home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

गंजेपन का इलाज: बाल हैं चार तो क्या करें यार? गंजेपन से ऐसे निपटें

गंजेपन का इलाज: बाल हैं चार तो क्या करें यार? गंजेपन से ऐसे निपटें

अक्सर उम्र बढ़ने के साथ या अनुवांशिक कारणों से पुरुषों के बाल झड़ने लगते हैं। वैसे तो पुरुष हो या महिला हर किसी में बालों के झड़ने की समस्या नजर आती है लेकिन, पुरुषों में गंजापन ज्यादा दिखाई देता है। इस गंजेपन का इलाज करने के लिए लोग क्या-क्या नहीं करते हैं। गंजेपन का इलाज हो सके इसके लिए दवाइयों से लेकर घरेलु उपाय तक कर डालते हैं। लेकिन, कुछ खास असर नजर नहीं आता है। ऐसे में गंजेपन को छुपाना एकमात्र साधन रह जाता है। इसे कैसे छुपाएं जानते हैं? जानते हैं हैलो स्वास्थ्य के इस आर्टिकल में-

पुरुषों में गंजापन है एक आम समस्या

पुरुषों में होने वाले गंजेपन को विज्ञान की भाषा में एंड्रोजेनिक एलोपेसिया (Androgenic Alopecia) या मेल पैटर्न बाल्डनेस (Male Pattern Baldness) भी कहा जाता है। कई लाेगों में गंजेपन की समस्या 25 से शुरू होती है और 50 तक आते-आते वह काफी हद तक बढ़ जाती है। ये पुरुषों में हेयर लॉस (hair loss) की सबसे आम समस्या है। पुरुषों में गंजापन सिर के कुछ हिस्सों के बाल झड़ने से शुरू होता है। फिर धीरे-धीरे उस हिस्से में नए बाल आना ही बंद हो जाते हैं और आदमी में गंजेपन के लक्षण नजर आने लगते हैं।

और पढ़ें : पहले अपने बालों का टाइप जानें, फिर खरीदें शैंपू

पुरुषों में गंजापन क्यों होता है?

  • मेल पैटर्न बाल्डनेस का सबसे बड़ा कारण जेनेटिक्स है। अनुवांशिक कारणों से कई लोगों के बाल झड़ते हैं। बाल झड़ने का तरीका जेनेटिक होता है। कई लोगों में बाल गिरने की दिक्कत किसी प्रकार की दवा या प्रोटीन की कमी या विटामिन-ए की अधिक मात्रा के कारण भी हो सकता है।
  • बीमारी या स्ट्रेस के कारण भी बाल झड़ सकते हैं।
  • अनुवांशिक कारणों के साथ ही डीएचटी हॉर्मोन भी बालों के कम होने का कारण होता है। डीएचटी के कारण हेयर फोलिकल सिकुड़ने लग जाते हैं। यह इतने ज्यादा सिकुड़ जाते हैं कि इनमें कोई भी बाल नहीं पनप पाता है।
  • अगर आपके परिवार में किसी करीबी रिश्तेदार में मेल पैटर्न बाल्डनेस/ गंजेपन की समस्या रही है तो, आपको भी गंजेपन की समस्या होने की संभावना रहती है।
  • कैंसर की बीमारी के बाद भी कुछ लोगों में गंजेपन की शिकायत होती है।

और पढ़ें : हेयर सीरम (Hair Serum) के फायदे

पुरुष गंजापन कैसे छिपाएं?

गंजेपन का इलाज करने के लिए ये टिप्स अपनाएं जा सकते हैं-

दवाएं हो सकती हैं मददगार

  • अनुवांशिक कारणों के लिए कोई उपचार नहीं है पर कुछ दवाओं से इसका असर कम हो सकता है। मिनोक्सिडिल एक एफडीए से मान्यता प्राप्त दवा है जिससे बालों का झड़ना कम हो जाता है। इससे काफी हद तक गंजेपन का इलाज करने में मदद मिलती है। यह नए बालों को आने में मदद करता है। ध्यान देने वाली बात यह है कि जब आप इसे लगाना बंद कर देते हो तो दोबारा बाल टूटने लग जाते हैं
  • गंजेपन का इलाज के लिए फिनस्टराइड (Finasteride) का इस्तेमाल किया जा सकता है। यह आपकी बॉडी में डीएचटी को कम करता है। कई विशेषज्ञों का मानना है कि फिनस्टराइड मिनोक्सिडिल से बेहतर काम करता है। ध्यान दें कि प्रेग्नेंसी में इस दवा से दूर रहें। इसके कारण बच्चे में कई प्रकार की समस्याएं पैदा हो सकती हैं। यह भी तभी तक असरदार होता है जब तक इसका इस्तेमाल किया जा रहा है।

और पढ़ें : इन10 हेयर केयर टिप्स से बालों को बनाएं हेल्दी

गंजेपन का इलाज? विग हो सकता है विकल्प

यदि आपको अपने गंजेपन से शर्म आने लगी है तो आप विग का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। बस इसे खरीदते वक्त अपने बालों का रंग, मोटापन और आकार को ध्यान रखें। इसके साथ ही इसकी साफ-सफाई पर भी ध्यान दें। यह उनके लिए ज्यादा अच्छा है जिनके सिर पर कम गंजापन है क्योंकि इसमें आपके नेचुरल हेयर और विग एक ही तरह से मैच हो जाती है।

और पढ़ें : हेयर ग्रोथ फूड्स अपनाकर पाएं काले घने लंबे बाल

हेयर स्टाइलिस्ट के पास जाएं

आपके गंजेपन का इलाज नाई के पास भी हो सकता है। यदि बाल सिर्फ छोटे करने हों तो नाई भी काट देगा लेकिन अगर बाल कम होते जा रहे हैं या गंजापन नजर आने लगा है तो हेयर स्टाइलिस्ट के पास जाएं। हेयर स्टाइलिस्ट आपके गंजेपन को छुपाने में और आपको एक नया लुक देने में काफी मददगार साबित हो सकता है।

छोटे बाल रखें

यदि बालों को लंबा रखें तो वह काफी कम दिखेंगे। लंबे बालों के कारण आपका स्कैल्प भी साफ नजर आने लगता है। बालों को छोटे रखना भी गंजेपन को छिपाने का एक तरीका हो सकता है। कोशिश करें कि एक​ लिमिट तक ही इन्हें छोटा रखें। छोटे बालों के कारण आपका स्कैल्प कम नजर आएगा क्योंकि बाल एक-दूसरे के करीब होने के कारण गंजेपन को छिपा देंगे। वैसे यह गंजेपन का इलाज काफी सस्ता है।

और पढ़ें : पुरुषों के लिए 5 ट्रेंडी हेयर स्टाइल, जरूर करें ट्राई

हेयर ट्रांसप्लांट

गंजेपन का इलाज करवाने के लिए आज लोग हेयर ट्रांसप्लांट काफी कराते हैं। हेयर ट्रांसप्लांट गंजेपन का सबसे बढ़िया इलाज बनने लगा है। हेयर ट्रांसप्लांट करवाने पर आपको लम्बे समय तक ट्रीटमेंट लेना पड़ता है। हालांकि, हेयर ट्रांसप्लांट के जरिए गंजेपन का इलाज कराना बहुत महंगा पड़ता है।

और पढ़ें : हेयर ट्रांसप्लांट के फायदे और साइड इफेक्ट्स

हेड शेव कर लें

गंजेपन का इलाज अगर थोड़ा ट्रेंडी भी हो तो कैसा रहेगा? हेड शेव करना गंजेपन को छुपाने का एक ट्रेंडी तरीका है और लोग इस बात का अंदाजा भी नहीं लगा पाते कि आप गंजे हैं या आपको क्लीन हेड पसंद है।

और पढ़ें : हर पुरुष के लिए परफेक्ट हैं ये 8 बीयर्ड स्टाइल, जरूर फॉलो करें

हेयर वीविंग

गंजेपन का इलाज करने के लिए हेयर वीविंग प्रक्रिया भी अपनाई जा सकती है। इसे आर्टिफिशियल हेयर इंटीग्रेशन (Artificial Hair Integration) भी कहा जाता है। इस प्रोसेस में दूसरे व्तक्ति के बालों और सिंथेटिक बालों का उपयोग भी किया जाता है। इसमें सिंथेटिक बालों को सिर के प्राकृतिक बालों के साथ इस तरह से गुंथा जाता है कि वे दिखने में असली बालों की तरह लगते हैं। गंजेपन के इलाज की यह प्रक्रिया पूरी तरह से अस्थायी है।

स्कैल्प को करें कलर

आप चाहें तो स्कैल्प को कलर भी कर सकते हैं। कुछ कंपनी ऐसे प्रोडक्ट बनाती हैं जो आपके स्कैल्प और बालों के अंतर को मिटा देती हैं। यह उन लोगों के लिए ज्यादा मददगार होता है जिनकी स्कैल्प का कलर हल्का और बालों का रंग गहरा होता है।

पुरुषों में गंजापन उनके लुक को लेकर उनकी टेंशन या डिप्रेशन का कारण बन सकते हैं। इसलिए खोए हुए बालों के लिए रोने से अच्छा है कि आप बचे हुए बालों पर ज्यादा ध्यान दें। इन बचे हुए बालों को बचाने के​ लिए हर तरह का प्रोडक्ट न इस्तेमाल करें। गंजेपन का इलाज कराने में चाहे आप कॉस्मेटिक प्रक्रिया का सहारा लें या कोई और ट्रीटमेंट एक बार डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Hair Loss Accessed on 4/12/2019

Androgenetic alopecia. Accessed on 4/12/2019

Male Pattern Baldness Accessed on 4/12/2019

Male-pattern baldness Accessed on 4/12/2019

Men’s Hair Loss: Treatments and Solutions Accessed on 30/10/2019

17 Hair Loss Treatments for Men Accessed on 30/10/2019

लेखक की तस्वीर badge
Hema Dhoulakhandi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 19/03/2021 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड