home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

स्पेशलिस्ट डॉक्टर : जानें कौन से रोग होने पर, जाएं कौन से विशेषज्ञ के पास!

स्पेशलिस्ट डॉक्टर : जानें कौन से रोग होने पर, जाएं कौन से विशेषज्ञ के पास!

बहुत सारे लोगों का पता नहीं होता है कि कौनसी बीमारी होने पर कौन से डॉक्टर से मिलें, जैसे कि सर्दी और बुखार जैसी समस्या होने पर जनरल फीजिश्यन से मिलना चाहिए। तो वहीं अगर हार्ट की प्रॉब्लम है, तो कॉर्डियोलॉजिस्ट के पास जाना सही रहता है। इसी तरह सभी डॉकटर की अलग-अलग भूमिका होती है। आइए आज हम जानते हैं कि कौन से डॉक्टर का क्या रोल है और किसी बीमारी में कौन से डॉक्टर के पास जाना चाहिए। आइए जानते हैं स्पेशलिस्ट डॉक्टर (Specialist Doctor) के बारे में:

और पढ़ें: डॉक्टर्स की सेहत का रखना चाहते हैं ख्याल, तो प्लीज डोंट ब्रेक कोविड 19 रूल्स

जनरल डॉक्टर और स्पेशलिस्ट डॉक्टर (Specialist Doctor), कैसे करें चुनाव

सही डॉक्टर का चुनाव सबसे मुश्किल काम है। शरीर में होने वाली अलग-अलग दिक्कतों के लिए अलग डॉक्टरों की आवश्यकता होती है। कौन से स्थिति और समय पर कौन से डॉक्टर की आवश्यकता होती है, जानें यहां स्पेशलिस्ट डॉक्टर के बारे में:

जनरल फिजिशियन (Family practice physician)

जनरल फिजिशियन को फैमिल मेडेसिन डॉक्टर भी कहा जाता है। जो सर्दी, खांसी (Cough), बुखार (Fever) और अन्य एलर्जी (Allergy) जैसे समस्याओं के इलाज के लिए होते हैं। यह हर उम्र के रोगी और कई बीमारियों का इलाज करते हैं। इसके अलावा स्थितियों पर निर्भर करता है। यदि आपको किसी प्रकार का वायरल इंफेक्शन (Viral Infection) हो रखा है, तो आपको जनरल फीजिश्यन के पास जाने की आवश्यकता है।

और पढ़ें: इस एलर्जी के लक्षणों को न करें सर्दी के लक्षण समझने की भूल!

स्पेशलिस्ट डॉक्टर्स और उनके प्रकार (Specialty doctors & types) :

विशेषता डॉक्टरों में निम्नलिखित प्रकार शामिल हैं:

एलर्जिस्ट (Allergist)

स्पेशलिस्ट डॉक्टर में एलर्जिस्ट या इम्यूनोलॉजिस्ट भी आते हैं। यदि किसी को रैशेज, चक्कते जैसी एलर्जी या किसी गंभीर प्रकार की एलर्जी हो रखी है, तो उसके इलाज के आपको एलर्जिस्ट (Allergist) के पास जाना चाहिए। एलर्जिस्ट या इम्यूनोलॉजिस्ट (Immunologist), विभिन्न प्रकार की एलर्जी और अस्थमा रोग एलर्जी संबंधित रोगों का इलाज करते हैं। एलर्जी होने पर अधिकतर लोग जनरल फीजिश्यन के पास जाना पसंद करते हैं। लेकिन कई एलर्जी इतनी गंभीर होती है कि उसका इलाज एलर्जिस्ट के पास ही उचित होता है। इस प्रकार की स्थतियों में आपको एलर्जिस्ट के पास ही जाना चाहिए, जैसे कि:

और पढ़ें: एक्सरसाइस के दौरान चक्कर आना, एनाफिलेक्सिस एलर्जी का लक्षण है : जानें एक्सपर्ट से बचाव के टिप्स

त्वचा विशेषज्ञ (Dermatologist)

त्वचा संबंधी किसी प्रकार की समस्या होने पर आपको त्वचा विशेषज्ञ के पास जाना चाहिए। त्वचा विशेषज्ञ त्वचा से लेकर नाखून तक और बालों के रोगों का उपचार करते हैं, जिसमें आपका मुहांसे और बालों का झड़ना आदि भी शामिल है। इसके अलावा, वे एक्जिमा, त्वचा का कैंसर, मुंहासे और सोरायसिस जैसे गंभीर रोगों का इलाज भी करते हैं। यदि आपको त्वचा से संबंधित कोई भी समस्या है, तो आपको स्किन स्पेशलिस्ट के पास ही जाना चाहिए।

और पढ़ें: आपको त्वचा में होने वाली ग्रोथ कहीं पायोजेनिक ग्रेन्युलोमा का संकेत तो नहीं?

संक्रामक रोग चिकित्सक (Infectious disease doctor)

संक्रामक रोग के इलाज के लिए संक्रामक रोग विशेषज्ञ के पास ही जाना उचित होता है। बहुत सारे संक्रमण आपके शरीर के लिए गंभीर परिणाम का कारण बन सकते हैं। इनमें शामिल हैं:

  • कोशिका से संबंधित संक्रमक (Cell)
  • इंफ्लुएंजा (Influenza)
  • क्लोस्ट्रीडियम डिफिसाइल सहित बैक्टेरियल इंफेक्शन (Bacterial infections), दस्त और पेट दर्द की समस्या आदि।
  • सर्जरी के दौरान होने वाला इंफेक्शन
  • निमोनिया (Pneumoniae)
  • एचआईवी (HIV)

और पढ़ें: एचपीवी संक्रमण से आप भी हो सकते हैं संक्रमित, जानिए कैसे बचें इस बीमारी से?

नेत्र रोग विशेषज्ञ (Opthalmologist)

नेत्र रोग विशेषज्ञ आंख और दृष्टि से संबंधित रोगों का इलाज करते हैं, जैसे कि मोतियाबिंद का इलाज और सर्जरी आदि। आंखों की सर्जरी कर सकते हैं। नेत्र रोग विशेषज्ञ जटिल आंखों की स्थिति वाले रोगों का इलाज करते हैं और लोगों को नियमित आंखों की देखभाल के लिए भी देख सकते हैं, जिसमें चश्मा निर्धारित करना और जांच करना शामिल है।

और पढ़ें: Diabetic Eye Disease: मधुमेह संबंधी नेत्र रोग क्या है? जानें कारण, लक्षण और उपाय

स्त्री रोग विशेषज्ञ (Gynecologists)

मासिक धर्म(Periods), पीसीओडी, ब्रेस्ट प्रॉब्लम (Breast Problem) और प्रजनन संबंधित कई समस्याओं के इलाज के लिए महिलाओं को केवल स्त्री रोग विशेषज्ञ के पास ही जाना चाहिए। इसके अलावा यदि किसी महिला को इससे संबंधित समस्या है,

और पढ़ें: क्यों प्रेग्नेंसी के दौरान जरूरी होता है कोरिओनिक विलस सैंपलिंग टेस्ट (Chorionic Villus Sampling Test)

हृदय रोग विशेषज्ञ (Cardiologist)

कार्डियोलॉजिस्ट, कार्डियोवस्कुलर सिस्टम से संबंधित रोगों का इलाज करते हैं, जिसमें हृदय रोग और रक्त वाहिकाओं से संबंधित समस्याएं शामिल हैं। हृदय रोग विशेषज्ञ के पास आप इन स्थितियों में जा सकते हैं, जैसे:

  • हाय ब्लड प्रेशर की समस्या होने पर (High blood pressure)
  • उच्च कोलेस्ट्रॉल (High cholesterol)
  • दिल का दौरा और स्ट्रोक जैसी समस्या (Heart attack and stroke)
  • कोंजेस्टिव हार्ट (Congestive heart failure)
  • हार्ट अटैक पड़ने पर (Heart Attack)

और पढ़ें: हायपरटेंशन बन सकता है कंजेस्टिव हार्ट फेलियर की वजह, आज से ही शुरू कर दें इस पर नजर रखना

एंडोक्रिनोलोजिस्ट (Endocrinologist)

एंडोक्रिनोलॉजिस्ट (Endocrinologist) विशेषतौर पर हॉर्मोनल प्रॉब्लम (Hormonal problem), डायबिटीज और हायपरटेंशन आदि अन्य स्थितियों का इलाज करते हैं। जो अंतःस्रावी तंत्र को प्रभावित करते हैं। इस प्रणाली में विभिन्न ग्रंथियां शामिल होती हैं जो शरीर में हॉर्मोन का निमार्ण करती हैं। एंडोक्रिनोलॉजिस्ट हॉर्मोनल सिस्टम से संबंधित स्थितियों का इलाज करते हैं जैसे:

  • डायबिटीज (Diabetes)
  • थाइरॉइड की समस्या (Thyroid conditions)
  • हॉर्मोन असंतुलन होने पर (Hormone imbalances)
  • बांझपन (Infertility
  • बच्चों में विकास की समस्या (Developmental problems in children)

और पढ़ें: स्टेरॉइड इंड्यूस्ड डायबिटीज: दवाओं के उपयोग से होने वाली डायबिटीज, क्या जानते हैं इसके बारे में?

गैस्ट्रोएंट्रोलोजिस्ट (Gastroenterologist)

गैस्ट्रोएंटेरोलॉजिस्ट (Gastroenterologist), पाचन तंत्र संबंधित कई समस्याओं का समाधान करते हैं। इसमें अन्नप्रणाली, अग्न्याशय (pancreas), पेट, यकृत, छोटी आंत और पित्ताशय शामिल हैं। गैस्ट्रोएंटेरोलॉजिस्ट एंडोस्कोपी, सिग्मोइडोस्कोपी (Sigmoidoscopy) और कोलोनोस्कोपी जैसी प्रक्रियाएं भी करते हैं। गैस्ट्रोएंटेरोलॉजिस्ट को आंतरिक चिकित्सा या बाल रोग में प्रशिक्षण की भी आवश्यकता होती है।

और पढ़ें: गैस्ट्रोइंटेराइटिस से हैं परेशान, तो ये दवाईयां दे सकती हैं आपको राहत

नेफ्रोलॉजिस्ट (Nephrologist)

एक नेफ्रोलॉजिस्ट किडनी की देखभाल और किडनी को प्रभावित करने वाली स्थितियों के इलाज के लिए होते हैं। जिन स्थितियों का वे इलाज कर सकते हैं उनमें शामिल हैं:

  • गुर्दे की बीमारी (kidney disease)
  • किडनी फेल होने पर (kidney failure)
  • मधुमेह (Diabetes)
  • गुर्दे की पथरी (Kidney stones)
  • उच्च रक्तचाप (Hypertension)

और पढ़ें: डायबिटिक नेफ्रोपैथी में एंजियोटेंसिन रिसेप्टर ब्लॉकर्स : कितनी कारगर हैं ये दवा?

ईएंटी विशेषज्ञ (ENT specialist)

ईएनटी डॉक्टर साइनस (sinus), गले, टॉन्सिल, कान, मुंह, सिर और गर्दन की समस्याओं (Neck Problem) का इलाज करते हैं। कुछ ईएनटी डॉक्टर की स्पेशलिटी होती है, जैसे कि बाल रोग या राइनोलॉजी, जो नाक और साइनस को इलाज करते हैं।

न्यूरोलॉजिस्ट (Neurologist)

एक न्यूरोलॉजिस्ट नसों, रीढ़ और मस्तिष्क से जुड़ी कई बीमारियों का इलाज करते हैं। लोग इसके लिए एक न्यूरोलॉजिस्ट देख सकते हैं:

और पढ़ें: पैंक्रियाटिक न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर: कुछ ऐसे संभव है इस रेयर ट्यूमर का उपचार!

कैंसर चिकित्सा (Cancer Specialist)

ऑन्कोलॉजिस्ट कैंसर और उसके लक्षणों का इलाज करते हैं। कैंसर के उपचार के दौरान, एक व्यक्ति की देखभाल टीम में कई प्रकार के स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर हो सकते हैं। कुछ प्रकार के कैंसर

  • विशिष्ट कैंसर उपचार
  • कैंसर से संबंधित स्वास्थ्य समस्याएं

और पढ़ें: Cancer: कैंसर क्या है? जानें शुरू से लेकर अखिर तक, कैंसर से जुड़ी हर जानकारी!

सामान्य सर्जन (General Surgeon)

सामान्य सर्जन कई अंगों और शारीरिक प्रणालियों पर सर्जिकल प्रक्रियाएं करते हैं। उनके पास निम्न के रोगों में प्रशिक्षण हो सकता है:

  • पेट
  • स्तन
  • अंतःस्त्रावी प्रणाली
  • जठरांत्र प्रणाली

इस तरह से आपने जाना कि कौन सी बीमारी होने पर किस स्पेशलिस्ट डॉक्टर के पास जाना चाहिए। कोई गंभीर समस्या होने पर हमेशा स्पेशलिस्ट डॉक्टर के पास ही जाना चाहिए। इसके अलावा अधिक जानकारी के लिए आप डॉक्टर से सपंर्क करे।

health-tool-icon

बीएमआर कैलक्युलेटर

अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Niharika Jaiswal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 3 weeks ago को
और Admin Writer द्वारा फैक्ट चेक्ड
x