आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

null

हिचकी तुरंत हो जाएगी बंद, अपनाएं ये आसान से उपाय

    हिचकी तुरंत हो जाएगी बंद, अपनाएं ये आसान से उपाय

    कभी-कभी गले से आने वाली आवाज को हम हिचकी (Hiccups) कहते हैं। हिकप्स यानी हिचकी आना आम बात है और ये कुछ समय बाद खुद ब खुद ठीक हो जाती है लेकिन, सवाल ये उठता है कि आखिर यह क्यों आती है? हिचकी आने पर क्या करें और अगर यह ठीक ना हो तो ऐसी परिस्थिति में क्या करें ?

    और पढ़ें : सेहत के लिए शुगर या शहद के फायदे?

    हिचकी (Hiccups) क्या है और क्यों आती है?

    सरल शब्दों में समझा जाए तो हृदय और फेफड़े (Lungs) के बीच मांसपेशी (डायफ्राम) होती है जो मनुष्य के सांस लेने के लिए काफी महत्वपूर्ण होती है। जब डायफ्राम में कॉन्स्ट्रक्शन ज्यादा होने लगता है, तो हवा (Air) अपनी जगह बना लेती है और ऐसी ही स्थिति में हिचकी आने लगती है। ये तो बायोलॉजिकल दृष्टिकोण से हिकप्स आने की बात हुई। कुछ और भी कारण हैं हिकप्स (Hiccups) आने के।

    और पढ़ें : चीनी खाने से रुक सकती है हिचकी, जानें ऐसे ही 7 घरेलू उपाय

    हिचकी आने के कारण क्या है? (Cause of Hiccups)

    हिचकी आने के कारण निम्नलिखित हो सकते हैं। जैसे:

    • अधि​क एल्कोहॉल (Alcohol) या एयरटाइट (गैस से भरे हुए कोल्ड ड्रिंक्स) पेय पदार्थों का सेवन करना।
    • सिगरेट पीने की आदत से भी हिचकी आती है।
    • ज्यादा खाना खाना।
    • अत्यधिक उत्साहित होना, अधिक घबराहट और तनाव (Tension) की वजह से भी हिकप्स आने लगते हैं।
    • तापमान में अचानक हुए बदलाव।
    • कभी-कभी कैंडी चूसने या च्यूइंगम चबाने के साथ मुंह में हवा जाने की वजह से हिचकी आ सकती है।
    • फ्रीजर में रखें ठंडे खाने की वजह से भी हिकप्स (Hiccups) की समस्या शुरू हो जाती है।

    और पढ़ें : सर्दी-खांसी को दूर भगाएंगे ये 8 आसान घरेलू नुस्खे

    हिचकी रोकने के घरेलू इलाज (Home remedies Hiccups)

    • हिकप्स (Hiccups) आने पर जल्द से जल्द ठंडा पानी पिएं।
    • नींबू का रस, शहद और थोड़ा सा काला नमक मिलाकर चाटने से राहत मिल सकती है।
    • पीसी हुई काली मिर्च और शहद को एक साथ मिलाकर खाने से लाभ होगा।
    • हिकप्स आने पर सीधे (स्ट्रेट) लेट जाएं। कुछ देर बाद समस्या ठीक हो जाएगी।
    • रसोई में उपलब्ध दालचीनी के छोटे से टुकड़े को चूसने से समस्या दूर होती है।
    • थोड़े से सिरके के सेवन से लाभ हो सकता है।
    • मुंह में चीनी रखने से भी हिचकी ठीक हो सकती है।
    • इलाइची (Cardamom) को पानी में डाल कर उबाल लें और फिर इस इस उबले पानी के सेवन से हिचकी रोकने में मदद मिलेगी।
    • ताजे पानी में थोड़ा सा नमक मिलाकर पीने से लाभ मिलता है।

    वैसे तो हिचकी कुछ देर में खुद ही रुक जाती है। नहीं रुके तो घरेलू उपाए से ठीक हो सकती है। कभी-कभी यह समस्या दो दिनों तक भी रहती है। अगर ऐसा हो तो डॉक्टर से जरूर सलाह लें। एक्सपर्ट्स की मानें तो लगातार हिचकी आने से अस्थमा (Asthma), निमोनिया (Pneumonia) या सांस से संबंधित समस्या हो सकती है।

    और पढ़ें : लगातार कई सालों से अपनी स्मोकिंग की आदत मैं कैसे छोड़ सकता हूं?

    [mc4wp_form id=”183492″]

    सांस लेने के सही तरीके से रोकें हिचकी

    कभी-कभी हमारे सांस लेने के तरीके और पॉस्चर बदलने से भी हिचकी रुक जाती है। इसलिए निम्न तरीकों को अपना कर आप हिचकी रोक सकते हैं :

    • लंबी सांस लें और सांस को लगभग 10 से 20 मिनट तक रोकें। फिर उसे धीरे-धीरे छोड़ दें। ऐसा तब तक करें, जब तक हिचकी रुक न जाएं।
    • एक पेपर लंच बैग को लें और उसे अपने मुंह और नाक पर लगाएं। धीरे-धीरे सांस लें और छोड़े, जिस कारण पेपर बैग फूलने और पिचकने लगेगा। इस प्रक्रिया को करने के लिए कभी भी प्लास्टिक बैग का इस्तेमाल न करें।
    • आराम से जमीन पर बैठ जाएं और अपने घुटनों को अपने सीने से चिपका लें। फिर उसे अपनी बाहों में कस कर पकड़ लें। इस स्थिति में लगभग दो मिनट तक रुके फिर सामान्य हो जाएं। ऐसा करने से आपको हिचकी से राहत मिलेगी।

    और पढ़ें : पब्लिक टॉयलेट यूज करने पर होने वाली योनि इंफेक्शन से कैसे बचें?

    प्रेशर प्वाइंट्स से मिलेगी हिचकी में राहत (Pressure points of Hiccups)

    हमारे शरीर में ऐसे कई प्रेशर प्वाइंट्स (Pressure points) होते है, जिन पर प्रेशर बनाने से सेंसटिविटी होती है। ऐसे ही प्वाइंट्स पर प्रेशर बनाने से हिकप्स बंद हो सकते हैं।

    • अपने जीभ से गले पर प्रेशर दें। ये प्रेशर देने से गले की नर्वस और मांसपेशियों (Muscles) में खिंचाव आता है। जिससे हिकप्स बंद हो जाते हैं।
    • आपका डायफ्राम आपके फेफड़ों से अलग होता है। अपने पसलियों के बीच की हड्डी के अंत में आप अपने हाथों से प्रेशर दें। आप जो प्रेशर देंगे, वो सीधे आपके डायफ्राम पर पड़ेगा। जिससे आपकी हिचकी बंद हो जाएगी।
    • हिकप्स आने पर अक्सर लोग पानी पीने के लिए कहते हैं। जब भी आप पानी पिएं तो अपने नाक को बंद कर लें और उसे हल्का-हल्का मसलते रहें। ऐसा करने से आपको राहत मिलेगी।
    • गर्दन के बगल में कार्टोइड आर्टरी होती है। जिस पर मसाज करके आप अपनी हिकप्स (Hiccups) को बंद कर सकते हैं। दाएं और बाएं तरफ आप सर्कुलर मोशन में 5 से 10 सेकेंड तक मसाज करें।

    और पढ़ें : पेट दर्द हो या सिर दर्द सोंठ बड़े काम की चीज है जनाब!

    • अपने गर्दन के पीछे के हिस्से को रगड़े या उस पर थपकी दें। गर्दन के पीछे रगड़ने से आपके गर्दन की त्वचा फ्रेनिक नर्व को स्टीम्यूलेट करेगी, जिससे हिकप्स रुक सकते हैं।
    • अपने गले के अंदर एक रूई ले कर हल्के से तब तक साफ करें, जब तक आपको खांसी न आ जाएं। इससे आपकी वैगल नर्व रिफ्लक्स होगी।
    • खुद को किसी दूसरे कामों में उलझा कर रखें। हिचकी अपने आप बंद हो जाएगी। क्योंकि हचकी तब तक ज्यादा आती है, जब तक आप उस पर फोकस करते हैं, जैसे ही आप उस पर ध्यान केंद्रित करना बंद कर देते हैं, वैसे ही वह धीरे-धीरे रुक जाती है। ऐसे में आप वीडियो गेम (Video game) खेल सकते हैं, क्रॉसवर्ड पजल या कुछ कैलक्युलेटर कर सकते हैं।

    और पढ़ें : रिपोर्ट : एंटीबायोटिक रेजिस्टेंस का शिकार हो रहे मुंबईवासी, कहीं आप भी तो नहीं कर रहे ये गलती?

    कुछ अन्य उपायों से आप हिकप्स (Hiccups) को बंद कर सकते हैं

    • बड़े आकार के नींबू (Lemon) को लें, उसे अपने दांत से काटें और चूसे। नींबू को चूसना हिचकी बंद करने की सबसे पुरानी दवा है। न्यू इंग्लैंड ऑफ मेडिसिन के मुताबिक 16 में से 14 लोगों पर नींबू चूसने का घरेलू उपाय कारगर साबित हुआ है।
    • चॉकलेट (Chocolate) अच्छे-अच्छे लोगों का मूड बदल देती है, तो हिचकी क्या चीज है। पाउडर चॉकलेट को पानी के साथ निगलने का प्रयास करें। हालांकि, पाउडर चॉकलेट को पीना बहुत कठिन होता है। लेकिन यह हिचकी (Hiccups) की एक कारगर दवा है।
    • एक बड़ा चम्मच पीनट बटर खाएं। इससे आपकी हिचकी बंद हो जाएगी। जब आप पीनट बटर (Peanut butter) खाते हैं तो वह आपके दांतों और जीभ में चिपक जाता है, जिसे आप छुड़ाने लगते हैं, इस दौरान आप अपने मुंह से कई बार सांस ले लेते हैं, जिससे आपकी हिचकी बंद हो जाती है।

    अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

    health-tool-icon

    टार्गेट हार्ट रेट कैल्क्यूलेटर

    जानें अपना साधारण और अधिकतम रेस्टिंग हार्ट रेट,आपकी उम्र और रोजाना एक्टिविटीज और अन्य एक्टिविटीज के दौरान प्राभावित होने वाली हार्ट रेट के बारे में।

    पुरुष

    महिला

    क्या आप खोज रहे हैं?

    आपकी रेस्टिंग हार्ट रेट क्या है? (बीपीएम)

    60

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    Hiccups https://www.mayoclinic.org/diseases-conditions/hiccups/symptoms-causes/syc-20352613 Accessed on 04/12/2019

    Hiccup: Mystery, Nature and Treatment https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3325297/ Accessed on 04/12/2019

    What causes hiccups? https://www.health.harvard.edu/diseases-and-conditions/what-causes-hiccups Accessed on 04/12/2019

    What Causes Hiccups? https://kidshealth.org/en/kids/hiccup.html Accessed on 04/12/2019

    Cure Hiccups Naturally With These Easy Home Remedies https://www.besthealthmag.ca/best-you/home-remedies/hiccups/ Accessed on 04/12/2019

    लेखक की तस्वीर badge
    Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 18/08/2021 को
    और Hello Swasthya Medical Panel द्वारा फैक्ट चेक्ड