8 मंथ प्रेग्नेंसी डायट चार्ट, जानें इस दौरान क्या खाएं और क्या नहीं?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट अक्टूबर 23, 2020 . 7 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

आपने कई बार सुना होगा हर औरत का सपना होता है मां बनना। इतना ही नहीं  मां बनना एक औरत के जीवन की सबसे बड़ी जीत होती है, क्योंकि इस दौरान वो एक साथ दो जिंदगी अपने अंदर पाल रही होती है। एक औरत जब गर्भ से होती है, तो उसके द्वारा किया गया हर कार्य, आहार का उसके गर्भ में पल रहे शिशु पर प्रभाव पड़ता है। जैसे-जैसे गर्भावस्था का समय बीतता जाता है, आपका शिशु के लिए जिम्मेदारी और सावधानी दोनों बढ़ने लगती है। इस दौरान आपको यह पता होना बेहद आवश्यक हो जाता है, की आपको गर्भावस्था के किस मंथ में क्या खाना है,कितना खाना है। क्योंकि आपकी जरा सी लापरवाही आपके और आपके शिशु के जोखिम पैदा कर सकती है।आपको हमारे वेबसाइट में गर्भावस्था के पहले महीने से नौंवे महीने तक का डाइट चार्ट मिल जाएगा। जिसकी मदद से आप अपने और अपने शिशु का ध्यान आसानी से रख सकती है। तो आज इस आर्टिकल में हम आपको बताने वाले हैं की यदि आप अपनी गर्भावस्था के 8 मंथ में  प्रवेश कर चुकी हैं, तो आपके किन-किन बातों का ध्यान रखना चाहिए और क्या कब खाना चाहिए। तो आइए जानते हैं 8 मंथ प्रेग्नेंसी डायट चार्ट में क्या-क्या शामिल है।

और पढ़ें : अनचाही प्रेग्नेंसी (Unplanned Pregnancy) से कैसे डील करें?

गर्भावस्था के आंठवे महीने में क्या खाएं

जब गर्भावस्था में खाने की बात आती है, तो महिलाओं को केवल यह सुनने को मिलता है, ऐसी अवस्था में अच्छा-अच्छा और हेल्दी खाना ही खाना खाएं जिससे शिशु स्वस्थ हो। लेकिन कोई ये नहीं बताता  कि अच्छा और हेल्दी खाने में क्या खाया जाए। तो आज हम आपको बताने वाले हैं, कि आप अपने आंठवे महीने में क्या-क्या खाएं।

मछली का सेवन

आपको बता दें की मछली में आयरन की एक बड़ी मात्रा होती है, जो गर्भावस्था के दौरान बेहद महत्वपूर्ण है। आयरन की कमी से एनीमिया होता है, जिससे मां में सामान्य थकान की भावना पैदा हो सकती है। मछली में प्रोटीन जैसे अन्य महत्वपूर्ण पोषक तत्व भी होते हैं, जो  8 मंथ प्रेग्नेंसी डाइट चार्ट  के लिए एक बढ़िया ऑप्शन बनाता है।

और पढ़ें : प्रेग्नेंसी में बीपी लो क्यों होता है – Pregnancy me low BP

विटामिन और खनिजों से भरपूर खाद्य पदार्थ लें

अपनी गर्भावस्था के लगभग अंतिम महीने के दौरान, आपके लिए उन खाद्य पदार्थों का सेवन करना महत्वपूर्ण होता है, जो आयरन और कैल्शियम से भरपूर होते हैं। रक्त की कमी प्रसव का एक हिस्सा है और आपको यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि आप अपने आहार में पर्याप्त आयरन शामिल करें। कैल्शियम आपके और बच्चे की हड्डियों को मजबूत बनाए रखेगा। विटामिन के लिए आप अपने आहार में ये शामिल कर सकते हैं। 

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।
  • हरे पत्ते वाली सब्जियां
  • नट्स
  • खुबानी
  • ड्राई फ्रूट्स
  • अंडे की जर्दी
  • लीन मांस
  • मछली
  • दुग्ध उत्पाद
  • केले

डेयरी उत्पाद का सेवन

 डेयरी उत्पादों का सेवन शिशु के विकास के लिए बहुत अच्छा होता है। दूध सहित डेयरी उत्पाद, कैल्शियम और पोटेशियम, प्रोटीन, विटामिन और खनिजों का एक संपूर्ण स्रोत होता हैं। गर्भावस्था के अंतिम महीने में डेयरी उत्पादों का सेवन करने से शिशु के विकास पर प्रभाव पड़ता है। अगर आपको डेयरी प्रोडक्ट से किसी प्रकार की समस्या महसूस हो रही हो तो इस बारे में डॉक्टर को जरूर बताएं। 

और पढ़ें : अपनी सबसे बेहतर प्रजनन क्षमता के दिन जानिए इस ओव्युलेशन कैलक्युलेटर के

कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन और वसा से भरपूर खाद्य पदार्थ

 8 मंथ प्रेग्नेंसी डाइट चार्ट में आपको कार्बोहाइड्रेट,प्रोटीन और वसा के सेवन करना सबसे अधिक आवश्यक होता है। जो आपको नीचे दिए गए पदार्थों में पर्याप्त मात्रा में मिल सकता है। जो इस प्रकार से हैं।

प्रोटीन के लिए

  1. चिकन ब्रेस्ट
  2. दूध
  3. दही
  4. सोया दूध
  5. फलियां
  6. लीन मांस
  7. सफेद अंडे
  8. टोफू
  9. मछली

और पढ़ें : सेहत के लिए शुगर या शहद के फायदे?

कार्बोहाइड्रेट के लिए

  1. आलू
  2. फलियां
  3. नट्स
  4. जामुन
  5. साबुत अनाज
  6. अनाज
  7. मीठे आलू
  8. तरबूज

वसा के लिए

  1. अंडे
  2. पीनट बटर
  3. नट्स
  4. मछली

और पढ़ें : क्या आप जानते हैं गर्भावस्था के दौरान शहद का इस्तेमाल कितना लाभदायक है?

संतरे का सेवन

बड़ी मात्रा में फाइबर होने के अलावा, संतरे में बड़ी मात्रा में विटामिन सी भी होता है, जो शरीर के लिए एक आवश्यक पोषक तत्व है। विटामिन सी महत्वपूर्ण है, ये  आयरन  के अवशोषण में मदद करता है। विटामिन सी के अन्य स्रोतों में टमाटर, नींबू और गोभी शामिल हैं।

लाल मांस का सेवन

जो महिलाएं नॉनवेज का सेवन करती हैं उनका लिए यह एक बेहतर ऑप्शन हो सकता है। रेड मीट गर्भावस्था में आहार के लिए एक बढ़िया विकल्प है, क्योंकि यह आयरन और प्रोटीन का एक समृद्ध स्रोत है। ये मां और शिशु दोनों के लिए आवश्यक खनिज हैं, क्योंकि ये शिशु के विकास को गति देने में मदद करते हैं। तो वहीं मां के सामान्य स्वास्थ्य को बेहतर कर सकता है, क्योंकि इसमें ऐसे खनिज होते हैं जो गर्भावस्था के दौरान आपको थका हुआ या बीमार होने से बचाते हैं।

और पढ़ें : गर्भावस्था में राशि के अनुसार खाएं फूड, ये होंगे फायदे

केले का सेवन

अगर हम बात करें सबसे पुराने फलों में से एक की तो, केला प्राचीन काल से ही आवश्यक विटामिन और खनिजों का एक बड़ा स्रोत रहा है। केला पोटेशियम, कैल्शियम, और आयरन से भरपूर होते हैं, जिससे यह किसी भी महिला के आहार में जरूरी है। सबसे पहली बात तो वे पाचन को भी बढ़ावा देते हैं और कब्ज से राहत देते हैं, जिससे गर्भवती महिला को आराम मिलता है, क्योंकि वे घुलनशील फाइबर का एक समृद्ध स्रोत हैं।

पत्तीदार शाक भाजी का सेवन

गर्भावस्था के दौरान फाइबर युक्त खाद्य पदार्थ महत्वपूर्ण हैं, क्योंकि वे तीसरी तिमाही के दौरान अतिरिक्त वजन और अतिरिक्त हार्मोन स्राव के कारण होने वाली कब्ज की समस्या को रोकने में मदद करते हैं। पत्तेदार सब्जियों में फाइबर, पोटेशियम और कैल्शियम जैसे अन्य खनिजों के साथ-साथ पर्याप्त मात्रा में फाइबर होता है। वे आंठवे महीने की गर्भावस्था महिलाओं के लिए एक बढ़िया आहार हैं।

और पढ़ें : दूसरी तिमाही में गर्भवती महिला को क्यों और कौन से टेस्ट करवाने चाहिए?

पीनट बटर

आंठवे महीने की गर्भावस्था के दौरान शरीर के लिए वसा की आवश्यकता होती है, हालांकि बहुत से लोग इसको सही नहीं मानते हैं। जबकि वसा में उच्च खाद्य पदार्थ सख्ती से ऑफ-लिमिट हैं, महत्वपूर्ण फैटी एसिड अभी भी एक गर्भवती महिला के आहार का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। ओमेगा -3 एक महत्वपूर्ण फैटी एसिड का एक उदाहरण है जो भ्रूण के मस्तिष्क के विकास में बहुत योगदान देता है। इसके साथ गर्भवती महिलाओं में रक्त की कमी का ख्याल भी रखता है। पीनट बटर जैसे अच्छे वसा के अन्य स्रोत अंडे और मछली हैं।

फाइबर वाले खाद्य पदार्थ

आपकी गर्भावस्था के इस चरण के दौरान उच्च फाइबर खाद्य पदार्थ महत्वपूर्ण हैं। इन खाद्य पदार्थों का उच्च पोषक जरूरी होता है। इनमें फाइबर की सही मात्रा भी होती है जो आपको अपनी गर्भावस्था के आखिरी महीनों में मिलना चाहिए। जो इस प्रकार से हैं।

और पढ़ें : हमारे ऑव्युलेशन कैलक्युलेटर का उपयोग करके जानें अपने ऑव्युलेशन का सही समय

  • मक्का
  • सफेद सेम
  • काले सेम
  • एवोकाडो
  • साबुत गेहूं की चपाती
  • भूरा चावल
  • पूरे गेहूं की ब्रेड
  • गोभी
  • ब्रोकोली
  • पत्तेदार हरी सब्जियां
  • अजवायन

 8 मंथ प्रेग्नेंसी डाइट चार्ट देखें

यह तय करना कि आप क्या खाते हैं, आपके बच्चे को स्वस्थ होने में मदद करता है।  इस 8 मंथ प्रेग्नेंसी डाइट चार्ट में हमने यह बताने की कोशिश की है,कि 8 वें महीने की गर्भावस्था के लिए एक सामान्य आहार योजना क्या हो सकती है और गर्भावस्था के 8 वें महीने में क्या खाना चाहिए। गर्भावस्था में डायट प्लान करने के साथ ही यह भी तय करें कि खाना एक साथ न खाएं  वरना पेट में भारीपन महसूस हो सकता है। खाने को दिनभर कई भागों में बांटकर सेवन करें। 

और पढ़ें : गर्भावस्था और काम के बीच कैसे बनाएं बैलेंस?

ब्रेकफास्ट से पहले

निम्न में से कोई भी समान रूप से पौष्टिक होता है, और पूर्व-नाश्ते के रूप में होना चाहिए।

  • सेब का रस
  • टमाटर का रस
  • ए 2 गाय के दूध का एक गिलास
  • बादाम का दूध
  • मिल्कशेक
  • मेवे

और पढ़ें : प्रेग्नेंसी के दौरान होने वाले इंफेक्शन हो सकते हैं खतरनाक, न करें इग्नोर

8 मंथ प्रेग्नेंसी डायट चार्ट : नाश्ता

8 महीने की गर्भावस्था के लिए एक स्वस्थ नाश्ता हो सकता है

  • कटलेट
  • सब्जी सैंडविच
  • बम्बिनो उपमा
  • ताजे फलों का एक कटोरा
  • सब्जियां
  • ओट्स दलिया
  • पूरी या गेहूं का मक्खन टोस्ट
  • दही के साथ भरवां पराठा

और पढ़ें : इनफर्टिलिटी से बचने के लिए इन फूड्स से कर लें तौबा

8 मंथ प्रेग्नेंसी डायट चार्ट : मध्य-सुबह का नाश्ता

इसमें किसी भी प्रकार का सूप ले सकते हैं जैसे,

  • चिकन सूप
  • गाजर, बीट और ड्रमस्टिक्स सूप
  • टमाटर सूप
  • पालक का सूप

दोपहर का भोजन

दोपहर का भोजन किसी एक या निम्नलिखित का संयोजन होना चाहिए,

  • सब्जी, दाल और चावल के साथ रोटी
  • सब्जी, दाल और चावल के साथ परांठा
  • एक कटोरी दही के साथ भरवां परांठा
  • दाल तड़का और जीरा चावल
  • चावल के साथ चिकन सूप
  • दही चावल

और पढ़ें : मिसकैरिज : ये 4 लक्षण हो सकते हैं खतरे की घंटी, गर्भपात के बाद खुद को कैसे संभालें?

8 मंथ प्रेग्नेंसी डायट चार्ट : शाम में नाश्ता

  • मकई पनीर सैंडविच
  • भरवां इडली
  • समोसा
  • सब्जी कटलेट
  • पनीर या सब्जी सैंडविच
  • मूंगफली चाट
  • सब्जी उत्तपम
  • सब्जी उपमा

रात का खाने में लें

  • दाल, चावल और हरी सलाद
  • रोटी, दाल, खिचड़ी
  • सब्जी की खिचड़ी
  • भरवां पराठा और एक कटोरी दही।

और पढ़ें : प्रेग्नेंसी के दौरान भूलकर भी न लगवाएं ये तीन वैक्सीन, हो सकता है खतरा

गर्भावस्था के 8 वें महीने के दौरान किन खाद्य पदार्थों से बचें?

आपकी गर्भावस्था के इस चरण के दौरान, कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ होते हैं, जिनसे आपको लेने से बचना चाहिए। आपको और आपके बच्चे को फायदा पहुंचाने के लिए आपको गर्भावस्था में पौष्टिक खाद्य पदार्थ खाना हमेशा महत्वपूर्ण होता है। गर्भावस्था के 8 वें महीने में कुछ ऐसे आहार हैं, जिन्हें आपको अपना दैनिक आहार बनाने से बचना चाहिए।जो इस प्रकार से हैं।

कॉफी का सेवन करने बचें

जैसे-जैसे आपकी प्रसव की तारीख नजदीक आती जाती है आपको अधिक सावधानी बरतने की आवश्यकता होती है। आप अपने आप को संकुचित होते देखेंगे जो वास्तव में असहज हो सकता है,इस लक्षण को कम करने का है की कॉफी को अपने दैनिक आहार का हिस्सा न बनाएं। आपको कैफीन युक्त पेय पदार्थों जैसे वातित शीतल पेय आदि का सेवन भी कम करना चाहिए।

और पढ़ें : गर्भावस्था से ही बच्चे का दिमाग होगा तेज, जानिए कैसे?

कच्चे दूध से बचें

आपको बिना पके बकरी, गाय और भेड़ के दूध से बचना चाहिए। गर्भावस्था के दौरान बकरी का दूध बहुत जोखिम भरा होता है क्योंकि यह टॉक्सोप्लाज्मोसिस के उच्च जोखिम के साथ आता है। दूध को एक उबाल आने तक जरूर पका लें ताकि जर्म्स से बचा जा सके। 

शार्क, मर्लिन और स्वोर्डफिश लेने से बचें

इस प्रकार की मछलियों में उच्च मात्रा में मेथिल मरकरी होती है। जो आपके गर्भ में बच्चे के तंत्रिका तंत्र के लिए हानिकारक हो सकती है। यदि आप मछली खाने जा रहे हैं, तो उन चीजों को चुनें जो बहुत फैटी नहीं हैं और आपको और आपके बच्चे को आवश्यक पोषण प्रदान करते हैं।

और पढ़ें : गर्भावस्था में ओरल केयर न की गई तो शिशु को हो सकता है नुकसान

सॉफ्ट चीज लेने से बचें

पनीर जो ब्री जैसे मोल्ड के साथ पक गए हैं, साथ ही पनीर जिसमें डेनिश ब्लू है उनमें अक्सर लिस्टेरिया हो सकता है। यही कारण है कि उन्हें गर्भावस्था के दौरान इससे बचना चाहिए। यदि आप पनीर खाना चाहते हैं, तो हार्डर जैसे चेडर का विकल्प चुन सकते हैं।

कच्चे या अधपके अंडे लेने से बचें

अंडे जिन्हें हल्के से पकाया गया है या कच्चा है, उन्हें गर्भावस्था के दौरान खाने से बचना चाहिए। उनमें साल्मोनेला बैक्टीरिया होने का एक उच्च जोखिम है जो खाद्य विषाक्तता का कारण बनता है।

और पढ़ें : क्या है गर्भावस्था के दौरान केसर के फायदे, जिनसे आप हैं अनजान

कच्चे शैल मछली लेने से बचें

आपको गर्भावस्था के दौरान कच्ची मछली जैसे सुशी इन्हें कच्चा खाने से बचना चाहिए। यह खाद्य विषाक्तता के उच्च जोखिम के कारण है।जो ये खाद्य पदार्थ पैदा कर सकते हैं।

शराब और तंबाकू के सेवन से बचें

आपको गर्भावस्था में शराब और तंबाकू का सेवन नहीं करना चाहिए।। वे आपके बच्चे को बहुत नुकसान पहुंचा सकते हैं और बच्चा स्वास्थ्य जटिलताओं के साथ पैदा हो सकता है। शराब का सेवन न तो प्रेग्नेंसी के पहले करना चाहिए और न ही गर्भावस्था के दौरान। वहीं तंबाकू का सेवन कैंसर का कारण भी बन सकता है इसलिए बेहतर है कि आप स्वस्थ्य आहार पर ध्यान दें। 

और पढ़ें : क्या हैं आंवला के फायदे? गर्भावस्था में इसका सेवन करना कितना सुरक्षित है?

नोट: इस बात का बहुत ध्यान रखें कि आप इसमें क्या लेते हैं और यह आपके अजन्मे बच्चे को भी प्रभावित करेगा। गर्भावस्था के हर चरण के दौरान सही और स्वस्थ भोजन करना महत्वपूर्ण है। आप अपने और अपने बच्चे की भलाई के लिए खा रहे हैं, इसलिए सुनिश्चित करें कि आप केवल स्वास्थ्यप्रद और सबसे अधिक पौष्टिक आहार खाएं। यह आपके बच्चे को ठीक से विकसित होने और बढ़ने में मदद करेगा। अच्छी तरह से भोजन करना यह भी सुनिश्चित करेगा कि जब आप जन्म का समय हो तो आप मजबूत हों। गर्भवती होने के दौरान खुद की अच्छी देखभाल करना महत्वपूर्ण है। आप स्वास्थ्य संबंधि अधिक जानकारी के लिए हैलो स्वास्थ्य की वेबसाइट विजिट कर सकते हैं। अगर आपके मन में कोई प्रश्न है तो हैलो स्वास्थ्य के फेसबुक पेज में आप कमेंट बॉक्स में प्रश्न पूछ सकते हैं। 

powered by Typeform

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

प्रेग्नेंसी में हेयर रिमूवल टिप्स क्यों अपनाना है जरूरी?

जानिए क्या है आसान प्रेग्नेंसी में हेयर रिमूवल टिप्स? प्रेग्नेंसी में वैक्सिंग नहीं करवाने से क्या हो सकती है परेशानी? Pregnancy hair removal tips में क्या करें शामिल?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Nidhi Sinha
प्रेग्नेंसी स्टेजेस, प्रेग्नेंसी अप्रैल 27, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

प्रेग्नेंसी में इम्यून सिस्टम पर क्या असर होता है?

जानें प्रेगनेंसी में इम्यून सिस्टम कमजोर होने के कारण शिशु पर इसका क्या प्रभाव पड़ सकता है। साथ ही प्रेगनेंसी में इम्यूनिटी पावर बढ़ाने के लिए टिप्स।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shivam Rohatgi
प्रेग्नेंसी स्टेजेस, प्रेग्नेंसी अप्रैल 16, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

प्रेग्नेंसी में केला खाना चाहिए या नहीं?

प्रेग्नेंसी में केला खाने के क्या फायदे होते हैं और साथ इसके दुष्प्रभावों से बचने के लिए इसे कितनी मात्रा में खाना चाहिए। Benefits of banana in pregnancy.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shivam Rohatgi
प्रेग्नेंसी स्टेजेस, प्रेग्नेंसी अप्रैल 15, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

प्रेग्नेंसी के दौरान कीड़े हो सकते हैं पेट में, जानें इससे बचाव के तरीके

इस लेख में जाने प्रेगनेंसी में पेट में कीड़े क्यों होते हैं, कैसे फैलते हैं और उन्हें कैसे रोकें। Pregnancy me pet me kide ke gharelu upay in Hindi.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Shivam Rohatgi
डिलिवरी केयर, प्रेग्नेंसी अप्रैल 6, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

गर्भावस्था के दौरान खरबूज का सेवन/muskmelon In Pregnancy

गर्भावस्था के दौरान खरबूज का सेवन करने से हो सकते हैं कई फायदे

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr Ruby Ezekiel
के द्वारा लिखा गया shalu
प्रकाशित हुआ जुलाई 28, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
5 मंथ प्रेगनेंसी डाइट चार्ट, 5 month pregnancy diet chart

5 मंथ प्रेग्नेंसी डाइट चार्ट, जानें इस दौरान क्या खाएं और क्या न खाएं?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anu sharma
प्रकाशित हुआ जुलाई 14, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
गर्भावस्था में आंवला के फायदे

क्या हैं आंवला के फायदे? गर्भावस्था में इसका सेवन करना कितना सुरक्षित है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anu sharma
प्रकाशित हुआ जुलाई 8, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
प्रेग्नेंसी में उपवास- Fast during pregnancy

रमजान का महीना जानें प्रेग्नेंसी में उपवास या रोजा कैसे करें?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Nidhi Sinha
प्रकाशित हुआ अप्रैल 30, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें