home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

मोंकबर्ग'स आर्टरियोस्क्लेरोसिस : कार्डियोवैस्कुलर डिजीज के इस प्रकार के बारे में जानें!

मोंकबर्ग'स आर्टरियोस्क्लेरोसिस : कार्डियोवैस्कुलर डिजीज के इस प्रकार के बारे में जानें!

आर्टरियोस्क्लेरोसिस (Arteriosclerosis) कार्डियोवैस्कुलर डिजीज (Cardiovascular Disease) का एक प्रकार है। जिसमें धमनिकाओं (Arterioles) या स्मॉल आर्टरीज (Small Arteries) का सख्त होना या इलास्टिसिटी का कम होना शामिल है। यह समस्या अधिकतर उन लोगों को होती है, जिन्हें हाइपरटेंशन या डायबिटीज मेलाइटस (Diabetes Mellitus) की समस्या हो। आर्टरियोस्क्लेरोसिस (Arteriosclerosis) और एथेरोस्क्लेरोसिस (Atherosclerosis) में यही फर्क होता है कि एथेरोस्क्लेरोसिस (Atherosclerosis ) भी आर्टरीज के सख्त होने को कहा जाता है, लेकिन यह एथेरोमेटस प्लाक (Atheromatous Plaque) के कारण होती है। आज हम बात करने वाले हैं आर्टरियोस्क्लेरोसिस (Arteriosclerosis) के एक प्रकार जिसे मोंकबर्ग ‘स आर्टरियोस्क्लेरोसिस (Mönckeberg’s Arteriosclerosis)) कहा जाता है। जानिए इसके बारे में विस्तार से।

मोंकबर्ग ‘स आर्टरियोस्क्लेरोसिस क्या है? (Mönckeberg’s Arteriosclerosis)

मोंकबर्ग ‘स आर्टरियोस्क्लेरोसिस (Mönckeberg’s Arteriosclerosis) को मोंकबर्ग ‘स स्क्लेरोसिस (Mönckeberg’s Sclerosis) के नाम से भी जाना जाता है। जो एथेरोस्क्लेरोसिस या वेसल के सख्त होने का एक प्रकार है। इसमें कैल्शियम डिपॉजिट्स आर्टरीज वॉल्स की मस्कुलर मिडिल लेयर में पाया जाता है। यह डिस्ट्रोफिक कैल्सिफिकेशन (Dystrophic Calcification) का उदाहरण है। इसका नाम मोंकबर्ग ‘स आर्टरियोस्क्लेरोसिस, जॉन मोंकबर्ग (John Mönckeberg) के नाम पर पड़ा था ,जिन्होंने पहली बार इस बीमारी के बारे में बताया था। यह बीमारी उम्र के साथ बढ़ती है और कुछ स्वास्थ्य स्थितियां जैसे डायबिटीज मेलाइटस (Diabetes Mellitus), क्रॉनिक किडनी डिजीज (Chronic Kidney Disease), क्रॉनिक इंफ्लेमेटरी कंडीशन (Chronic Inflammation Disease) आदि के कारण यह समस्या अधिक होती है। आइए, जानें क्या हैं इसके लक्षण?

और पढ़ें : Atherosclerosis: एथेरोस्क्लेरोसिस क्या है?

मोंकबर्ग ‘स आर्टरियोस्क्लेरोसिस के लक्षण क्या हैं? (Symptoms of Mönckeberg’s Arteriosclerosis)

मोंकबर्ग ‘स आर्टरियोस्क्लेरोसिस (Mönckeberg’s Arteriosclerosis) के आमतौर पर कोई लक्षण नजर नहीं आते हैं। लेकिन, इससे संबंधित कुछ जटिलताएं हैं एथेरोस्क्लेरोसिस (Atherosclerosis ), कैल्सीफलैक्सिस (Calciphylaxis) आदि। इस स्थिति का निदान आसान नहीं है और इसका निदान तब तक मुश्किल है जब तक वैस्कुलर कैल्सिफिकेशन (Vascular Calcification) के कारण आर्टेरिअल स्टिफनेस न बढ़ जाए। इसके कारण पल्स प्रेशर बढ़ सकता है और हार्ट या किडनी को नुकसान हो सकता है। मोंकबर्ग ‘स आर्टरियोस्क्लेरोसिस के कारण के बारे में भी जान लें।

और पढ़ें : दाईं ओर हार्ट फेलियर : दिल से जुड़ी ये दिक्कत बन सकती है परेशानी का सबब!

मोंकबर्ग ‘स आर्टरियोस्क्लेरोसिस के कारण (Causes of Mönckeberg’s Arteriosclerosis)

मोंकबर्ग ‘स आर्टरियोस्क्लेरोसिस (Mönckeberg’s Arteriosclerosis) को एक धीमी और प्रोग्रेसिव बीमारी माना जाता है, जो बचपन से शुरू हो जाती है। हालांकि इसके सही कारणों के बारे में जानकारी नहीं है। लेकिन, ऐसा माना जाता है कि आर्टरी की इनर लेयर में किसी चोट या उसको नुकसान होने के कारण यह समस्या होती है। यह डैमेज किसी भी कारण हो सकता है जैसे:

जब आर्टरीज की इनर वॉल को नुकसान होता है, तो ब्लड सेल और अन्य सब्सटांस अक्सर चोट वाली जगह पर चिपक जाते हैं और धमनी की अंदरूनी परत में जमा हो जाते हैं। समय के साथ प्लाक (Plaque) जो कोलेस्ट्रॉल से बने होते हैं और अन्य सेलुलर प्रोडक्ट भी नुकसान वाली जगह पर इकठ्ठा हो जाते हैं और सख्त हो जाते हैं। जिससे आर्टरीज तंग हो जाती हैं। इस समस्या के रिस्क फैक्टर्स इस प्रकार हैं:

मोंकबर्ग ‘स आर्टरियोस्क्लेरोसिस (Mönckeberg’s Arteriosclerosis) को एक दुर्लभ बीमारी माना जाता है जो बहुत कम लोगों को होती है। इस समस्या का निदान इस तरह से संभव है।

और पढ़ें : एथेरोस्क्लोरोटिक कैल्सीफिकेशन यानी आर्टरीज में कैल्शियम का जमाव, जानिए क्या होते हैं इसके परिणाम

मोंकबर्ग ‘स आर्टरियोस्क्लेरोसिस का निदान (Diagnosis of Mönckeberg’s Arteriosclerosis)

नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन (National Library of Medicine) के अनुसार मोंकबर्ग ‘स आर्टरियोस्क्लेरोसिस (Mönckeberg’s Arteriosclerosis) का निदान अक्सर अचानक होता है। इसे या तो क्लिनिकली या प्लेन रेडियोग्राफी (Plain Radiography) से पहचाना जाता है। यह रोग आमतौर पर डायबिटीज मेलाइटस (Diabetes Mellitus) या क्रॉनिक किडनी डिजीज (Chronic Kidney Disease) से संबंधित होता है। अगर डॉक्टर को किसी व्यक्ति के यह बीमारी होने का संदेह होता है तो वो इस बीमारी के निदान के लिए रोगी की शारीरिक जांच भी की जाती है और उनसे निजी और फैमिली हेल्थ हिस्ट्री के बारे में जाना जाता है। डॉक्टर स्टेथोस्कोप की मदद से रोगी की हार्ट और आर्टरीज की आवाज भी सुन सकते हैं। शारीरिक जांच के आधार पर अन्य टेस्ट्स की सलाह दी जा सकती है, जैसे

इन टेस्ट्स के परिणामों से मोंकबर्ग ‘स आर्टरियोस्क्लेरोसिस (Mönckeberg’s Arteriosclerosis) का निदान संभव है। इसके निदान के बाद उपचार किया जाता है। जानिए कैसे किया जाता है इस समस्या का उपचार।

और पढ़ें : हार्ट एरिदमिया को मैनेज कर सकते हैं इन एक्सरसाइजेज से, लेकिन रखना होगा कुछ बातों का ध्यान

मोंकबर्ग ‘स आर्टरियोस्क्लेरोसिस का उपचार (Treatment of Mönckeberg’s Arteriosclerosis)

इस समस्या के उपचारों में रोगी की जीवनशैली में बदलाव, दवाईयां सर्जरी आदि शामिल है। जानिए इनके बारे में विस्तार से:

जीवनशैली में बदलाव (Lifestyle Change)

अपने लाइफस्टाइल में बदलाव जैसे संतुलित और पौष्टिक आहार का सेवन, व्यायाम इस बीमारी का पहला ट्रीटमेंट है। जानिए, क्या परिवर्तन करने चाहिए आपको इस समस्या से बचने के लिए:

अधिकतर मामलों में इन बदलावों से रोगी को जल्दी ठीक होने में मदद मिलती है लेकिन इसके साथ ही दवाईयों और सर्जरी का सहारा भी लिया जा सकता है। जानिए, इस दौरान ली जाने वाली दवाइयों के बारे में।

और पढ़ें : Coronary artery disease : कोरोनरी आर्टरी डिजीज क्या हैं? जानें इसके कारण, लक्षण और इलाज

दवाइयां (Medications)

इस समस्या को धीमा करने के लिए कई दवाइयां मौजूद हैं, उनमें से कुछ इस प्रकार हैं:

  • स्टैटिन्स और अन्य कोलेस्ट्रॉल मेडिकेशन्स (Statins and other Cholesterol Medications) : यह दवाइयां लो-डेंसिटी लिपोप्रोटीन (Low-Density Lipoprotein) कोलेस्ट्रॉल ( जिसे बैड कोलेस्ट्रॉल भी कहा जाता है) को कम कर सकती है। इसके साथ ही कोलेस्ट्रॉल को कम करने की अन्य दवाइयां भी मौजूद हैं। जैसे इजेटिमिब (Ezetimibe ) जो कोलेस्ट्रॉल अब्सॉर्प्शन इन्हीबिटर (Cholesterol Absorption Inhibitor ) है।
  • ब्लड थिनर्स (Blood Thinners) : डॉक्टर ब्लड थिनर्स जैसे एस्पिरिन (Aspirin) की सलाह भी दे सकते हैं ताकि तंग आर्टरीज़ में ब्लड क्लॉट बनने का खतरा कम हो और ब्लॉकेज न हो।
  • अन्य दवाईयां डॉक्टर उन स्थितियों के उपचार के लिए अन्य दवाइयों की सलाह भी दे सकते हैं जैसे डायबिटीज (Diabetes), ब्लड प्रेशर मेडिकेशन्स (Blood Pressure Medications) इसके लिए डॉक्टर से सलाह लें।

Quiz : कितना जानते हैं अपने दिल के बारे में? क्विज खेलें और जानें

और पढ़ें : हार्ट वॉल्व डिस्प्लेसिया : दिल की इस बीमारी में कैसे रखें अपना ख्याल?

सर्जरी या अन्य प्रोसीजर (Surgery or other Procedures)

मोंकबर्ग ‘स आर्टरियोस्क्लेरोसिस(Mönckeberg’s Arteriosclerosis) के उपचार के लिए कई बार सर्जरी का सहारा भी लिया जा सकता है। अगर रोगी में गंभीर लक्षण या ब्लॉकेज हो तो इन सर्जरी के तरीकों को अपनाया जा सकता है।

और पढ़ें : Coronary Artery Bypass Surgery: कोरोनरी आर्टरी बायपास सर्जरी क्या है?

यह तो थी मोंकबर्ग ‘स आर्टरियोस्क्लेरोसिस (Mönckeberg’s Arteriosclerosis) के बारे में पूरी जानकारी यह स्थिति दुर्लभ है। लेकिन गंभीर हो सकती है। यही नहीं, यह किसी भी उम्र में हो सकती है लेकिन अधिकतर बुजुर्गों को यह समस्या होने की संभावना होती है। एक हेल्दी लाइफस्टाइल अपना कर न केवल आप इस बल्कि अन्य कई हेल्थ कंडीशंस से भी बच सकते हैं। ऐसे में इस समस्या का कोई भी लक्षण नजर आने पर तुरंत डॉक्टर से सम्पर्क करें और समय पर उपचार करना अनिवार्य है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Monckeberg’s Arteriosclerosis in Uterine Vessels:https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4257922/ .Accessed on 1/7/21

Monckeberg Arteriosclerosis: A Telltale Sign.https://www.joms.org/article/S0278-2391(17)30409-3/fulltext

.Accessed on 1/7/21

Mönckeberg’s arteriosclerosis.https://www.semanticscholar.org/paper/M%C3%B6nckeberg%27s-arteriosclerosis.-Silbert-Lippmann/a0709dee95358bd7eab1018f1c65630bd8f72e63 .Accessed on 1/7/21

Mönckeberg’s arteriosclerosis: vascular calcification complicating microvascular surgery. https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/25457834/ .Accessed on 1/7/21

Mönckeberg Arteriosclerosis. https://www.jvascsurg.org/article/S0741-5214(18)31857-3/pdf .Accessed on 1/7/21

लेखक की तस्वीर badge
AnuSharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 4 weeks ago को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x