home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

स्किन और हेयर के लिए ग्रीन-टी के फायदे

स्किन और हेयर के लिए ग्रीन-टी के फायदे

बालों का झड़ना और कई त्वचा संबंधित समस्याओं से आज के समय में अधिकतर लोग परेशान हैं। झड़ते बालों को कम करने और त्वचा की समस्याओं से निपटने के लिए आपने न जाने कितनी दवाईयों और अन्य ट्रीटमेंट्स का प्रयोग किया होगा। त्वचा और बालों संबंधित समस्याओं से निजात पाने के लिए ग्रीन-टी के उपयोग तरह-तरह से किए जा सकते हैं। इसलिए, आज हम आपको बताने जा रहें हैं ग्रीन-टी के फायदे जो स्किन और बालों दोनों को ही लाभ पहुंचाते हैं। ग्रीन-टी के फायदे से आपकी त्वचा और बालों की खोई हुई चमक वापस आ जाएगी। तो जानते हैं स्किन और बालों के लिए ग्रीन-टी के फायदे-

ये भी पढ़े सिर्फ ग्रीन-टी ही नहीं, इंफ्यूजन-टी भी है शरीर के लिए लाभकारी

बाल गिरने की समस्या को कैसे कम करती है ग्रीन-टी?

  • ग्रीन-टी के नैचुरल कैटेचिन (Catechins)का कमाल :

ग्रीन-टी में कैटेचिन (catechins) काफी मात्रा में पाया जाता है। ये कैटेचिन डिहाइड्रोटेस्टोस्टेरोन (DHT) के स्तर को घटाने में मदद करते हैं, जो बालों के झड़ने का प्रमुख कारण है। नियमित रूप से ग्रीन-टी पीने से आपके बाल स्वस्थ रहेंगे और उनका झड़ना भी कम होगा।

यह भी पढ़ें : गर्दन की झुर्रियां करनी है कम? ट्राई करें ये तरीके

  • ग्रीन-टी भरपूर पॉलीफेनॉल्स (Polyphenols) घटाते हैं हेयर लॉस :

ग्रीन-टी में मौजूद पॉलीफेनोल्स को कैसे भूल सकते हैं? एपिगैलोकैटेचिन (Epigallocatechin) या ई.जी.सी.जी मुख्य पॉलीफेनोल है, जोकि ग्रीन-टी में मौजूद है। यह पॉलीफेनोल बालों के विकास के लिए प्रभावकारी है। यह जड़ों को मजबूत करने के साथ बालों की ग्रोथ में भी मदद करता है।

  • ग्रीन-टी तनाव को कम करता है:

बालों के झड़ने का प्रमुख कारण तनाव भी है और ग्रीन-टी तनाव (stress) को कम करने में सहायक भी है। जोकि कई बार आपको डिप्रेशन से लड़ने में भी मदद भी करती है। तनाव जब भी महसूस हो तो उसे कम करने के लिए आप ग्रीन-टी का इस्तेमाल कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें : सब्जा (तुलसी) के बीज से कम करें वजन और इससे जुड़े 8 अमेजिंग बेनिफिट्स

त्वचा के लिए ग्रीन-टी के फायदे

स्वास्थ्य के लिए ग्रीन-टी के फायदे हैं तो त्वचा के लिए भी इसके फायदे कम नहीं हैं। खूबसूरत और बेदाग त्वचा के लिए ग्रीन टी के घरेलू उपचारों पर ध्यान दें।

ग्रीन-टी के फायदे दे त्वचा को नमी

बदलते मौसम में ड्राई स्किन की समस्या होने लगती है। बार-बार मॉइश्चराइजर का इस्तेमाल चेहरे पर करना पड़ता है, फिर भी ड्राइनेस से छुटकारा नहीं मिलता है। ऐसे में ग्रीन-टी का इस्तेमाल त्वचा के रूखेपन को दूर कर सकता है। ग्रीन-टी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट रूखी और बेजान त्वचा के लिए लाभदायक होते हैं। इसके लिए ग्रीन-टी को फेस पैक का इस्तेमाल करें।

ग्रीन-टी का ऐसे करें उपयोग

एक चम्मच ग्रीन-टी में दो चम्मच शहद मिलाकर एक पेस्ट तैयार कर लें। साफ चेहरे पर लगाएं फिर इसे 15 से 20 मिनट तक अपने चेहरे पर लगा रहने दें। उसके बाद ठंडे पानी से फेस धो लें और सूखने के बाद क्रीम लगा लें। ऐसा हफ्ते में एक बार करने से चेहरे की नमी वापस आएगी।

यह भी पढ़ें : शहद के लाभ : शहद के 7 फायदे ऐसे जिनको सुनकर दंग रह जाएंगे

मुंहासों के लिए ग्रीन-टी के फायदे

एक्ने की समस्या को दूर करने के लिए आप ग्रीन-टी का इस्तेमाल कर सकती है। इसमें कैटेकिन होता है, जिसमें एंटी-माइक्रोबियल गुण होते हैं और मुंहासे पैदा करने वाले बैक्टीरिया को खत्म करते हैं। ग्रीन-टी में मौजूद एंटी-इन्फ्लेमेटरी गुण मुंहासों की जलन को कम करता है। साथ ही ग्रीन-टी पीने से पिंपल्स का कारण बनने वाले असंतुलित हार्मोन में भी सुधार होता है।

ग्रीन-टी का ऐसे ऐसे करें उपयोग

आप ग्रीन-टी बनाकर इसे ठंडा करके स्प्रे बोतल में भर दें। चेहरा धुलने के बाद टोनर के रूप में इसका इस्तेमाल करें। सूखने पर मॉइश्चराइजर लगा लें।

यह भी पढ़ें : डैंड्रफ से लेकर मुंहासे तक के लिए फायदेमंद है लैवेंडर ऑइल

झुर्रियों के लिए ग्रीन-टी के फायदे

ग्रीन-टी के फायदे से त्वचा पर आने वाली झुर्रियां भी कम की जा सकती हैं। झुर्रियों को कम करने के लिए ग्रीन-टी क्रीम भी आती हैं। इसके लिए ग्रीन-टी और हनी फेसपैक का इस्तेमाल किया जा सकता है। ग्रीन-टी में मौजूद एंटी-इन्फ्लेमेटरी गुण झुर्रियों को कुछ हद तक कम करते हैं। साथ ही शहद में मौजूद एंटी-बैक्टीरियल गुण चेहरे को साफ रखने के साथ ही चेहरे के टेक्सचर को भी सुधारता है।

ऐसे करें उपयोग

आप ग्रीन-टी को भिगोएं। फिर इसमें शहद को मिलाकर फेस पैक तैयार करें। इस पैक को अपने चेहरे पर लगाकर थोड़ी देर सूखने दें। फिर ठंडे पानी से धो लें।

यह भी पढ़ें : स्किन टाइटनिंग के लिए एक बार करें ये उपाय, दिखने लगेंगे जवान

सनबर्न या टैन निकालने में ग्रीन-टी के फायदे

सनबर्न या टैन को दूर करने के लिए आप ग्रीन-टी के नुस्खे को आजमा सकते हैं। ग्रीन-टी त्वचा को ठंडक और आराम पहुंचाती है। इसके एंटीऑक्सीडेंट तत्व टैन और दाग-धब्बों को मिटाते हैं।

ऐसे करें उपयोग

थोड़ी ग्रीन-टी बनाएं। इसे ठंडा करके कॉटन बॉल से फेस पर लगाएं। 10 मिनट बाद पानी से धो लें। आप इसे दिन में दो बार लगा सकते हैं।

यह भी पढ़ें : अब टैनिंग हटाने नहीं, कराने के लिए सलून पहुंच रहे लोग

डार्क सर्कल दूर होंगे ग्रीन-टी के फायदे से

तनाव या रात को देर से सोना या अनिद्रा की वजह से डार्क सर्कल की परेशानी होने लगती है। ग्रीन-टी में टैनिन होते हैं, जो एस्ट्रिंजेंट (टिश्यू में कसाव लाने वाला गुण) के गुण होते हैं। इससे फैले हुए रक्त वाहिकाओं और कोशिकाओं में कसाव लाता है, जिससे डार्क सर्कल्स कम होते हैं। इसके प्रयोग से पफी आईज की परेशानी भी कम होती है।

ऐसे करें उपयोग

ग्रीन-टी के बैग को पानी में डुबाकर फिर फ्रिज में रख दें। फिर ठंडे ग्रीन-टी बैग को आंखों के नीचे 10 से 15 मिनट तक रखें।

यह भी पढ़ें : तनाव से लेकर कैंसर तक को दूर कर सकता है चीकू, जानिए इसके फायदे

ग्रीन-टी पीने से त्वचा को होने वाले लाभ :

ग्रीन-टी पीने के फायदे भी स्किन को मिलते हैं। इसके इस्तेमाल से कई तरह की स्किन प्रॉब्लम्स दूर होती हैं।

  • ग्रीन-टी में उपस्थित कैफीन और टैनिन डार्क सर्कल्स को ठीक करने के लिए बहुत ही लाभकारी है। कैफीन और टैनिन आंखों के चारों ओर ब्लड वेसल्स को सिकोड़ने में मदद करते हैं, जिससे डार्क सर्कल्स में कमी आती है।
  • ग्रीन-टी मुँहासों के इलाज के लिए एक शक्तिशाली एंटीबैक्टीरीयल एजेंट है। इसमें पाए जाना वाला पॉलीफेनॉल्स संक्रमण से लड़ते हैं और बैक्टीरिया के विकास को रोकते हैं, जिसकी वजह से हमें मुँहासे की समस्या होती हैं।
  • इसमें ई.जी.सी.जी नामक एक शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट होता है जो स्किन कैंसर को रोकने के लिए यूवी किरणों से डी.एन.ए की क्षति को रोकता है। इसका मतलब है कि यह एक शक्तिशाली एंटी-एजिंग औषधि है, जो हमारी त्वचा को ज्यादा से ज्यादा जवान बनाए रखने में मददगार साबित हो सकती है।
  • अब आपको इस बात का बेहतर अंदाजा लग गया होगा कि ग्रीन-टी के कितने फायदे हैं और इसका इस्तेमाल कैसे कर सकते हैं। ग्रीन-टी के औषधीय गुणों का लाभ उठाकर आप अपनी त्वचा और बालों को बेहतर कर सकते हैं।

ग्रीन-टी के फायदे उठाने से पहले इसके उपयोग के संबंध में डॉक्टर से जरूर परामर्श करें।

और भी पढ़ें :-

क्या मधुमेह में उपयोगी है ग्रीन-टी? जानें इसके फायदे

हेल्दी स्किन के लिए नए साल में नए टिप्स, इन्हें जरूर आजमाएं

वेट लॉस के लिए डायट के साथ वेट लॉस ड्रिंक्स भी आजमाएं

क्या ग्रीन-टी या कॉफी थायरॉइड पेशेंट्स के लिए फायदेमंद हो सकती है?

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

10 Benefits of Green Tea Extract. https://www.healthline.com/nutrition/10-benefits-of-green-tea-extract#section7. Accessed on 08 Jan 2020

Antioxidant and antibacterial properties of green, black, and herbal teas of Camellia sinensis. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3249787/Accessed on 08 Jan 2020

Green Tea for Your Skin. https://www.healthline.com/health/benefits-of-green-tea-for-skin. Accessed on 08 Jan 2020

Skin photoprotection by green tea: antioxidant and immunomodulatory effects. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/12871030. Accessed on 08 Jan 2020

Beneficial effects of green tea: A literature review. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2855614/. Accessed on 08 Jan 2020

Human hair growth enhancement in vitro by green tea epigallocatechin-3-gallate (EGCG).https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/17092697. Accessed on 08 Jan 2020

लेखक की तस्वीर badge
Pawan Upadhyaya द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 04/05/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x