home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

कैंसर का कारण बन सकती हैं हमारी कुछ आदतें भी, जानिए कैसे?

कैंसर का कारण बन सकती हैं हमारी कुछ आदतें भी, जानिए कैसे?

कैंसर का कारण आजकल ऐसी-ऐसी चीजें भी बनती जा रही हैं, जिन्हें जानकर आप हैरान रह जाएंगे। कैंसर मनुष्य को शारीरिक और मानसिक दोनों ही तरह से कष्ट देता है। इसलिए इस बीमारी से जितना हो उतना सतर्क रहें और ऐसी कोई लापरवाही न करें जिससे यह खतरनाक बीमारी आपको चपेट में ले ले। बहुत कम लोग जानते होंगे कि हम अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में बहुत कुछ ऐसा करते हैं, जो आगे चलकर कैंसर का कारण बन सकता है। हमारी कई आदतें कैंसर जैसी घातक बीमारी को जन्म दे रही है। इस आर्टिकल के माध्यम से जानिए कि आखिर वो कौन-सी आदते हैं जो कैंसर की बीमारी को जन्म दे रही है।

कौन-सी आदते हैं जो कैंसर का कारण हो सकती हैं?

अनहेल्दी हैबिट्स: ज्यादा नॉनवेज खाना हो सकता है कैंसर का कारण

कुछ लोगों को नॉनवेज खाना बहुत पसंद होता है लेकिन राष्ट्रीय कैंसर संस्थान के मुताबिक जब नॉनवेज को हाई टेम्प्रेचर पर पकाया जाता है तो ऐसे केमिकल रिएक्शन होते हैं जो डीएनए के बदलने का कारण बन सकते हैं। यदि आप नॉनवेज खाते हैं, तो कम खाएं। एक अध्ययन के मुताबिक कैंसर की शिकायत शाकाहारियों की तुलना में मांसाहारियों में ज्यादा पाई जाती हैं।

और पढ़ें : क्या फाइब्रॉएड एक कैंसर हैं?

अनहेल्दी हैबिट्स: ज्यादा शराब पीना हो सकता है कैंसर का कारण

ज्यादा शराब पीना आपकी सेहत पर बहुत बुरा असर डालता है। अमेरिकन कैंसर सोसायटी ने ओवर ड्रिंकिंग को गले, लिवर और ब्रेस्ट कैंसर का बड़ा कारण माना है। ऐसे में आपको शराब का सेवन कम से कम करना चाहिए। हो सके तो शराब से दूरी बना लेनी चाहिए। सीडीसी की रिपोर्ट के मुताबिक ज्यादा शराब पीने से छह तरह के के कैंसर हो सकते हैं। इसलिए आप जितना कम शराब पिएंगे, कैंसर का खतरा उतना कम हो जाएगा। इस बारे में अधिक जानकारी के लिए आप डॉक्टर से परामर्श करें।

प्लास्टिक बनता है कैंसर का कारण

प्लास्टिक के कंटेनर में गर्म खाना खतरनाक हो सकता है। अगर खाना 60 डिग्री सेल्सियस से अधिक है तो प्लास्टिक के कुछ कण खाने में मिल जाते हैं। लगातार ऐसे खाने का सेवन आपको कैंसर के मुंह में धकेल सकता है। कई रिसर्च में प्लास्टिक के कणों से खतरा नहीं बताया गया है पर लंबे समय तक ऐसा खानपान घातक रूप ले सकता है। बेहतर होगा कि प्लास्टिक का कम से कम उपयोग करें।

और पढ़ें : क्या आपको भी है बोन कैंसर, जानें इसके बारे में सब कुछ

फोन बन सकता है कैंसर का कारण

अगर आपको भी आदत है फोन को अपने पास रख कर सोने की तो यह आदत आज ही छोड़ दें । फोन से निकलने वाली रेडियोफ्रीक्वेन्सी ब्रेन कैंसर की बड़ी वजह बन सकती है। नेशनल कैंसर इंस्टीट्यूट की रिपोर्ट में दावा किया गया है सेलफोन की रेडिया वेव्स नाॅन आयोनाइजिंग रेडिएशन होती हैं। ऐसे में पास रखकर सोने से शरीर का सबसे करीबी अंग इस खतरनाक रेडिएशन को अवशोषित कर सकता है, जो कैंसर का कारण बन सकता है।

मेकअप हो सकता है कैंसर का कारण

breastcancer.org की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि मेकअप और स्किन केयर प्रोडक्ट ज्यादातर पैराबेन्स युक्त होते हैं। पैराबेन्स स्किन के लिए बहुत हानिकारक होते हैं और स्किन में एब्सॉर्ब होकर उसे नुकसान पहुंचाते हैं। यह ब्रेस्ट कैंसर सेल्स के निर्माण में सहायक होते हैं। पैराबेन्स मुख्य रूप से प्रजरवेटिव होते हैं, जो मॉइस्चराइजर, मेकअप, शेविंग जेल आदि में पाए जाते हैं। यानी जो ब्यूटी प्रोडक्ट हम लोग यूज करते हैं, उनमे से कई प्रोडक्ट कैंसर का कारण बन सकते हैं। हम सभी को सावधानी रखने की विशेष आवश्यकता है।

और पढ़ें : Colorectal Cancer: कोलोरेक्टल कैंसर क्या है?

कैंसर के कारण पर क्या कहती है रिसर्च?

दुनियाभर के साइंटिस्ट्स कैंसर का कारण और उपचार के लिए लगातार रिसर्च कर रहे हैं। संयुक्त रूप से यह बात निकलकर सामने आती है कि कैंसर किसी एक वजह से नहीं होता है इसके पीछे कई तरह के कारक होते हैं। ये जेनेटिक, वातावरण और हमारी लाइफ स्टाइल संबंधी हो सकते हैं। आज की लाइफस्टाइल फास्ट हो चुकी है। ऐसे में लोग न तो प्रॉपर खाते हैं और न ही शरीर की फिटनेस से लिए एक्सरसाइज कर पाते हैं। इन कारणों को भी कैंसर होने का मुख्य कारण माना जाता है। बेहतर होगा कि आप अपनी लाइफस्टाइल में सुधार करें।

फैमिली हिस्ट्री

कैंसर होना या न होना इस बात पर भी निर्भर करता है कि आपने परिवार में ये बीमारी हो चुकी है? अगर आपके परिवार में किसी को कैंसर है, तो जेनेटिक्स की वजह से आपको भी कैंसर होने की संभावन बनी रहती है। ऐसे में कैंसर से बचाव करने के लिए ज्यादा ध्यान देने की आवश्यक्ता होती है। लेकिन ऐसा जरूरी भी नहीं होता है कि फैमिली हिस्ट्री के कारण आगे आने वाली पीढ़ी को कैंसर हो। बेहतर होगा कि ऐसे लोग (जिनकी फैमिली कैंसर हिस्ट्री हो) कैंसर के प्रति सजग रहे और शक होने पर तुरंत जांच कराएं। सही समय पर कैंसर का ट्रीटमेंट कराने पर बीमारी से छुटकारा मिल जाता है।

कुछ वायरस बन सकते हैं कैंसर का कारण

स्टैंडफोर्ड की कैंसर रिसर्च में बताया गया है कि कैसे कुछ वायरस भी कैंसर की वजह बन सकते हैं। Epstein-Barr और एचआईवी वायरस (जो एड्स का कारक है) की वजह से भी कई तरह के कैंसर होने का खतरा बढ़ जाता है। इसके अलावा कई तरह की रेडिएशन और रेडियोएक्टिव मटेरियल के असर से कैंसर होने की संभावना बन जाती है।

और पढ़ें : पैंक्रिएटिक कैंसर सेल्स को 90 फीसदी तक खत्म कर सकता है यह मॉलिक्यूल

हो जाएं सावधान

अब आप समझ ही गए होंगे कि कैसे आप जाने- अनजाने बहुत कुछ ऐसा करते हैं जो आपके लिए कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों के जोखिम को बढ़ाता है। इन बातों पर शायद ही अपने पहले कभी ध्यान दिया हो लेकिन, अब थोड़ी सावधानी जरूर बरतें।

कैंसर की बीमारी को लाइफस्टाइल में सुधार कर रोका जा सकता है। जो लोग खानपान हेल्दी फूड शामिल नहीं करते हैं या फिर शरीर की फिटनेस के लिए एक्सरसाइज नहीं करते हैं, उनके शरीर में विभिन्न प्रकार के रोग लगने का खतरा अधिक होता है। बेहतर होगा कि आप हेल्दी लाइफस्टाइल अपनाएं और कैंसर के खतरे को कम करें।

उम्मीद करते हैं कि आपको इस आर्टिकल की जानकारी पसंद आई होगी और आपको कैंसर के खतरे से जुड़ी सभी जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

उपरोक्त दी गई जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए आप कैंसर विशेषज्ञ से भी सलाह ले सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Alcohol and Cancer/  https://www.cdc.gov/cancer/alcohol/index.htm  Accessed/17/dec/2019

Alcohol and Cancer Risk Fact Sheet/https://www.cancer.gov/about-cancer/causes-prevention/risk/alcohol/alcohol-fact-sheet Accessed/17/dec/2019

What Causes Cancer?/   https://www.cancer.org/cancer/cancer-causes.html   Accessed/17/dec/2019

Causes of Cancer/  https://www.cancerresearchuk.org/about-cancer/causes-of-cancer  Accessed/17/dec/2019

Cell Phones and Cancer Risk/  https://www.cancer.gov/about-cancer/causes-prevention/risk/radiation/cell-phones-fact-sheet Accessed/17/dec/2019

Exposure to Chemicals in Cosmetics/ https://www.cancer.org/cancer/cancer-causes/antiperspirants-and-breast-cancer-risk.html  Accessed/17/dec/2019

लेखक की तस्वीर
Priyanka Srivastava द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 23/04/2021 को
Dr. Pooja Bhardwaj के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड
x