शहद के लाभ : शहद के 7 फायदे ऐसे जिनको सुनकर दंग रह जाएंगे

Medically reviewed by | By

Update Date दिसम्बर 29, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें
Share now

प्राचीन समय से ही शहद (Honey) को भोजन के साथ-साथ बहुगुणी औषधि के रूप में उपयोग होते हुए देखा है। आमतौर सभी ने शहद के मीठे स्वाद को जरूर चखा होगा पर उसी के साथ वह औषधीय गुणों से भी भरपूर है। शहद में पाये जाने वाले जीवाणुरोधी तत्व मानव शरीर को शुद्ध रखने के साथ-साथ उसकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाते है। आपने कहीं पढ़ा होगा की शहद के लाभ न सिर्फ खाने-पीने में मिलते हैं बल्कि शहद के फायदे कटे-जले को ठीक करने में भी देखा जा सकता है। लेकिन बता दें कि, शहद के लाभ यहीं तक सीमित नहीं है उसे और भी विभिन्न तरीके से उपयोग किया जा सकता है।

शहद के लाभ

1.शहद डायरिया के समय को घटाता है 

कई अध्ययनों के अनुसार यह पाया गया है कि शहद डायरिया की परेशानी और समय को घटाता है। डायरिया के समय शहद का सेवन करने से शरीर में पोटैसीयम और पानी ग्रहण करने की इच्छा बढ़ती है, जो कि डायरिया की परेशानी में यह मददगार साबित होता हैं। पैथोजेन डायरिया होने का असली कारण होते हैं, शहद खाने से शरीर में पैथोजेन की क्रियाओं को रोकने में मदद मिलती है।

यह भी पढ़ें : प्रेग्नेंसी के दौरान डायरिया होने पर आजमाएं ये घरेलू नुस्खे

2.सर्दी खांसी में शहद के लाभ

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाईजेशन (WHO) के अनुसार शहद को सर्दी-खांसी से लड़ने के लिये एक प्राकृतिक नुस्खा माना है। एक अमेरिकी बाल रोग अकादमी ने शहद को खांसी और कफ का हल माना है। हालांकि, एक साल से कम के बच्चों को शहद देना हानिकारक है। 2007 में किए गए एक अध्ययन के अनुसार शहद का सेवन करने से रात में कफ और खांसी की दिक्कत में गिरावट आती है और अच्छी नींद आती है।

यह भी पढ़ें : रातों की अच्छी नींद के लिए भी जरूरी है हाइड्रेशन

3.ब्लड प्रेशर होता है काबू में

ब्लड प्रेशर हृदय रोग होने का एक बहुत ही प्रमुख कारण है। पर शहद इसे कम करने में मदद कर सकता है। शहद में उपस्थित ऐंटीआक्सिडंट ब्लड प्रेशर को घटाते हैं। चूहों और मनुष्यों पर किए गए ऐसे कई अध्ययनों में पाया गया है कि शहद के सेवन से उनके रक्तचाप में कमी देखी गयी है।

क्विज खेलें : लो ब्लड प्रेशर हो सकता है बेहद खतरनाक, क्विज से जानें इसका इलाज

4.इंफेक्शन से लड़ने में मजबूती

शहद के विभिन्न प्रकारों में से एक है मानुका शहद। ऐसा विशेषज्ञों का मानना है कि मानुका शहद अपने एंटी बैक्टीरीयल गुणों की वजह से घाव को जल्दी भर देता हैं। उनके पूरी तरह से कार्य करने के बारे में अभी तक विशेषज्ञों को जानकारी नहीं है पर हमें इतना पता है कि बैक्टीरिया की वजह से पहली बार होने वाले इंफेक्शन में शहद बहुत ही उपयोगी है।

5.चीनी को कहिये बाय-बाय

बजाय चीनी के आप शहद का उपयोग कर सकते है। शहद ना सिर्फ चीनी की कमी पूरी करता है बल्कि कई महत्वपूर्ण पोषक तत्व भी प्रदान करता है। अपने खाने में मिठास भरने के लिए आप शहद का उपयोग कर सकते हैं। शहद एक स्वीटनर है इसीलिए आपको इस बात का ध्यान देना जरूरी है कि आप उसे कितनी मात्रा में ले रहे हैं।

यह भी पढ़ें : जानें काटने वाली हनी बी कैसे है बड़े काम की चीज?

शहद के लाभ त्वचा के लिए

स्वास्थ्य की बेहतरी के अलावा भी शहद के लाभ हैं। त्वचा की खूबसूरती को बढ़ाने के लिए शहद यानी मधु का इस्तेमाल किया जाता है-

कील-मुंहासे होंगे दूर

चेहरे के कील-मुंहासे और दाग-धब्बों को दूर करने में शहद काफी मदद कर सकता है। शहद नेचुरल एंटीसेप्टिक और एंटीबैक्टीरियल की तरह काम करता है। इसको फेस पर मास्क लगाने से एक्ने की समस्या दूर होती है।

क्विज खेलें : ये पिंपल्स क्यों करते हैं इतना परेशान, क्विज में छुपा है इसका जवाब

ग्लोइंग स्किन के लिए

शहद में मॉइश्चराइज गुण होते हैं। इसका इस्तेमाल करके आप चेहरे की चमक भी बढ़ा सकते हैं। हनी का उपयोग आप ‘स्किन लाइटनिंग मास्क’ के रूप में भी कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें : सुंदर त्वचा और गोरेपन के लिए अपना सकते हैं ये स्किन लाइटनिंग ट्रीटमेंट्स

झुर्रियों को करे दूर

अगर आप झुर्रियां के लिए घरेलू नुस्खों की तलाश कर रहे हैं तो हनी आपके लिए मददगार होगा। आप शहद का इस्तेमाल एंटी एजिंग मास्क (anti aging mask) की तरह कर सकते हैं। शहद चेहरे को मॉइश्चराइज करता है। इसके अलावा, शहद के एंटीऑक्सीडेंट गुण स्किन से पिगमेंटेशन से बचाते हैं।

यह भी पढ़ें : ये हैं एंटी एजिंग फेशियल एक्सरसाइज, जो रखेंगी त्वचा को जवां

रूखी त्वचा

ड्राई स्किन वालों के लिए शहद का उपयोग बहुत ही गुणकारी होता है। इसका उपयोग करके आप रूखी और बेजान त्वचा को चमकदार और मुलायम बना सकते हैं।

यह भी पढ़ें : क्यों जरूरी है सोने से पहले मेकअप उतारना?

चेहरे की सफाई

फेस वॉश के लिए भी शहद का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके एंटीबैक्टीरियल गुण चेहरे की सफाई के लिए अच्छे होते हैं। चेहरे से गंदगी हटाने के लिए यह एक बेहतर होम रेमेडी है।

यह भी पढ़ें : त्वचा के लिए जरूरी है स्क्रबिंग

बालों के लिए शहद के लाभ

त्वचा की खूबसूरती के साथ शहद के लाभ बालों की भी खूबसूरती बढ़ाते हैं। हनी स्किन के साथ-साथ बालों की तमाम परेशानियों को दूर करने का कारगर घरेलु नुस्खा है। जानते हैं, बालों के लिए शहद के लाभ-

हेयर ग्रोथ होती है सही

बढ़ते प्रदूषण और बिगड़ती लाइफस्टाइल की वजह से बालों के टूटने की समस्या आम है। हेयर फॉल की समस्या से निजात पाने के लिए शहद का इस्तेमाल करते हैं। इसमें पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट गुण बालों को स्वस्थ रखते हैं। साथ ही इसके जीवाणुरोधी और एंटीसेप्टिक गुण स्कैल्प में संक्रमण को फैलने से रोकते हैं

यह भी पढ़ें : इन हेयर केयर ऑयल के फायदे जानकर हैरान रह जाएंगे आप

डैंड्रफ होगा छू-मंतर

डैंड्रफ के घरेलु उपाय के तौर पर शहद का इस्तेमाल किया जाता है। हनी में एंटी इन्फ्लेमेटरी, एंटीवायरल और एंटीफंगल गुण पाए जाते हैं, जो डैंड्रफ की समस्या को दूर करते हैं।

यह भी पढ़ें : हेल्दी फूड्स की मदद से प्रेग्नेंसी के बाद बालों का झड़ना कैसे कम करें?

शहद के नुकसान

शहद के लाभ तो सुन लिए हैं अब आपने लेकिन, शहद के नुकसान को जानना भी जरूरी है। हनी से होने वाले कुछ नुकसान इस तरह हैं-

  • शहद के नुकसानों में पेट दर्द एक है। हनी का ज्यादा मात्रा में सेवन करने से पेट-दर्द की समस्या हो सकती है।
  • शहद के नुकसानों में फूड प्वाइजनिंग (food poisoning) भी शामिल है। इससे बोटुलिज्म प्वाइजनिंग हो सकती है। यह समस्या ज्यादातर बच्चों में पाई जाती है।
  • हनी में सुक्रोज के साथ-साथ ग्लूकोज की भी मात्रा होती है, इसलिए इसका ज्यादा सेवन रक्त शर्करा को बढ़ा सकता है। इसलिए, अगर आप मधुमेह के मरीज हैं, तो शहद का उपयोग डॉक्टर की सलाह पर ही करें।

औषधीय गुणों से भरपूर शहद का इस्तेमाल सुंदरता को निखारने के साथ-साथ कई शारीरिक समस्याओं को दूर करने के लिए किया जाता है। लेकिन, ध्यान रहे शहद का सेवन ज्यादा न करें। शहद के लाभ हैं तो इसका अत्यधिक उपयोग सेहत को भारी भी पड़ सकता है। हनी का सेवन करने से पहले डॉक्टर से परामर्श जरूर ले लें।

और भी पढ़ें :-

अडूसा के फायदे : कफ से लेकर गठिया में फायदेमंद है यह जड़ी बूटी

जानिए कैसे वजन घटाने के लिए काम करता है अश्वगंधा

जानिए क्या है प्रेग्नेंसी में एलोवेरा के फायदे और नुकसान?

पेट दर्द हो या सिर दर्द सोंठ बड़े काम की चीज है जनाब!

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

    क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
    happy unhappy"
    सूत्र

    शायद आपको यह भी अच्छा लगे

    कफ की समस्या से हैं परेशान, जानिए क्या हैं कफ निकालने के उपाय ?

    कफ निकालने के उपाय बहुत ही सरल होते हैं। घरेलू नुस्खे अपनाकर भी कफ की समस्या को दूर किया जा सकता है। कफ की समस्या होने पर ठंडी चीजों से दूरी बना लें।

    Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
    Written by Bhawana Awasthi

    Abuta: अबूटा क्या है?

    जानिए अबूटा की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, अबूटा उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Abuta डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

    Medically reviewed by Dr Sharayu Maknikar
    Written by Sunil Kumar
    जड़ी-बूटी A-Z, ड्रग्स और हर्बल दिसम्बर 3, 2019 . 1 मिनट में पढ़ें

    बच्चों में ‘मोलोस्कम कन्टेजियोसम’ बन सकता है खुजली वाले दानों की वजह

    बच्चों में मोलोस्कम कन्टेजियोसम पॉक्स फैमिली की एक समस्या है। यह एक वायरल इंफेक्शन है। बच्चों में मोलोस्कम कन्टेजियोसम के लिए सही देखरेख जरुरी है। जानें इसके बारे में और

    Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
    Written by Lucky Singh
    बच्चों की स्किन केयर, पेरेंटिंग दिसम्बर 3, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

    बच्चों में स्किन की बीमारी, जो बन सकती है पेरेंट्स का सिरदर्द

    बच्चों में स्किन की बीमारी, बच्चों में स्किन की बीमारी के कारण, बच्चों में स्किन की बीमारियों का इलाज, क्यों होती हैं बच्चों में स्किन की बीमारियां

    Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
    Written by Lucky Singh
    बच्चों का स्वास्थ्य (0-1 साल), पेरेंटिंग नवम्बर 26, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें