बॉडी रहेगी फिट तो हमारा माइंड भी रहेगा हिट

    बॉडी रहेगी फिट तो हमारा माइंड भी रहेगा हिट

    पीएम मोदी ने की फिट इंडिया मूवमेंट की शुरुआत (PM Modi Inaugurates Fit India Movement)

    आज जहां हम सभी अपनी तनाव भरी जिंदगी में फिट रहने के तरीके ढूढ़ रहे हैं, वहीं इस ओर देश के प्रधानमंत्री ने शानदार पहल कर दी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली के इंदिरा गांधी स्टेडियम से ‘फिट इंडिया मूवमेंट की शुरुआत’ की। इस दौरान फिटनेस आइकन और बॉलीवुड एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी भी यहां मौजूद रहीं। उद्घाटन अवसर पर प्रधानमंत्री ने देशवासियों को स्वस्थ रहने की सलाह दी और कहा कि, ‘फिट इंडिया मूवमेंट की शुरुआत से हमारी बॉडी फिट रहेगी तो हमारा माइंड भी हिट होगा।’

    यह भी पढ़ेंः एक हिम्मत भरा हग देता है मानसिक राहत, पीएम मोदी ने इसरो अध्यक्ष को लगाया गले

    स्टूडेंट्स को बताया फिट इंडिया मूवमेंट की शुरुआत का महत्व

    फिट इंडिया मूवमेंट की शुरुआत करते हुए देशवासियों को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि, “स्वास्थ्य फिट रखने के लिए जीरो इनवेस्टमेंट लगता है, लेकिन लाभ अनंत होते हैं।” प्रधानमंत्री को सुनने के लिए सुबह से ही स्कूल के बच्चों में उत्साह था। सुबह नौ बजे से स्टूडेंट्स को स्मार्ट क्लास में बिठाया गया। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खेल को स्वास्थ्य से जोड़ कर कई जानकारी विद्यार्थियों को दी। कार्यक्रम के दौरान ‘उन्नयन योजना’ के तहत माध्यमिक स्कूलों में स्मार्ट क्लास की शुरुआत की गई। गुरुवार को कई स्कूल में प्रधानमंत्री के कार्यक्रम से ही स्मार्ट क्लास शुरू किया गया।

    फिट इंडिया मूवमेंट की शुरुआत में इन बातों पर दिया जोर (Highlights of Fit India Movement)

    फिट इंडिया मूवमेंट की शुरुआत करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बच्चों को कुछ बातों को जोर देने के लिए भी कहा। साथ ही, बच्चों को फिट इंडिया मूवमेंट के उद्देश्य के बारे में भी बताया। फिट इंडिया मूवमेंट की शुरुआत के दौरान इन बातों पर जोर दिया गयाः

    • जिस खेल में मन लगे, वही खेलें।
    • हर दिन खेलना चाहिए।
    • पैदल जरूर चलें। यह आपको फिट रखता है
    • स्कूल-कॉलेज में खेल के लिए कम से कम एक घंटे का समय जरूर देना चाहिए।
    • खेलना एक व्यायाम है, सभी स्टूडेंट्स को खेलना चाहिए ।
    • खेलने से कई बीमारियों को दूर किया जा सकता है।
    • खेल में रूचि दिखाने के बाद ही खिलाड़ियों की संख्या में इजाफा होगा।

    यह भी पढ़ेंः 1-2 साल के बच्चों के लिए गेम्स और उन्हें खेलने के तरीके

    क्यों जरूरी है फिट इंडिया मूवमेंट की शुरुआत

    फिट इंडिया मूवमेंट की शुरुआत देश के लिए क्यों जरूरी है, इसके जानकारी देते हुए पीएम मोदी ने अपने भाषण के दौरान कहना था कि, “पूरी दुनिया में फिटनेस के प्रति लोगों में जागरुकता बढ़ रही है। फिटनेस अवेयरनेस को लेकर चीन में हेल्दी चाइना मिशन 2030 शुरू किया है। जिसकी मदद से चीन अपने देश की जनता को फिट बनाने के प्रयास में लगा हुआ है। वहीं, ऑस्ट्रेलिया अपने नागरिकों की फिजिकल एक्टिविटीज बढ़ाने के लिए और आलसपन के स्वभाव को दूर करने के लिए 2030 तक देश के 15 फिसदी नागरिकों को आलस से बाहर निकालने के मिशन में लगा हुआ है। इनके अलावा ब्रिटेन भी अपने देशवासियों में साल 2020 तक प्रतिदिन व्यायाम करने की आदत से जोड़ रहा है। जबकि, अमेरिका ने साल 2021 तक अपने 1000 शहरों को फ्री फिटनेस अभियान से जोड़ने की मुहिम शुरू की हुई है। बता दें कि, जर्मनी में फिट इंस्टीड ऑफ फैट अभियान भी शुरू किया हुआ है।”

    फिट इंडिया मूवमेंट की शुरुआत में पीएम मोदी का कदम सराहनीय

    प्रधानमंत्री मोदी के फिट इंडिया मूवमेंट की शुरुआत के कदम की कई जानी-मानी हस्तियों ने सराहना करते हुए ट्वीट भी किया। जिसमें बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता ऋषि कपूर, पूर्व भारतीय क्रिकेटर सचिन तेंडुलकर, केंद्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजु समेत कई सिलेब्रिटीज ने ट्वीट किया। इसके अलावा दुनियाभर के हेल्थ एक्सपर्ट्स और कई हस्तियों ने भी उनके इस कदम की सराहना की। एक्टर ऋषि कपूर ने अपने ट्वीट में केंद्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजु और प्रधानमंत्री मोदी को इस सराहनीय कदम के लिए बधाई दी और उम्मीद जताई की भारत इस राह पर चलते हुए हेल्दी लाइफस्टाइल अपनाएगा।

    rishi kaporrs tweet
    ऋषि कपूर का ट्वीट

    COO AGASTA की को-फाउंडर नेहा रस्तोगी कहती हैं कि ‘फिट इंडिया मूवमेंट की शुरुआत से खेल की गुणवत्ता में सुधार होगा। लाइफस्टाइल चेंज से हम कई बीमारियों से छुटकारा पा सकते हैं। इस मूवमेंट की हेल्प से लोग फिटनेस के बारे में ज्यादा से ज्यादा अवेयर होंगे।’

    kiren rijiju's tweet
    केंद्रीय खेलमंत्री किरण रिजिजु का ट्वीट

    Portea Medical की एम डी और सीईओ मीना गणेश कहती हैं कि ‘प्रधानमंत्री के द्वारा फिट इंडिया मूवमेंट की शुरुआत की मैं प्रशंसा करती हूं। फिटनेस के बारे में जानकारी न होने की वजह से हम कई प्रकार की गंभीर बीमारियों से ग्रस्त हो जाते हैं। फिट लाइफस्टाइल न केवल हमे अच्छा जीवन देती है बल्कि लंबे समय तक बीमारियों से भी दूर करती है। प्रधानमंत्री के इस सराहनीय कदम के बाद अब ये आसान हो गया है।’

    tweet sachin2
    सचिन तेंडुलकर का ट्वीट

    यह भी पढ़ेंः रेखा का फिटनेस फंडा, जिससे आप भी बन सकते हैं एवरग्रीन

    जानिए खेल और स्वास्थ्य का कनेक्शन

    खेल हमारे शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए कितना फायदेमंद है, इस बात की जानकारी रष्ट्रीय स्तर पर फिट इंडिया मूवमेंट की शुरुआत के जरिए खुद पीएम मोदी बता रहे हैं। तन और मन को तंदुरुस्त रखने के लिए आपको पूरी तरह से खुद को खेल में शामिल करने की जरूरत भी नहीं। बस हर जरूरी कामों की तरह ही कुछ खेलों को आपको अपने दैनिक दीवन में शामिल करने की जरूरत है। तो चलिए जानते हैं, खेल और स्वास्थ्य का क्या कनेक्शन हैं।

    फिट इंडिया मूवमेंट की शुरुआत से मूड को करें फ्रेश

    अगर आप ढेर सारी खुशियां चाहते हैं या मन को शांत करना चाहते हैं, तो यकीन मानिए फिजिकल एक्टिविटी इसका सबसे बेहतर उपाय हो सकता है। शारीरिक क्रिया के तौर पर आप कोई खेल खेल सकते हैं या जिम में जाकर कोई एक्सरसाइज कर सकते हैं या फिर आप खुली हवा में पैदल-पैदल सैर भी कर सकते हैं। अध्ययनों के मुताबिक, शारीरिक गतिविधियां ब्रेन में खुशी और आराम का अनुभव कराने वाली रसायनों को ट्रिगर करती है। वहीं, जब आप एक टीम के साथ कोई खेल विशेष रूप से खेलते हैं, तो आपके मन को एक संतोषजनक एहसास होता है। साथ ही, इससे आपका सामाजिक रूझान भी बढ़ता है।

    यह भी पढ़ेंः खुल गया सारा के वेट लॉस का राज, फिटनेस डॉक्टर ने किया खुलासा

    तनाव और डिप्रेशन को दे मात

    खेल के जरिए आप तनाव और डिप्रेशन को भी मात दे सकते हैं। तनाव और डिप्रेशन एक ऐसी समस्या है जो एक स्वस्थ्य मन और शरीर को सबसे ज्यादा बीमार करते हैं। जब हम शारीरिक तौर पर किसी काम को करते हैं, तो हमारा मन दैनिक तनावों से फ्री महसूस करता है जिससे मन में आने वाले नकारात्मक विचार भी दूर होते हैं। वहीं एक्सरसाइज या योग करने से शरीर में स्ट्रेस हार्मोन का लेवल कम होता है। एक्सरसाइज करने से शरीर में एंडोर्फिन हार्मोन रिलीज होता है, यह वही हार्मोन है जो खुशी का एहसास करता है।

    खेल से दूर करें अनिद्रा की समस्या

    अगर नींद न आने की समस्या या बहुत कम नींद आती है, तो आपकी इस समस्या का हल भी खेल के जरिए निकाला जा सकता है। खेल और शारीरिक गतिविधियों का हिस्सा बनने के बाद शरीर थकान महसूस करता है। जिसके कारण जल्दी और गहरी नींद आती है। हालांकि, बहुत देर तक या बहुत ज्यादा थकाने वाले खेल न खेलें। हर दिन अपने खेलने का समय और सोने-जागने का समय तय करे। ताकि, खेल के साथ-साथ आप अपने दूसरे कामों को भी आराम से पूरा कर सकें।

    आमतौर पर कोई भी शारीरिक खेल अकेले नहीं खेला जाता है। खेल हमेशा लोगों के एक समूह में खेला जाता है। जो हमारे आत्मविश्वास और आत्मसम्मान को बढ़ाने में काफी मदद भी करता है।

    ऊपर दी गई सलाह किसी भी चिकित्सा को प्रदान नहीं करती हैं। इसके बारे में अधिक जानकारी के लिए कृपया अपने डॉक्टर से जरूर सलाह लें।

    और पढ़ें-

    चिंता और तनाव को करना है दूर तो कुछ अच्छा खाएं

    बिना दवा के कुछ इस तरह करें डिप्रेशन का इलाज

    चिंता VS डिप्रेशन : इन तरीकों से इसके बीच के अंतर को समझें

    Alzheimer : अल्जाइमर क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

    Dr Sharayu Maknikar


    Bhawana Awasthi द्वारा लिखित · अपडेटेड 20/12/2019

    advertisement
    advertisement
    advertisement
    advertisement