home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

दांतों की समस्या से दूर रहने के लिए फॉलो करें टिप्स

दांतों की समस्या से दूर रहने के लिए फॉलो करें टिप्स

स्वस्थ दांत निशानी है स्वस्थ दिल की

आपकी एक मुस्कराहट से कई चेहरे खिल (खुश) उठते हैं, लेकिन क्या आपने कभी ये सोचा है कि स्वस्थ दांत स्वस्थ दिल की निशानी होते हैं ? ब्रिटिश हार्ट फाउंडेशन के रिपोर्ट के अनुसार दांतों की सही तरीके से नहीं की गई देखभाल दिल से जुड़ी समस्या पैदा कर सकती है। ऐसी परिस्थिति में दिल की बीमारी (cardiovascular system) होने का खतरा बढ़ जाता है। भारतीय दंत चिकित्सकों की मानें तो भारत में अक्सर लोग दांतों की समस्या को नजरअंदाज कर देते हैं। हम यहां आपको बताएंगे कि कैसे अपने दांतों को स्वस्थ और चमकदार रखें ताकि दिल फिट रहे

खाने को तोड़ने, चबाने और पीसने के लिए हमारे पास 32 दांत होते हैं 16 ऊपर और 16 नीचे के जबड़े में। इतना ही नहीं आप अपने जीवन के 924 घंटे ब्रश करने में निकाल देते हैं। अगर दांतों की समस्या या मसूड़ों में किसी तरह की परेशानी होती है तो इंफेक्शन का खतरा बढ़ जाता है। मुंह में हुआ किसी भी तरह का इंफेक्शन सीधे शरीर के अन्य हिस्सों में आसानी से पहुंच सकता हैं। इसलिए अपने दांतों का ख्याल रखें।

और पढ़ें : दांतों की कैविटी से बचना है तो ध्यान रखें ये बातें

कैसे समझें दांतों की समस्या :

  1. दांतों के रंग में बदलाव
  2. मसूड़ों में पस या फिर सूजन आना
  3. मसूड़ों से खून आना
  4. दांतों में दर्द होना
  5. कैविटी की समस्या

और पढ़ें : माउथवॉश (Mouthwash) का करते हैं इस्तेमाल, पहले जान लें ये जरूरी बातें

कैसे रहें दांतों की समस्या से दूर

  • रोजाना दो बार ब्रश करें। एक बार सुबह और एक बार अपने डिनर के बाद। दो मिनट से ज्यादा ब्रश ना करें।
  • जीभ में बैक्टेरिया पैदा होते हैं इसलिए ब्रश करने के बाद जीभी से जीभ की सफाई हमेशा करें।
  • फ्लॉस करने की आदत भी डालें। इससे दांतों की सफाई ठीक से होती है क्योंकि दांतों में फसे छोटे-छोटे खाने के दानों को फ्लॉस की मदद से आसानी से साफ किया जा सकता है।
  • बहुत ठंडे या ज्यादा गर्म खाने-पीने की चीजों से बचें। (फ्रिज का ठंडा पानी, कोल्ड ड्रिंक, आइसक्रीम, ज्यादा गर्म चाय, कॉफी)
  • कुछ भी खाने के बाद मुंह की सफाई अच्छे से करें। (पानी से कुल्ला करें)
  • कुछ लोग मिठाई, चॉकलेट और टॉफी खाना पसंद करते है, ऐसे में आपको अपने दांतों की देखभाल की ज्यादा जरूरत है।
  • ऐसा नहीं है की सिर्फ मिठाइयों और चॉकलेट जैसी चीजें दांतों को नुकसान पहुंचाती है बल्कि अचार और तीखा खाना भी दांतों के लिए नुकसानदेह है।
  • ब्रश हल्के हांथों से करना चाहिए। ब्रश सर्कुलर स्टाइल से दांतों पर घुमाएं और ब्रश हर तीन महीने में बदल दें।
  • गुटका, तम्बाकू और एल्कोहॉल का इस्तेमाल ना करें।
  • साल में एक बार डेंटिस्ट से संपर्क करें।

और पढ़ें : खसखस के बीज के फायदे एवं नुकसान

क्या खाएं जिससे दांतों की समस्या न हो

  • विटामिन सी से भरपूर फलों का सेवन करें, इनमें शामिल है संतरा और बेरीज जैसे फल जो दांतों को संक्रमण से बचाते हैं ।
  • फाइबर से भरपूर फल सेब रोज खाएं। इससे मुंह में लार बनेगा और बैक्टेरिया उत्पन्न नहीं होंगे।
  • एस्कोर्बिक एसिड युक्त फ्रूट स्ट्रॉबेरी खाएं जो दांतों की चमक को बढ़ाती है।
  • रोज दूध पिएं, दूध में मौजूद कैल्शियम दांतों को मजबूत बनाता है।
  • अखरोट खाएं। अखरोट में मौजूद ओमेगा 3 फैटी एसिड मसूड़ों को स्वस्थ बनाने के साथ-साथ बीमारियों से बचाता है।

और पढ़ें : नमक से दांत साफ करना कितना फायदेमंद है?

दांतों की समस्या से बचने के लिए अपनाएं ब्रश करने का सही तरीका

टूथपेस्ट की मात्रा सही रखें

ब्रश करने का मतलब दांतों में फंसे खाने और प्लाक को निकालना होता है। यदि आप टूथपेस्ट का स्वाद पसंद नहीं करते या टूथपेस्ट को थूकने में दिक्कत होती है और आप इसे गटक जाने की समस्या से भी परेशान हैं तो, इसका इस्तेमाल न करें। ब्रश करना ज्यादा जरूरी है। क्योंकि अगर आप ब्रश नहीं करेंगे तो आपको दांतों की समस्या हो सकती है।

आप टूथपेस्ट के बजाए अन्य घरेलू नुस्खे भी अपना सकते हैं। वहीं अगर आपको टूथपेस्ट जरूरी लगता है तो, याद रखें कि उसमें फ्लोराइड होना चाहिए। फ्लोराइड दांतों को खराब होने से बचाता है। सबसे जरूरी बात यह है कि टूथपेस्ट बहुत कम मात्रा में लें। नहीं तो यह आपके शरीर को नुकसान पहुंचा सकता है। एंटीबैक्टीरियल टूथपेस्ट का उपयोग करें। इससे प्लाक (plaque) और जिंजिवाइटिस (gingivitis) की बीमारी कम होती है।

और पढ़ें : दांतों की बीमारियों का कारण कहीं सॉफ्ट ड्रिंक्स तो नहीं?

दांतों की समस्या से दूर रहने के लिए सही ब्रश का चुनाव करें

दांतो की सफाई के लिए सही ब्रश का चुनाव बहुत जरूरी है। बुजुर्गों के लिए नहीं यह सबके लिए जरूरी है कि सही ब्रश का चुनाव किया जाए। ब्रश बहुत सॉफ्ट होना चाहिए। इसके साथ ही ब्रश पकड़ने में भी आसानी होनी चाहिए। यदि ब्रश पकड़ने में दिक्कत होती हो तो, बच्चों के साइज का ब्रश खरीदें या आजकल इलेक्ट्रिक टूथ ब्रश भी उपलब्ध हैं। लेकिन अगर आप इलेक्ट्रिक ब्रश कर सकते हैं, तभी लें। ऐसा न कर पाने से आपको दांतों की समस्या हो सकती है।

और पढ़ें : जब शिशु का दांत निकले तो उसे क्या खिलाएं?

दांतों की समस्या से निजात पाने के लिए सही तरीके से करें ब्रश

दांतों को ब्रश करने का यह मतलब नहीं है कि आप उनसे लड़ने लगें। दांतों की सफाई एक नाजुक प्रक्रिया है इसलिए आराम से ब्रश करें। ब्रश करने का सही तरीका इस्तेमाल किया जाना चाहिए। मसूड़ों के किनारों से शुरू करते हुए, ऊपर से नीचे की ओर, दांतों के बाहर और अंदर की ओर हल्के हाथों से ब्रश से रगड़ना चाहिए। ताकि दांत पूरी तरह साफ हो सकें। जिससे आपको दांतों की समस्या नहीं होगी

रोज ब्रश व टंग क्लीनर का इस्तेमाल करें

डेंटिस्ट्स की मानें तो रोज कम से कम दो बार सभी को ब्रश करना चाहिए। इससे मुंह की सफाई हो जाती है और दांतों की समस्या होने की संभावना भी कम हो जाती है। रात को सोने से पहले ब्रश करते हुए ऐसे प्रोडक्ट का इस्तेमाल करें, जिससे आपका मुंह न सूखे। टंग क्लीनर द्वारा जीभ की नियमित सफाई की जानी चाहिए।

और पढ़ें : दांतों की परेशानियों से बचना है तो बंद करें ये 7 चीजें खाना

डेंटल फ्लॉस का उपयोग करें

जिनके दांतों में गैप होता है या जिनके दांत ज्यादा सटे हुए होते हैं उन्हें, डेंटल फ्लॉस का इस्तेमाल करना चाहिए। दांतों की समस्या को ठीक करने के लिए आप डेंटल फ्लॉस का इस्तेमाल करें।

हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की कोई भी मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है, अधिक जानकारी के लिए आप डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

What to do for healthy teeth and gums https://www.medicalnewstoday.com/articles/324708.php Accessed on 9/12/2019

11 Ways to Keep Your Teeth Healthy https://www.healthline.com/health/dental-and-oral-health/best-practices-for-healthy-teeth#1 Accessed on 9/12/2019

Taking Care of Your Teeth and Mouth https://www.nia.nih.gov/health/taking-care-your-teeth-and-mouth Accessed on 9/12/2019

Healthy Teeth for Life: 10 Tips for Families https://www.webmd.com/oral-health/features/healthy-teeth-tips#1 Accessed on 9/12/2019

Lifestyle tips for healthy teeth https://www.nhs.uk/live-well/healthy-body/lifestyle-tips-for-healthy-teeth/ Accessed on 9/12/2019

10 tips to look after your teeth https://www.betterhealth.vic.gov.au/health/ten-tips/10-tips-to-look-after-your-teeth Accessed on 9/12/2019

Keeping Your Teeth Healthy With Five Simple Essentials https://www.colgate.com/en-us/oral-health/life-stages/adult-oral-care/keeping-your-teeth-healthy-with-five-simple-essentials-0513 Accessed on 9/12/2019

लेखक की तस्वीर
Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 24/03/2021 को
Dr. Pooja Bhardwaj के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड
x