतना ही अच्छे से कर पाएंगे।
  • जब आप इस एक्सरसाइज को करते हैं तो सांस का बहुत बड़ा खेल होता है। यह इसका बहुत महत्वपूर्ण तत्व है। ये सेल्स और टिशू को मदद करता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Pilates and yoga – health benefits. https://www.betterhealth.vic.gov.au/health/conditionsandtreatments/pilates-and-yoga-health-benefits.  Accessed on 04 February, 2020.

7 Ways Aerial Yoga Will Take Your Workout to the Next Level. https://www.shape.com/fitness/trends/benefits-of-aerial-yoga.  Accessed on 04 February, 2020.

Why You Should Try Aerial Yoga. https://www.huffpost.com/entry/why-you-should-try-aerial-yoga_b_7258936.  Accessed on 04 February, 2020.

Aerial, Acrobatic, Aqua: 5 Types Of Yoga That Are Becoming A Fitness Trend. https://economictimes.indiatimes.com/magazines/panache/aerial-acrobatic-aqua-5-types-of-yoga-that-are-becoming-a-fitness-trend/fitness-first/slideshow/69872669.cms.  Accessed on 04 February, 2020.

Is Pilates Better Than Yoga?. https://www.webmd.com/fitness-exercise/features/is-pilates-better-than-yoga.  Accessed on 04 February, 2020.

लेखक की तस्वीर
Dr. Pranali Patil के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Shikha Patel द्वारा लिखित
अपडेटेड 27/09/2019
x