दिल और दिमाग के लिए खाएं अखरोट, जानें इसके फायदे

Medically reviewed by | By

Update Date जनवरी 4, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
Share now

अखरोट (Walnut) मस्तिष्क के जैसा दिखने वाला ड्राय फ्रूट है जिसके कई स्वास्थ्य लाभ हैं। इसमें मौजूद विटामिन और मिनरल सेहत के लिए फायदेमंद होता है। इसमें विटामिन-ए, विटामिन-के, विटामिन-सी, विटामिन-ई, विटामिन-बी 6, मैग्नेशियम, पोटैशियम, फॉस्फोरस, कॉपर जैसे अन्य तत्व सेहत को सम्पूर्ण पोषण प्रदान करताे हैं।

यह भी पढ़ें : बॉडी पार्ट जैसे दिखने वाले फूड, उन्हीं अंगों के लिए होते हैं फायदेमंद भी 

सेहत से जुड़ी किन-किन समस्याओं में है फायदेमंद  

1.दिल और दिमाग रहेगा स्वस्थ 

इसमें मौजूद ओमेगा-3 फैटी एसिड मस्तिष्क (दिमाग) को स्वस्थ रखने के साथ स्मरण शक्ति को बढ़ाने में कारगर होता है। ओमेगा-3 फैटी एसिड मस्तिष्क के अलावा दिल को भी स्वस्थ रखता है। 

यह भी पढ़ें : वेट लॉस के लिए डायट के साथ वेट लॉस ड्रिंक्स भी आजमाएं

2.हड्डियां होंगी मजबूत 

इसमें मौजूद अल्फा लेनोलेनिक एसिड में वनस्पतिओं से जुड़े गुण होते हैं, जो ओमेगा-3 फैटी एसिड के साथ मिलकर हड्डियों को मजबूत बनाता है।

3.डायबिटीज में संतुलन

एक्सपर्ट्स के अनुसार इसके नियमित सेवन से डायबिटीज टाइप-2 का खतरा कम हो सकता है।  

4.अस्थमा के मरीजों को होगा फायदा 

इसमें मौजूद फैटी एसिड अस्थमा, अर्थराइटिस और एग्जिमा जैसी समस्याओं को ठीक करने या कम करने में मददगार होता है। 

यह भी पढ़ें : वेट लॉस फूड्स को डायट में शामिल करके भी कर सकते हैं वजन कम

5.डाइजेशन होगा ठीक 

इसमें फाइबर की मात्रा अधिक होती है जो भोजन पचाने (डाइजेशन) के साथ कब्ज ठीक करता है। 

6.वजन बढ़ाने या घटाने में सहयोग 

इसमें फाइबर की मात्रा आपके उम्र और वजन के अनुसार संतुलित लेने पर वजन बढ़ाने और घटाने दोनों में सहायक है। 

7.हाई ब्लड प्रेशर रहेगा नार्मल

इसके नियमित सेवन से शरीर में ब्लड फ्लो ठीक होता है और ये हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करता है।  

यह भी पढ़ें : Aloe Vera : एलोवेरा क्या है?

8.तनाव होता है कम 

अखरोट खाने से मेलाटोनिन हॉर्मोन का स्राव सही मात्रा में होता है। मेलाटोनिन अनिंद्रा की समस्या दूर करने के साथ-साथ तनाव मुक्त करता है। 

9.रोगों से लड़ने की क्षमता बढ़ती है 

इसमें मौजूद एंटीऑक्सिडेंट शरीर को रोगों से लड़ने की क्षमता बढ़ाने में सक्षम है। 

10. गर्भावस्था में अखरोट है बड़े काम की चीज 

यह कई पोषक तत्वों से भरपूर होता है। गर्भावस्था में नट्स के उपयोग करने के लिए डॉक्टर्स विशेष रूप से अखरोट का सेवन करने के लिए कहते हैं। यह गर्भावस्था में हार्ट और मेटाबॉलिज्म को भी लाभ पहुंचाता है। एक शोध में कहा गया है कि गर्भावस्था के दौरान अखरोट खाने से बच्चे के मस्तिष्क की क्षमता और याददाश्त बढ़ाने में मदद मिलती है।

यह भी पढ़ें : इन 3 चाइनीज सूप रेसिपी से घटाएं अपना वजन

त्वचा और बालों के लिए जरुरी है अखरोट  

  • त्वचा से जुड़ी कई समस्या अखरोट से ठीक हो सकती है। बस आपको कुछ घर की सामग्रियों जैसे अखरोट का पाउडर और शहद को मिक्स करके इसका लेप चेहरे पर लगाकर कुछ देर सूखने के बाद पानी से धो लें । ऐसा नियमित करने से चेहरे की रौनक बढ़ जाती है। 
  • बालों से जुड़ी समस्या जैसे बाल झड़ना, डैंड्रफ, बालों का बेजान होना या फिर स्केल्प पर कोई समस्या है तो आपको अखरोट के तेल का इस्तेमाल करना चाहिए। इसके इस्तेमाल से बालों की परेशानियों से निजात पाया जा सकता है।  

यह भी पढ़ें : नेचुरल रूप से घटाना है वजन तो फॉलो करें इंटरमिटेंट फास्टिंग डायट, जानिए एक्सपर्ट से

महिलाओं के लिए अखरोट खाना है बेहद जरूरी

भारत में महिलाओं में को होने वाले कैंसर में सबसे आम है स्तन कैंसर। यूनियन हेल्थ मिनिस्ट्री की ओर से जारी की गई एक रिपोर्ट में तो ये भी कहा गया है की साल 2020 तक भारत में 17,97,900 महिलाएं स्तन कैंसर से पीड़ित हो सकती हैं। नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन के अनुसार अखरोट में मौजूद खनिज तत्व स्तन कैंसर से लड़ने में सहायक होते हैं।

कैसे करें अखरोट का सेवन जिससे होगा फायदा

एक्सपर्ट्स के अनुसार सुबह खाली पेट में नियमित रूप से 2 अखरोट खाने से लाभ मिलता है। खाली पेट में अखरोट खाने से अखरोट में मौजूद पोषक तत्व शरीर को पूर्ण पोषण देने में सहायक होते हैं। अखरोट में मौजूद फाइटोस्टेरॉल ट्यूमर के खतरे को भी कम करने में मददगार होता है। अमेरिका के मार्शल विश्वविद्यालय के एक रिपोर्ट के अनुसार अगर स्तन कैंसर पीड़ित महिला को लगातार दो सप्ताह तक सही मात्रा में अखरोट खिलाया जाता है, तो कैंसर के जीन में बदलाव आता है और ये बदलाव सकारात्म होता है। अमेरिकी मार्शल विश्वविद्यालय में सबसे पहले ये रिसर्च चूहे पर किया गया और स्तन कैंसर पीड़ित महिलाओं के लिए गुड न्यूज बनकर सामने आई।

यह भी पढ़ें : 25 की होते ही बढ़ गया वजन? अपनाएं ये महिलाओं के लिए डायट चार्ट और हो जाएं फिट

अन्य फायदे

  •  दूध या दही के साथ अखरोट को कुछ देर तक रखने के बाद सेवन करने से भी लाभ मिलता है।
  • अखरोट का पाउडर बनाकर सलाद में मिक्स कर के खाने से भी लाभ मिलता है।
  • ओट्स और दलिया में अखरोट डालकर खाने से सेहत को लाभ मिलता है और साथ ही स्वाद भी बढ़ता है।

कैंसर के प्रति बढ़ाएं जागरुकता

थोड़ी सी जागरुकता अपना कर कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी से लड़ने में मदद कर सकती है। कैंसर या स्तन कैंसर का नाम सुनते ही ये कल्पना करना कि अब तो जिंदगी खत्म हो गई ये गलत है क्योंकि हमारे सामने ऐसे कई लोग (महिला और पुरुष) हैं, जिन्होंने कैंसर को मात देकर आज हमारे करीब सेहतमंद हैं। लेकिन महिलाओं को खासकर 18 साल से अधिक उम्र की महिलाओं को अपने स्तन के जांच करनी चाहिए।

आप खुद से अपने स्तन की जांच कर समझ सकती हैं की आपकी स्तन या स्तन के बगल के हिस्से में कोई गांठ या स्तन के आकर में किसी तरह का बदलाव तो नहीं हो रहा। स्तन में किसी भी तरह के हो रहे बदलाव को नजरअंदाज न करें। कैंसर से जुड़े एक्सपर्ट्स का कहना है कि किसी भी कैंसर का इलाज फर्स्ट या सेकंड स्टेज में करने की वजह से इस बीमारी से निकलने में आसानी होती है। साथ ही एक्सपर्ट्स का ये भी कहना है कि अक्सर महिलाएं डरतीं भी हैं क्यूंकि कभी-कभी कैंसर के ज्यादा फैल जाने की वजह से स्तन हटा दिए जाते हैं और इस दौरान कीमोथेरेपी होने की वजह से बाल भी झड़ जाते हैं। वैसे महिलाओं को इससे डरने की जरूरत नहीं है क्योंकि झड़े हुए बाल कुछ समय बाद फिर पहले जैसे हो जाते हैं। 

यह भी पढ़ें : गाय, भैंस ही नहीं गधे और सुअर जैसे एनिमल मिल्क में भी छुपा है पोषक तत्वों का खजाना

अखरोट के साइड इफेक्ट्स क्या है?

ज्यादा अखरोट खाने से निम्नलिखित साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं :

हालांकि, हर व्यक्ति को यह साइड इफेक्ट्स नहीं होते हैं। हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की कोई भी मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है, अधिक जानकारी के लिए आप डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

और पढ़ें –

विटामिन-ई की कमी को न करें नजरअंदाज, डायट में शामिल करें ये चीजें

क्या आप जानते हैं क्रैब डायट के बारे में?

ब्लड प्रेशर की समस्या है तो अपनाएं डैश डायट (DASH Diet), जानें इसके चमत्कारी फायदे

कोकोनट वॉटर से वेट लॉस होता है, क्या आप इस बारे में जानते हैं?

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

    क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
    happy unhappy"
    सूत्र

    शायद आपको यह भी अच्छा लगे

    गर्भावस्था में नट्स चाहें बादाम हो या काजू, सेहत के लिए बेहतरीन

    गर्भावस्था में नट्स के सेवन के लिए कौन से नट्स का चुनाव करें? गर्भावस्था में नट्स सेवन से पहले क्या ध्यान रखें? गर्भावस्था में मैकाडामिया खाने के फायदे

    Medically reviewed by Dr. Shruthi Shridhar
    Written by Nikhil Kumar
    प्रेग्नेंसी स्टेजेस, प्रेग्नेंसी नवम्बर 8, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

    English Walnut: इंग्लिश अखरोट क्या है?

    जानिए इंग्लिश अखरोट की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, इंग्लिश अखरोट उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, English Walnut डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

    Medically reviewed by Dr Sharayu Maknikar
    Written by Sunil Kumar
    जड़ी-बूटी A-Z, ड्रग्स और हर्बल नवम्बर 5, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

    Spinach: पालक क्या है?

    जानिए पालक की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, कॉर्नफ्लावर का उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Spinach के साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

    Medically reviewed by Dr Sharayu Maknikar
    Written by Mona Narang
    जड़ी-बूटी A-Z, ड्रग्स और हर्बल अक्टूबर 15, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें

    बच्चे का दिमाग रहेगा एक्टिव, इन तरीकों को आजमाएं

    बच्चे का दिमाग को एक्टिव रखने कि लिए जरूरी पोषण के साथ-साथ कुछ एक्टिविटीज भी जरूरी हैं। इनमें फिजीकल और मेंटल दोनों ही एक्टिविटीज शामिल हैं।

    Medically reviewed by Dr. Abhishek Kanade
    Written by Nikhil Kumar
    पेरेंटिंग टिप्स, पेरेंटिंग अक्टूबर 15, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें