पेट की खराबी से राहत पाने के लिए अपनाएं यह आसान घरेलू उपाय

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट जनवरी 19, 2021 . 6 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

पेट का खराब होना बेहद सामान्य समस्या है। यह परेशानी किसी को भी, कभी भी हो सकती है। इस समस्या का कारण खाने को लेकर संवेदनशीलता, फ्लू, स्ट्रेस, एलर्जी, कब्ज, मॉर्निंग सिकनेस या कुछ और भी हो सकता है। पेट की खराबी को दूर करने के लिए हम अक्सर कोई दवाई ले लेते हैं। लेकिन, इसका असर अधिक समय तक नहीं रहता।

खाने-पीने के बाद हर किसी को कभी न कभी अपच और पेट की खराबी का सामना करना पड़ता है। इस स्थिति में ज्यादा परेशान होने की जरूरत नहीं होती है क्योंकि यह ज्यादातर मामलों में अपने आप ही ठीक हो जाती है।

और पढ़ें – पेट की परेशानियों को दूर करता है पवनमुक्तासन, जानिए इसे करने का तरीका और फायदे

यदि आपको अधिक परेशानी हो रही है तो आप चाहें तो इसके लक्षणों के अनुसार घर पर ही इसका इलाज कर सकते हैं। तो चलिए पेट खराबी के घरेलू उपायों के बारे में जानने से पहले इसके लक्षणों को समझ लेते हैं। पेट खराबी में आपको निम्न परिस्थितियां महसूस हो सकती हैं –

  • गैस
  • जी मिचलाना
  • डकार आना
  • खट्टी डकार या खाने का गले तक आ जाना
  • सीने में जलन
  • खांसी
  • एसिड रिफ्लक्स 
  • पेट फूलना
  • मुंह से बदबू आना
  • हिचकी आना

इन सभी के अलावा कब्ज भी पेट खराबी का संकेत होता है। कब्ज एक असुविधाजनक स्थिति होती है लेकिन अगर इसके कारण पेट में दर्द की समस्या उत्पन्न होने लगे तो स्थिति और भी खराब हो सकती है। कब्ज होने पर व्यक्ति का पेट तो खराब होता ही है साथ ही उसको जी मतली, उल्टी और पेट दर्द होने की समस्या का भी सामना करना पड़ सकता है।

लोगों में पेट की खराबी ज्यादातर कब्ज या दस्त के कारण ही होती है। ऐसे में कुछ घरेलू उपाय इन समस्याओं से राहत दिलाने में आपकी मदद कर सकते हैं। जानिए पेट की खराबी के घरेलू उपाय कौन से हैं, जो आपके लिए जादू की तरह काम कर सकते हैं।

और पढ़ें – पेट के लिए लाभदायक सेतुबंधासन करने का आसान तरीका, फायदे और सावधानियों के बारे में जानें

पेट की खराबी के घरेलू उपाय

पुदीना 

पुदीना न केवल खाने में नया स्वाद ले आता है। बल्कि, पेट दर्द और अपच में भी राहत पहुंचा सकता है। इसके साथ ही यह उल्टी या मतली जैसे परेशानियों को दूर और आंतों में मांसपेशियों की ऐंठन को कम करता है।

कैसे करें प्रयोग 

  • थोड़े से पुदीने के पत्तों को अच्छे से धो लें।
  • दो कटोरी पानी में इन पत्तों को डालें और इसमें दो या तीन इलाइची डाल कर उबालें। 
  • जब इसकी मात्रा उबलकर आधा हो जाए, तो आप इसे पीएं। इससे आपको राहत मिलेगी।
  • आप पुदीने के पाउडर को जूस, चाय या अन्य खाद्य पदार्थों में डाल कर भी ले सकते हैं।

और पढ़ें – क्या पुदीना स्पर्म काउंट को प्रभावित करता है? जानें मिथ्स और फैक्ट्स

नींबू

पेट की खराबी के घरेलू उपाय में दूसरा है नींबूरात के भोजन में अधिक मात्रा में खाने के बाद पेट में समस्या हो सकती है। ऐसे में नींबू आपकी परेशानी को दूर करने में सहायक हो सकता है। इसका जूस बना कर पीने से पेट में कार्बनिक एसिड का उत्पादन होता है। जिससे अपच दूर और पेट की गैस में कमी आती है। नींबू में मौजूद एसिड किसी भी एसिडिटी को कम करने में लाभदायक हैं, जिससे पेट दर्द से छुटकारा मिलता है।

कैसे करें प्रयोग 

  • नींबू के रस को पानी और बेकिंग सोडा के साथ मिला कर पीएं। ऐसा करने से आपको पेट की कई परेशानियों से मुक्ति मिलेगी।

और पढ़ें – प्रेग्नेंसी के दौरान कीड़े हो सकते हैं पेट में, जानें इससे बचाव के तरीके

एप्पल साइडर विनेगर 

रोजाना एप्पल साइडर विनेगर को पीने से भी पेट की खराबी से आराम मिल सकता है। इसका एक चम्मच पीने से ही आपको अच्छे परिणाम मिलेंगे। एप्पल साइडर विनेगर के एसिडिक गुण स्टार्च डाइजेशन को धीमा करते हैं और पेट को किसी भी नुकसान से बचाने में असरदार तरीके से काम करते हैं।

कैसे करें प्रयोग 

  • आप एप्पल साइडर विनेगर एक चम्मच ऐसे ही ले सकते हैं। अगर आप सीधे तौर पर इसे नहीं पी पाएं, तो इसमें पानी मिला कर भी इसका सेवन किया जा सकता है।

और पढ़ें – एप्पल साइडर विनेगर (Apple Cider Vinegar) स्किन से जुड़ी परेशानियों को कर सकता है दूर

अदरक

अदरक का प्रयोग कई जमाने से स्वास्थ्य लाभ के लिए किया जाता रहा है चाहे वो सर्दी-जुकाम हो या दर्द। ऐसा भी कह सकते हैं कि अदरक पेट की खराबी के घरेलू उपाय में सबसे बढ़िया उपाय है। यह सभी रोगों के लिए बेहतरीन औषधि है। इसके सूजन को दूर करने वाले गुण पेट की दर्द को भी दूर करते हैं।

कैसे करें प्रयोग 

  • आप अदरक को छील कर इसको चबाएं।
  • अन्य खाद्य पदार्थों जैसे सब्जी, सूप आदि में डाल कर भी इसका सेवन किया जा सकता है।
  • पानी में इसे उबाल कर काढ़ा बनाएं और पेट को राहत पहुंचाने के घरेलू उपाय की तरह प्रयोग करें।

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

और पढ़ें – अद्भुत गुणों से भरपूर है अदरक (Ginger), जानिए अदरक के फायदे

दालचीनी

दालचीनी में एंटीऑक्सिडेंट होते हैं जो भोजन को जल्दी पचाने में सहायक होते हैं। इसलिए, पेट में खराबी की सूरत में आप दालचीनी का प्रयोग भी कर सकते हैं।

कैसे करें प्रयोग 

  • दालचीनी की एक छड़ या एक चम्मच दालचीनी पाउडर को भोजन में डाल कर आप इसे खा सकते हैं।
  • पानी में या चाय में डाल कर भी इसका सेवन किया जा सकता है।

और पढ़ें – दालचीनी के लाभ: हार्ट अटैक के खतरे को करती है कम, बचाती है बैक्टीरियल इंफेक्शन से

मेथी दाना

मेथी दाना भी पेट की खराबी के घरेलू उपाय में मुख्य है। इसके सेवन से पेट साफ होता है और गैस से भी छुटकारा मिलता है। यही कारण है कि हमारे घरों में सब्जियों में मेथी को अवश्य डाला जाता है। 

कैसे करें प्रयोग

  • एक चम्मच मेथी दाना, एक कप पानी में डाल कर अच्छे से उबालें।
  • लगभग दस मिनटों तक इस मिश्रण को उबलने दें।
  • अब इसे अच्छे से छानें और रोजाना एक या दो बार इसे पीएं।
  • खाली पेट इस मिश्रण को पीने से आपको जल्दी लाभ होगा।
  • मेथी दाने को आप चाय में डाल कर या ऐसे ही खा सकते हैं। इससे अपच, गैस, पेट में ऐंठन आदि से मुक्ति मिलेगी।

और पढ़ें – मेथी दाने के फायदे : इम्यून ​सिस्टम को स्ट्रॉन्ग बना सकते हैं ये

एलोवेरा 

एलोवेरा एक रेचक के रूप में काम कर सकता है, जो उन लोगों के लिए फायदेमंद है, जिन्हें कब्ज के कारण पेट में दर्द होता है। यह एसिडिटी को कम करने में भी सहायक होता है।

कैसे करें उपयोग 

  • एलोवेरा का जूस पीएं। इससे आपको पेट दर्द और अन्य समस्याओं को दूर करने में लाभ होगा। 

और पढ़ें – एलोवेरा के फायदे : सिर्फ टैनिंग ही नहीं स्किन प्रॉब्लम्स के लिए है रामबाण

योग से दर्द नियंत्रण के बारे में जानिए इस वीडियो के माध्यम से

दही 

दही पेट में खराबी के कारण होने वाली असहजता को कम करने में प्रभावी है। हालांकि, इस दौरान डेयरी उत्पादों का सेवन करने का मन नहीं करता। लेकिन, दही में अच्छे बैक्टीरिया होते हैं, जो पाचन की समस्याओं को दूर करके इम्युनिटी बढ़ाने में मददगार होते हैं

कैसे करें प्रयोग

  • अगर आपके पेट में खराबी है तो आप सादा दही लें, इसमें चीनी या अन्य फ्लेवर न डालें।

और पढ़ें – सोने से पहले क्या खाएंः क्यों रात में दही खाना कर सकता है बीमार

दूध 

पेट की खराबी के घरेलू उपाय में दूध भी एक हैदूध से हार्टबर्न या अपच की समस्या से राहत मिलती है। इसलिए आप दूध से भी पेट की इन समस्याओं से राहत पा सकते हैं। लेकिन आपके पेट में समस्या है तो कैफीन युक्त चीजों जैसे चाय, कॉफी आदि का सेवन करने से बचें।

और पढ़ें – कई महीनों और हफ्तों तक सही से दूध पीने वाला बच्चा आखिर क्यों अचानक से करता है स्तनपान से इंकार

पेट की खराबी में क्या न करें

यह तो थे पेट की खराबी के घरेलू उपाय जिनके बारे में आपको अवश्य जानकारी होनी चाहिए थी। लेकिन, जानिए आपको पेट खराब होने पर क्या नहीं करना चाहिए-

और पढ़ें:इन बातों का रखें ध्यान, नहीं होगी छोटे बच्चे के पेट में समस्या

खाना खाने के एकदम बाद न लेटे

पेट की खराबी के घरेलू उपाय अपनाने के साथ ही इस बात का ध्यान रखें, कि खाना खाने के एकदम बाद लेटना या सोना आपकी पेट की समस्याओं को बढ़ा सकता है। खासतौर पर जिन लोगों को एसिडिटी या अपच की समस्याएं रहती हैं। ऐसा कहा जाता है कि खाना खाने के एकदम बाद लेटने से पेट में दबाव पड़ सकता है और दर्द हो सकता है।

गैस की समस्या बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थ न खाएं 

अगर आपके पेट में समस्या है या आपको लूज मोशन है, तो इसका कारण कुछ सब्जियां या ऐसे खाद्य पदार्थ हो सकते हैं जो गैस की समस्या को बढ़ा देते हैं, जैसे एस्परैगस, ब्रोकली, कैफीन युक्त पेय आदि। ऐसे में इन चीजों का सेवन करने से बचे।

और पढ़ें – Quiz: क्या आपको भी होती है गैस की समस्या? खेलें और जानें आखिर क्यों होता है ऐसा

मसालेदार आहार का सेवन

अधिक मिर्च-मसाले या तले भुने खाने को खाने से भी पेट खराब हो सकता है, खासतौर पर रात को इन्हें खाने से। इसके साथ ही अधिक खाना, या बहुत जल्दी-जल्दी खाना, स्मोकिंग आदि से भी पेट में खराबी हो सकती है। इसलिए, इन सब से भी बचें।

फास्ट फूड खाने से बचे

पेट की खराबी की स्थिति में आपको फास्ट फूड खाने से बचना चाहिए इसके साथ ही न तो बहुत जल्दी-जल्दी खाएं, न ही अधिक खाएं इससे भी आपका पेट स्वस्थ रहेगाअगर इन सभी पेट की खराबी के घरेलू उपाय अपनाने के बाद भी आपके पेट की समस्या दूर नहीं होती है तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लें और सही उपचार कराएं

और पढ़ें – जंक फूड-सोशल मीडिया को बाय बोल तय की फैट से फिटनेस तक की जर्नी

पेट की खराबी को कम करने के अन्य उपाय

व्यायाम

व्यायाम करने से आप पेट की तकलीफों से राहत पा सकते हैं लेकिन, बहुत अधिक व्यायाम कब्ज का कारण बन सकता है इसलिए, दिन में तीस मिनटों तक व्यायाम करें और अपने शरीर में पानी की कमी न होने देंआप चाहे तो कब्ज से बचने के लिए योग का सहारा ले सकते हैं, लेकिन योगा एक्सपर्ट की सलाह लेने के बाद ही इसे अपनाएं। 

फाइबर युक्त आहार

फाइबर पाचन क्रिया को दुरुस्त बनाये रखने में बहुत महत्वपूर्ण है। फायदेमंद बैक्टीरिया के विकास में सहायता से लेकर बृहदान्त्र (colon) को हानिकारक तत्वों से दूर रखने में फाइबर युक्त आहार फायदेमंद होता है। अगर आपके आहार में फाइबर की कमी है तो आपके पाचन क्रिया पर इसका असर पड़ सकता है, जिससे लगातार पेट में दर्द होना सामान्य है। इसलिए अपने आहार में फाइबर युक्त खाद्य पदार्थों जैसे हरी सब्जियां, बादाम, फल, सूरजमुखी के बीज आदि को शामिल करें।

और पढ़ें: पेट में दर्द का आयुर्वेदिक इलाज क्या है?

ऊपर दी गई जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। इसलिए किसी भी दवा या सप्लिमेंट का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से परामर्श जरूर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

जब ब्लोटिंग से पेट की गाड़ी का सिग्नल हो जाए जाम, तो ऐसे दिखाएं हरी झंडी!

कॉन्स्टिपेशन और ब्लोटिंग की तकलीफ से राहत पाने के लिए बिसाकोडिल का करें इस्तेमाल। लैक्सेटिव भी दिला सकता है कब्ज से तुरंत राहत। Constipation and bloating

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Toshini Rathod
हेल्थ सेंटर्स, स्वस्थ पाचन तंत्र, कब्ज जनवरी 11, 2021 . 6 मिनट में पढ़ें

सर्दियों में डायजेशन प्रॉब्लम से बचने के लिए अपने खान-पान में शामिल करें ये चीजें, रहें फिट

सर्दियों में पाचन संबंधी समस्याएं बढ़ जाती है, क्योंकि इस मौसम में लोगों का खानपान बदल जाता है। इस मौसम में लोगों को अपने खानपान का विशेष ध्यान रखना चाहिए, जानें डायजेस्टिव हेल्थ इन विंटर के बारे में

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Niharika Jaiswal
हेल्थ सेंटर्स, स्वस्थ पाचन तंत्र जनवरी 8, 2021 . 10 मिनट में पढ़ें

आयुर्वेदिक डिटॉक्स क्या है? जानें डिटॉक्स के लिए अपनी डायट में क्या लें

प्राचीनकाल से चली आ रही आयुर्वेदिक चिकित्सा के चमत्कारी प्रभाव के बारे में सभी जानते हैं। आयुर्वेदिक चिकित्सा कई गंभीर बीमारियों में रामबाण माना जाता है। अगर हम आयुर्वेदिक डिटॉक्स की बात करें, तो इस पद्विति के अंदर शरीर से गंदगी को बहार निकाला जाता है।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Niharika Jaiswal
जड़ी बूटी दिसम्बर 17, 2020 . 11 मिनट में पढ़ें

कब्ज के कारण गैस्ट्रिक प्रॉब्लम से अटक कर रह गई जान? तो, ‘अब की बार, गैरेंटीड रिलीफ की पुकार!’

कब्ज (Constipation) के कारण गैस्ट्रिक प्रॉब्लम आपकी परेशानी को दोगुना कर सकती है। इन दोनों समस्याओं से कैसे बच सकते हैं आइए जानते हैं इस आर्टिकल में।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Manjari Khare
कब्ज नवम्बर 27, 2020 . 8 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

कब्ज के कारण वजन बढ़ना : कैसे निपटें इस समस्या से? Constipation and weight gain - कब्ज और वेट गेन

कॉन्स्टिपेशन और बढ़ता वजन, क्या पहली मुसीबत दूसरी का कारण बन सकती है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Manjari Khare
प्रकाशित हुआ जनवरी 18, 2021 . 7 मिनट में पढ़ें
पीरियड्स और कॉन्स्टिपेशन दोनों से कैसे निपटें - Constipation During Periods

पीरियड्स और कॉन्स्टिपेशन: जैसे अलीबाबा के चालीस चोरों की बारात हो! 

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Toshini Rathod
प्रकाशित हुआ जनवरी 18, 2021 . 6 मिनट में पढ़ें
सर्दियों में पीरियड्स पेन (Periods pain during winter)

सर्दियों में पीरियड्स पेन को कहें बाय और अपनाएं ये उपाय

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Nidhi Sinha
प्रकाशित हुआ जनवरी 16, 2021 . 6 मिनट में पढ़ें
बिसाकोडिल दिला सकती है कब्ज से राहत

जब कब्ज और एसिडिटी कर ले टीमअप, तो ऐसे जीतें वन डे मैच!

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Toshini Rathod
प्रकाशित हुआ जनवरी 11, 2021 . 8 मिनट में पढ़ें