home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

क्या वृद्धावस्था में शरीर की गंध बदल जाती है?

क्या वृद्धावस्था में शरीर की गंध बदल जाती है?

शरीर से एक गंध आती है किसी में ज्यादा तो किसी में कम। अगर आपने ध्यान दिया हो तो नवजात शिशु के पास से आने वाली गंध और एक वयस्क के शरीर की गंध में बहुत फर्क होता है। ठीक उसी तरह वृद्धावस्था में शरीर की गंध बदल जाती है। सभी को अपने शरीर की गंध अलग-अलग लगती है। 2012 के एक अध्ययन के मुताबिक ज्यादातर लोग इस पर ध्यान ही नहीं देते हैं।

वृद्धावस्था में क्यों आती है शरीर से गंध?

दरअसल उम्र के साथ केमिकल ब्रेक डाउन होता है। वैज्ञानिकों का मानना है कि त्वचा की गंध का मुख्य कारण कम्पाउंड और बैक्टीरिया हैं। स्मेल के लिए प्रमुख रूप से 2-नॉनेनल कम्पाउंड जिम्मेदार माना जा सकता है। वैज्ञानिकों ने 40 से ज्यादा उम्र के लोगों में ही इसका पता लगाया है। हालांकि फिर भी यह पूरी तरह से स्पष्ट नहीं है कि उम्र के साथ शरीर की गंध कैसे बदल जाती है। जबकि 2-नॉनेनल एक संभावित कारण की तरह लगता है ,पर इसकी बहुत अधिक भूमिका नहीं है।

क्या यह नार्मल है ?

शरीर से गंध आना किसी को भी अच्छा नहीं लगता लेकिन, इसमें कोई बुरी बात नहीं है। ऐसा बढ़ती उम्र के कारण होता है। जैसे नवजात शिशु से व्यस्क होने तक हमारे शरीर में बहुत कुछ बदलता है ठीक वैसे ही व्यस्क से वृद्धावस्था तक भी शरीर में बहुत सारे परिवर्तन होते हैं। इसलिए अगर स्मेल बहुत ज्यादा नहीं है तो परेशान न हो।

शरीर की गंध को दूर करने के उपाय

  • पानी ज्यादा पिएं क्योंकि जब शरीर में पानी की कमी होती है तो शरीर से निकलने वाले सारे पदार्थ ज्यादा कॉन्सेंट्रेटेड रहते हैं।
  • सूती कपड़े पहनें ताकि आपकी त्वचा आसानी से सांस ले सके।
  • कपड़े और बिस्तर को नियमित रूप से धोना सुनिश्चित करें।
  • सिंथेटिक फैब्रिक वाले कपड़े न पहनें।
  • नियमित रूप से नहाएं।
  • हेल्दी खाना खाएं। नॉनवेज और शराब के सेवन को कम करते हुए भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट युक्त फल और सब्जियां खाने से शरीर की स्मेल को कम करने में मदद मिलती है।
  • योग या ध्यान जैसी तनाव से राहत वाली गतिविधियों को भी आजमाएं।

अब तक तो आप समझ ही गए होंगे कि बॉडी की स्मेल के पीछे क्या कारण है। इसलिए इसमें कोई घबराने वाली या शर्मिंदगी की बात नहीं है लेकिन, फिर भी अगर आपके घर में कोई वृद्धावस्था में इससे परेशान हैं तो बताए गए तरीकों से इसे कम किया जा सकता है लेकिन, अगर स्मेल बहुत ज्यादा और खराब है तो इसके लिए आप एक बार डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

https://www.healthline.com/health/older-people-smell-different

https://www.greatseniorliving.com/articles/elderly-body-odor

लेखक की तस्वीर
Dr. Pooja Bhardwaj के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Priyanka Srivastava द्वारा लिखित
अपडेटेड 08/07/2019
x