आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

डिलिवरी बैग चेकलिस्ट जिसे हर डैड टू बी को जानना चाहिए

    डिलिवरी बैग चेकलिस्ट जिसे हर डैड टू बी को जानना चाहिए

    क्या आप पिता बनने वाले हैं? मन में खुशियों की भरमार है और चिंता है कि पत्नी की डिलिवरी डेट नजदीक आ चुकी है। अब आप चिंता को छोड़ दीजिए और अपनी गर्भवती पत्नी के साथ मैटरनिटी बैग तैयार करने में उनकी मदद कीजिए। मैटरनिटी बैग यानी हॉस्पिटल बैग जो डिलिवरी के समय आप हॉस्पिटल में अपने साथ ले जाएंगे। इसमें सभी जरूरी मेडिकल कागजातों के साथ शिशु और मां के लिए एसेंशियल चीजों को शामिल करें जो अस्पताल या नर्सिंग में काम आएंगी। कई बनने वाले पिता के मन में यह सवाल आता है कि आखिर हॉस्पिटल बैग को कब से तैयार करना चाहिए। डॉक्टर सलाह देते हैं कि गर्भावस्था के 36 सप्ताह हो जाने के बाद डिलिवरी बैग चेकलिस्ट बन जानी चाहिए।

    हैलो स्वास्थ्य ने इस आर्टिकल में डिलिवरी बैग चेकलिस्ट के बारे में जानकारी दे रहा है जिसका न सिर्फ मां बल्कि ‘टू-बी-डैड’ को भी ख्याल रखना चाहिए।

    डिलिवरी बैग चेकलिस्ट:

    मुझे मेरी पार्टनर और शिशु के लिए डिलिवरी बैग चेकलिस्ट में किन चीजों को नहीं भूलना चाहिए?

    डिलिवरी बैग चेकलिस्ट- प्रेग्नेंसी के दौरान की मेडिकल रिपोर्ट्स रख लें

    डिलिवरी के समय हॉस्पिटल बैग चेकलिस्ट में यह जरूर देख लें कि प्रेग्नेंसी के दौरान की गई सभी जांच की मेडिकल रिपोर्ट्स रखी गई हो। किसी भी प्रकार की इमरजेंसी में इन मेडिकल रिपोर्ट्स की जरूरत पड़ेगी। इसलिए यह याद रखें कि जब तक आपकी गर्भवती पार्टनर आखिरी जांच न करा ले तब तक उन रिपोर्ट्स को हॉस्पिटल बैग में न रखें ताकि जल्दबाजी में कुछ भूल न जाएं।

    यह भी पढ़ें: स्मोकिंग ही नहीं बल्कि ये 5 कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स भी प्रेग्नेंसी के दौरान हो सकते हैं खतरनाक

    डिलिवरी बैग चेकलिस्ट- गर्भवती पार्टनर के लिए जरूरी दवाएं न भूलें

    हॉस्पिटल जाने से पहले अपनी गर्भवती पत्नी या खुद के लिए आवश्यक दवाओं को रखना न भूलें। जैसे- सिर दर्द, उल्टी आदि की दवा बहुत बेसिक हैं जो आपको घर से लेकर जानी चाहिए। हालांकि ये दवा आपको हॉस्पिटल में भी उपलब्ध हो जाएंगी, लेकिन शायद वहां आपको दोगुनी कीमत चुकानी पड़ सकती है।

    यह भी पढ़ें: प्रेग्नेंसी के दौरान वाॅटर ब्रेक होने पर क्या करें?

    डिलिवरी बैग चेकलिस्ट- मालिश के लिए तेल जरूर रखें

    लेबर और प्रसव प्रक्रिया के दौरान अक्सर ऐसा समय होता है जब गर्भवती महिला को मसाज की आवश्यकता होती है। लेबर के दौरान एक अच्छी मालिश आपकी बर्थ पार्टनर को बेहतर महसूस करा सकती है। डिलिवरी बैग चेकलिस्ट में कोशिश करें कि पार्टनर के पसंद की मालिश तेल ही रखा गया हो यह उनके प्रसव को आसान बनाने में मदद कर सकता है।

    यह भी पढ़ें: लेबर पेन के शुरू होने की तरफ इशारा करते हैं ये 7 संकेत

    डिलिवरी बैग चेकलिस्ट- सेनेटरी पैड्स हैं बेहद जरूरी

    डिलिवरी के बाद आपकी पार्टनर ब्लीडिंग के दौर से गुजरेंगी और यह पहले कुछ दिनों तक जारी रह सकता है। हालांकि अस्पताल या नर्सिंग में आपको सेनेटरी पैड्स उपलब्ध हो जाएंगे, फिर भी आपको अपने हॉस्पिटल बैग में इन्हें घर से ही लेकर जाना चाहिए।

    डिलिवरी बैग चेकलिस्ट- शिशु के लिए जरूरी चीजें रखना न भूलें

    डायपर्स शिशु के जन्म के लिए सबसे बेसिक जरूरत में से एक है। इसलिए अपनी पार्टनर के साथ बात करके नवजात शिशु के लिए कुछ पैकेट्स डायपर अवश्य अपने डिलिवरी बैग में शामिल करें। आप चाहें तो रेडीमेड डायपर या कपड़ों के बने डायपर का इस्तेमाल कर सकते हैं। नवजात शिशु के लिए सॉक्स और ग्लव्स के कुछ सेट भी जरूर अपनी डिलिवरी बैग चेकलिस्ट में शामिल करें। इनके अलावा कंबल, स्वेटर (मौसम के हिसाब से) आदि भी डिलिवरी बैग चेकलिस्ट में शामिल करना चाहिए।

    जन्म लेने वाले शिशु के लिए मैटरनिटी बैग पैक करते समय ध्यान दें कि उसकी जरूरत का ये सामान आपके बैग में जरूर हो। जैसे-

    • बच्चे के लिए टॉवल (आप कम से कम तीन टॉवल जरूर रखें)
    • सिर के लिए कॉटन टोपी
    • बच्चे के लिए छोटे चादर
    • ऑलिव ऑयल (olive oil)
    • सफाई के लिए कॉटन का कपड़ा
    • सेनेटाइजर (बच्चे को छूने से पहले सेनेटाइजर का यूज कर हाथ साफ करें)
    • बच्चे के लिए वाटरप्रूफ शीट
    • कंबल (blanket)
    • डायपर चेंज करने के बाद यूज होने वाली वाइप्स (cleansing wipes)
    • बेबी बाथ प्रोडक्ट (baby bath products) जैसे कि शैम्पू, बेबी क्लींजर। इनका उपयोग डॉक्टर की सलाह से ही करें।

    यह भी पढ़ें: डिलिवरी के बाद बॉडी को शेप में लाने के लिए महिलाएं करती हैं ये गलतियां

    डिलिवरी बैग चेकलिस्ट- स्नैक्स रखना भी है जरूरी

    सबसे महत्वपूर्ण है कि यह समझ लें कि लेबर के दौरान आपको बहुत अस्त-व्यस्त रहना पड़ सकता है। इसलिए आपको इस प्रक्रिया के दौरान शरीर में ताकत बनाए रखने की आवश्यकता है। इसके लिए ट्रेल मिक्स एक अच्छा विकल्प हो सकता है, जैसे कि ग्रेनोला बार या क्रैकर्स आदि।

    अपने बच्चे की मां यानी अपनी पार्टनर के साथ अस्पताल जाने वाले हर पिता को पूरी तैयारी के साथ आने की जरूरत है। इसके लिए उन्हें हॉस्पिटल बैग चेकलिस्ट तैयार करके सभी चीजों को चेक कर लेना चाहिए। इस अस्पताल बैग चेकलिस्ट की सामग्री से उन्हें इस दौरान मदद मिलेगी और लेबर प्रक्रिया आसान हो जाएगी।

    अगर आप पहली बार पिता बन रहे हैं तो आपको डिलिवरी बैग चेकलिस्ट तैयार करने के अलावा भी कुछ चीजों का ध्यान रखना चाहिए। जानते हैं उनके बारे में।

    • डिलिवरी बैग चेकलिस्ट तैयार के बाद प्रसव से पहले पार्टनर से बात कर लें कि वह लेबर के दौरान क्या करना चाहती है (नॉर्मल या सिजेरियन डिलिवरी को चुनना)?
    • पत्नी के साथ सिर्फ आप ही हैं जिसे हर चीज की जिम्मेदारी लेने की जरूरत है।
    • दाई को भी आप पार्टनर की परेशानियों और दर्द के बारे में सब कुछ बता सकते हैं। यदि आपने बर्थ-प्लान की योजना बना रखी है तो उन्हें सही समय पर अस्पताल ले जाएं।
    • लेबर के दर्द से लड़ रही पत्नी का सहारा बनने के लिए यह जरूर जानें कि लेबर के दौरान क्या किया जाना चाहिए?
    • लेबर की शुरुआत के दौरान पत्नी को हाइड्रेटेड रहने और तरल पदार्थ पीने के बारे में याद दिलाएं।
    • गर्भवती को प्रसव के दौरान डीहाइड्रेशन से बचने के लिए पानी या हर्बल चाय दें।
    • हर तरह से तैयार रहें। हो सकता है कि आप दोनों ने नॉर्मल डिलिवरी के जरिए बच्चे को जन्म देने की प्लानिंग की थी, लेकिन अचानक डॉक्टर के कहने पर आपको सिजेरियन डिलिवरी का डिसीजन लेना पड़े।

    हमें उम्मीद है कि डिलिवरी बैग चेकलिस्ट पर आधारित यह आर्टिकल आपको पसंद आया होगा। डिलिवरी बैग चेकलिस्ट जिसे मैटरनिटी बैग चेकलिस्ट भी कहते हैं तैयार करना बेहद जरूरी है। इससे डिलिवरी के बाद या उसके दौरान होने वाली परेशानियाें से बचा जा सकता है। डिलिवरी बैग चेकलिस्ट तैयार करने में आप डॉक्टर या पहले पेरेंट्स बन चुके कपल्स की मदद भी ले सकते हैं। इस बारे में अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क करें। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी प्रकार की चिकित्सा सलाह, उपचार और निदान प्रदान नहीं करता।

    और पढ़ें:

    पहली बार बन रहे हैं पिता तो काम आएंगी ये 5 सलाह

    माता-पिता से बच्चे का ब्लड ग्रुप अलग क्यों होता है ?

    प्रसव के बाद देखभाल : इन बातों का हर मां को रखना चाहिए ध्यान

    प्रसव के बाद फिट रहने के लिए फॉलो करें ये 5 Tips

    health-tool-icon

    ड्यू डेट कैलक्युलेटर

    अपनी नियत तारीख का पता लगाने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें। यह सिर्फ एक अनुमान है - इसकी गैरेंटी नहीं है! अधिकांश महिलाएं, लेकिन सभी नहीं, इस तिथि सीमा से पहले या बाद में एक सप्ताह के भीतर अपने शिशुओं को डिलीवर करेंगी।

    सायकल लेंथ

    28 दिन

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    Labor & Delivery Support Tips Just for Dads/https://www.parents.com/pregnancy/giving-birth/labor-support/labor-delivery-advice-dads/

    (Accessed/11/November/2019)

    What Your Partner Should Pack in the Hospital Bag/https://www.whattoexpect.com/pregnancy/for-dad/what-your-partner-should-pack-hospital-bag/

    (Accessed/11/November/2019)

    Hospital Bag Checklist for Expectant Fathers /https://www.verywellfamily.com/dads-hospital-bag-1270763

    (Accessed/11/November/2019)

    The labour: Step by step for dads-to-be/https://www.bounty.com/family/family-dynamics/the-labour-step-by-step-for-dads-to-be 

    (Accessed/11/November/2019)

    Giving birth: What to pack in your hospital bag/https://www.babycenter.com/packing-for-the-hospital-or-birth-center

    (Accessed/11/November/2019)

     

     

    लेखक की तस्वीर badge
    Nikhil Kumar द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 30/09/2021 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
    Next article: