home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

जरूरी नहीं है कि हर बार चीज़ का सेवन नुकसानदेह हो, इसके कई हेल्थ बेनेफिट्स भी हो सकते हैं

जरूरी नहीं है कि हर बार चीज़ का सेवन नुकसानदेह हो, इसके कई हेल्थ बेनेफिट्स भी हो सकते हैं

चीज़ आज के समय में अधिकतर लोगों की पसंद है, लेकिन लोग अक्सर चीज़ को अनहेल्दी की नजर से देखते हैं। पर यह धारण पूर्ण रूप से सही नहीं है। वैसे तो चीज़ का इस्तेमाल अधिकतर जंक फूड में किया जाता है, जिसमें चीज़ अधिक मात्रा में होता है। इसके अलावा ऐसे और भी कई फूड हैं, जिसमें इसका इस्तेमाल होता है। कई लोग खाली चीज़ या इसे ब्रेड के साथ इसे खाना पसंद करते हैं। चीज़ का सेवन से आपको फैट के साथ कई पोषक तत्व भी मिल सकते हैं। कई रिचर्स में यह भी पाया गया है कि चीज़ का सेवन रक्त वाहिकाओं को सोडियम से होने वाले नुकसान से बचाने में मदद कर सकता है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सिडेंट भी सेहत के लिए अच्छा होता है। जोकि शरीर को कई बीमारियों से बचाने में प्रभावकारी है। चीज़ के हेल्थ बेनेफिट्स के बारे में लोगों को कम पता है, तो

और पढ़ें: डायट में हर्ब को शामिल कर साइनस से पा सकते हैं निजात, जानें कैसे करें इसका इस्तेमाल

चीज़ के प्रकार ( Types of Cheese)

चीज़ में भी हजारों किस्में हैं, हल्के से लेकर लोडेड चीज़। सबका स्वाद भी अलग-अलग है। चीज़ दूध से बना डेयरी प्रोडक्ट है । चीज़ के हेल्थ बेनेफिट्स भी बहुत सारे हैं-

होल मिल्क चीज़ (Whole-milk chees): इसमें 6 से 10 ग्राम में 28 ग्राम वसा होता है और 4 ग्राम से 6 ग्राम सैचरेटेड फैट होता है।

लो फैट चीज़ (Low-fat or reduced-fat cheese): ये स्किम मिल्क से बना हुआ चीज़ होता है। इसलिए लो फैट होता है।

फ्रेश चीज़ (Fresh cheeses): फ्रेश चीज़ को परिपक्व नहीं किया जाता है। वे आमतौर पर फ्रेश और सॉफ्ट मेल्टेड होती है। इसे ज्यादा दिनों तक स्टोर नहीं किया जा सकता है ।

प्रोसेस्ड चीज़ (Processed cheese): “चीज़ फ़ूड” और “चीज़ फ्लेवर्ड” उत्पादों को चीज़ के रूप में वर्गीकृत नहीं किया जा सकता है, ये शेल्फ-स्टेबल उत्पाद हैं, जिनमें स्वाद बढ़ाने वाले और इमल्सीफायर्स जैसे अतिरिक्त तत्व होते हैं।

और पढ़ें:वीगन और वेजिटेरियन डायट में क्या है अंतर?

चीज़ में पाया जानें वाला पोषक तत्व

चीज़ कैल्शियम का एक अच्छा स्रोत है, जो स्वस्थ हड्डियों और दांतों के लिए एक महत्वपूर्ण पोषक तत्व है। 19 से 50 वर्ष की आयु के पुरुषों और महिलाओं को एक दिन में 1,000 मिलीग्राम कैल्शियम का सेवन अच्छा माना जाता है।

28 ग्राम चेडर क्रीम चीज़ स्प्रेड में पोषण तत्व शामिल हैं:

  • 80 कैलोरी
  • वसा के 7 ग्राम, संतृप्त फैटी एसिड के 5 ग्राम सहित
  • 1 ग्राम कार्बोहाइड्रेट
  • 0 ग्राम प्रोटीन
  • कैल्शियम की 150 मिलीग्राम (मिलीग्राम)
  • विटामिन ए की 750 अंतर्राष्ट्रीय इकाइयाँ (IU)
  • 15 मिलीग्राम कोलेस्ट्रॉल
  • 380 मिलीग्राम सोडियम

चेडर चीज़ के 28 ग्राम में शामिल हैं:

  • 120 कैलोरी
  • वसा के 10 ग्राम, संतृप्त फैटी एसिड के 6 ग्राम सहित
  • 0 ग्राम कार्बोहाइड्रेट
  • 7 ग्राम प्रोटीन
  • 200 मिलीग्राम कैल्शियम
  • विटामिन ए की 400 अंतर्राष्ट्रीय इकाइयाँ (IU)
  • 30 मिलीग्राम कोलेस्ट्रॉल
  • 190 मिलीग्राम सोडियम

पनीर के स्वाद वाले उत्पादों में समान पोषण मूल्य नहीं होते हैं और सोडियम में उच्च होने की संभावना अधिक होती है।

चीज़ से होने वाले हेल्थ बेनेफिट्स (Health Benefits of Cheese)

चीज़ के अपने कई हेल्थ बेनेफिट्स हैं। चीज़ एक डेयरी प्रोडक्ट है और इसका अधिकांश हिस्सा गाय के दूध से बना होता है। चीज़ को हम पनीर का आधुनिक रूप भी कह सकते हैं। इसे बनाने के लिए दूध में खट्टास का इस्तेमाल किया जाता है। चीज बनाने के लिए दूध में एक तरह से खट्टास के साथ बैक्टीरिया का निर्माण किया जाता है। इसमें भी कई तरह के पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं।

ऑस्टियोपोरोसिस (Osteoporosis) की समस्या में प्रभावकारी है

ऑस्टियोपोरोसिस की समस्या में भी चीज़ के सेवन से कुछ फायदा हो सककता है। इसमें कैल्शियम और विटामिन डी की मात्रा मौजूद होती है, जो हड्डियाें को मजबूत बनाने में मद्दगार है। हमारी हड्डी का द्रव्यमान बचपन और किशोरावस्था में बढ़ता रहता है, 30 साल की उम्र के आसपास इसकी चरम घनत्व तक पहुंच जाता है। एक उम्र के बाद हमारी हड्डियां पतली होने लगती है। ऑस्टियोपोरोसिस कई बार फ्रैक्चर का प्रमुख कारण होता है, हर साल अनुमानित 1.5 मिलियन (विशेष रूप से कलाई, कूल्हे या कशेरुक में)। इसका कारण कैल्शियम की कम खपत या खराब अवशोषण को माना जा सकता है। 50 से अधिक लोगों के लिए प्रतिदिन 400 से 500 मिलीग्राम कैल्शियम की न्यूनतम दैनिक मात्रा लेने की सलाह दी जाती है, जो उनमें फ्रैक्चर के जोखिम को कम करती है।

और पढ़ें: Osteoporosis : ऑस्टियोपोरोसिस डिजीज क्या है?

हेल्दी तरह से वेट गेन (Weight Gain) के लिए

चीज़ का सेवन हेल्दी तरह से आपका वजन बढ़ाने में मदद कर सकता है। जो लोग वेट गेन करना चाहते हैं, यह उनके लिए है। इसमें वसा और प्रोटीन सामग्री के साथ, साथ ही इसमें विभिन्न विटामिन और खनिज होते हैं। चीज़ स्वस्थ तरीके वजन बढ़ाने के लिए एक बढ़िया विकल्प है। लेकिन आपको इस बात से सावधान रहने की आवश्यकता है कि आपको प्रतिदिख कितना चीज़ खाना हैं, क्योंकि यह आपके बीएमआई पर निर्भर करता है। इसके प्रति ग्राम में अधिक कैलोरी होती है।

QUIZ: डायटिंग की जरूरत नहीं, वेट लॉस क्विज खेलें और घटायें अपना वजन

कैल्शियम (Calcium) की कमी को पूरा करता है

कैल्शियम के लिए चीज़ सबसे अच्छा आहार स्रोत है। शरीर में प्रचुर मात्रा में खनिज और कैल्शियम की आवश्यकता होती है। हमारे शरीर में कैल्शियम का 99% भाग हड्डियों में जमा होता है। आपकी हड्डियाँ आपके पूरे जीवन में लगातार रिमॉडलिंग से गुजरती हैं। हम अपने मृत त्वचा कोशिकाओं, नाखूनों और बालों, पसीने और मलमूत्र के माध्यम से हर दिन कैल्शियम खो देते हैं। कैल्शियम जो हम अपने भोजन के माध्यम से प्राप्त नहीं करते हैं, फिर हमारी हड्डियों से कम होने लगता है, जिससे हड्डी के टूटने का खतरा होता है और फ्रैक्चर की संभावना अधिक होती है।

विटामिन बी 12 (Vitamin B12) की भरपूर मात्रा

विटामिन बी 12 की कमी को भी चीज़ पूरा करता है। इसमें पाया जाने वाला विटामिन बी -12 (जिसे कोबालिन के रूप में भी जाना जाता है) बहुत कम चीजों में पाया जाता है। यह लाल रक्त कोशिकाओं, प्रोटीन और डीएनए के उत्पादन में सहायता करता है। इसी के साथ ही साथ ही मानसिक स्वास्थ्य को भी ठीक करता है। विटामिन बी -12 एनीमिया, सुस्ती, मांसपेशियों की कमजोरी और लंबे समय तक न्यूरोलॉजिकल प्रॉब्लम का कारण बन सकता है। यह आवश्यक विटामिन केवल, प्राकृतिक रूप से, पशु उत्पादों में या कृत्रिम रूप से पूरक आहार में पाया जा सकता है। सभी चीज़ों सबसे अधिक बी -12 की मात्रा पायी जाती है, जिसमें 0.95 माइक्रोग्राम प्रति औंस है।

और पढ़ें: Vitamin B12 Deficiency: विटामिन बी 12 की कमी क्या है?

प्रोटीन ( Protein) की भरपूर मात्रा

protien

चीज़ प्रोटीन का एक उच्च स्रोत है, जिसकी हमारे आहार में एक विशेष आवश्यकता होती है। जिससे आपको एक मजबूत प्रतिरक्षा प्रणाली, स्वस्थ बाल, और मजबूत मांसपेशियों के लिए बहुत जरूरी है। प्रोटीन की कमी से मांसपेशियां कमजोर होने लगती हैं। आपका शरीर प्रोटीन को संग्रहीत नहीं करता है। इस वजह से, आपके दैनिक भोजन में पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन होना चाहिए। प्रोटीन से भरपूर खाद्य पदार्थों में शामिल है मीट और डेयरी उत्पाद आदि। यदि आप प्रोटीन का सबसे अच्छा स्रोत चीज़ में ढूंढ रहे हैं, तो परमेसन आपके लिए बेस्ट है।

और पढ़ें: अपना बीएमआर यहाँ पता करें।

ब्लड प्रेशर (Blood Pressure) को कंट्रोल करता है

कई रिसर्च में यह भी माना गया है कि चीज़ का सेवन ब्ल्ड प्रेशर की समस्या में भी काफी प्रभावकारी साबित हो सकता है। यह बीपी कों कंट्रोल में रखने में मदगार है। एक अध्ययन किया गया था जिसमें दो समूहों, एक जो केवल फल और सब्जियाें पर अधारित थें और दूसरे ग्रुप को कम वसा वाले डेयरी उत्पाद दिए गए थें। यह पाया गया कि जिस समूह में डेयरी उत्पाद थें, उनके रक्तचाप में कमी देखी गई । उच्च रक्तचाप से पीड़ित लोग अपने आहार में चीज़ को शामिल करके 2-4 mmHg तक सिस्टोलिक रक्तचाप को कम कर सकते हैं। हालांकि, आपको अपने डायट में सोडियम की मात्रा को भी कम करना होगा। इसलिए पैकेजिंग लेबल की जांच के बाद ही कम सोडियम वाले चीज़ को चुनें। पोटेशियम में उच्च खाद्य पदार्थों के साथ अपने आहार को संतुलित करने से आपके सोडियम स्तर को कम करने में मदद मिल सकती है ।

QUIZ: ये 9 हर्ब्स हाइपरटेंशन को कर सकती हैं कम, जानिए कैसे करना है इनका उपयोग

कैंसर ( Cancer) को रोकने में हेल्प करता है

चीज़ का सेवन आपमें कई प्रकार के कैंसर को रोकने में मदद कर सकता है। कोलोरेक्टल कैंसर दुनिया में सबसे आम है, जो पाचन तंत्र को प्रभावित करता है। कोलोरेक्टल कैंसर के साथ और भी कई जटिलताएं होती हैं, जैसे कि पेट में दर्द, मतली और उल्टी, मलाशय से खून बह रहा है। कई अध्ययनों ने मिश्रित परिणाम देखे गए हैं कि डेयरी प्रोडक्ट को अपने डायट में शामिल करने से इस कैंसर के जोखिम को काफी हद तक कम किया जा सकता है। दूध और चीज़ कुछ सामान्य कैंसर, जैसे कि कोलोरेक्टल को रोक सकते हैं।

और पढ़ें: Colorectal Cancer: कोलोरेक्टल कैंसर क्या है? जानिए इसके कारण, लक्षण और उपाय

गर्भवती महिलाओं (Pregnant Women) के लिए

गर्भवती महिलाओं के लिए चीज़ एक अच्छा विकल्प है। कई बार प्रेग्नेंट महिला में गर्भावस्था के दौरान उच्च रक्तचाप की समस्या होती है। विभिन्न अध्ययनों और शोधों के माध्यम से, हालांकि, यह दिखाया गया है कि गर्भावस्था के दौरान प्रति दिन 1,500 और 2,000 मिलीग्राम के बीच प्राप्त कैल्शियम सप्लिमेंट, प्रीक्लेम्पसिया के विकास के जोखिम को काफी कम कर सकता है। कैल्शियम के लिए भी चीज़ को गर्भवती महिला के आहार में शामिल करना एक अच्छा विकल्प है। यह न केवल कैल्शियम से भरपूर है, बल्कि यह गर्भावस्था के लिए कई अन्य आवश्यक पोषक तत्वों की कमी को भी पूरा करता है,जैसे कि प्रोटीन और विटामिन आदि।

हेल्दी मसल्स ( Build Muscle) के लिए

ऑब्लीक्स मसल्स - obliques muscles exercise

चीज़ बॉडी में मसल्स बनाने में मदद करता है। हम सभी जानते हैं कि वजन कम करना कितना मुश्किल हो सकता है, लेकिन कुछ लोगों के लिए, मांसपेशियों को मजबूत रखना उतना ही मुश्किल हो सकता है। अपने आहार में कुछ खाद्य पदार्थों को शामिल करना चाहिए, जो आपमें गुड फैट की तरह काम करे। चीज़ में वसा और प्रोटीन होने के कारण, मांसपेशियों के निर्माण में आपकी मदद कर सकता है।

अच्छे इम्यून सिस्टम ( Immune System) के लिए

चीज के सेवन को अच्छे इम्यून के लिए भी काफी अच्छा माना जाता है। कई अध्ययनों में पाया गया है कि चीज़ में प्रोबायोटिक बैक्टीरिया के साथ दृढ़, प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने और इम्यूनोसेंसीन को रोकने में मदद कर सकता है। इसमें प्रोबायोटिक की भरपूर मात्रा होती है, जो प्रतिरक्षा प्रणाली को बेहतर करने में मदद कर सकती है।

QUIZ: इम्यूनिटी बूस्टिंग के लिए क्या करना चाहिए क्या नहीं , जानने के लिए यह क्विज खेलें

हेल्दी थायराइड ( Thyroid) के लिए

चीज़ आपके अच्छे थायराइड हेल्थ के लिए अच्छा है आपकी थायरॉयड, आपकी गर्दन में एक छोटी, तितली के आकार की ग्रंथि होती है। यह शरीर में हाॅर्मोन उत्पन्न करता है, जो शरीर के लगभग सभी चयापचय कार्यों को नियंत्रित करता है। बहुत अधिक (हाइपरथायरायडिज्म) या बहुत कम (हाइपोथायरायडिज्म) इन हाॅर्मोन का उत्पादन आपके शरीर के लिए सही नहीं है। हाइपोथायरायडिज्म में वजन बढ़ना, थकान और बांझपन, और चिंता और अनिद्रा की समस्या है। वहीं हाइपरथायरायडिज्म में तेजी से वजन कम होने लगता है। ये दोनों ही चिंता के कारण हैं। 30 मिलियन से अधिक अमेरिकी एक थायरॉयड विकार से पीड़ित हैं। थायरॉयड विकार के विकास को रोकने के लिए आपके लिए उचित मात्रा में चीज़ का सेवन लाभदायक हो सकता है। इसमें सेलेनियम जैसा एक आवश्यक खनिज उपलब्ध होते हैं। थायराइड विकार से बचने के लिए अपने डायट में बदलाव लाएं। चीज़ में हार्ड चीज, जैसे चेडर, सेलेनियम का एक बड़ा स्रोत हो सकता है।

अच्छे डेंटल हेल्थ (Dental Health) के लिए

Dental Surgery

चीज़ का सेवन डेंटल हेल्थ के लिए भी अच्छा है। जैसा कि इसमें कैल्शियम की भरपूर मात्रा पाई जाती है और दांतों के निर्माण में कैल्शियम महत्वपूर्ण भूमिका होती है। चीज़ कैल्शियम का सबसे अच्छा स्रोत है। इसके अलावा, चीज़ खाने से दांतों में पीएच स्तर बढ़ सकता है। इसके अलावा ये दांतों में कैविटी की समस्या के लिए भी प्रभावकारी है। इसमें कैरोस्टेटिक गुण पाए जाते हैं, जो दांतों में वाली कैविटी की समस्या को कम करने में मद्दगार है।

ओमेगा -3 फैटी एसिड के लिए

ओमेगा -3 फैटी एसिड ये कुछ प्रकार के डेयरी प्रोडक्ट में पाया जाता है, जिसमें से चीज भी एक है। ये विशेष रूप से गायों द्वारा उत्पादित दूध से बने प्राेडक्ट में पाया जाता है, ओमेगा -3 फैटी एसिड हृदय प्रणाली और मस्तिष्क को लाभ पहुंचाते हैं।

और पढ़ें: Omega 3 : ओमेगा 3 क्या है?

फेटा और पिस्ता एंड टोमेटो सैलेड

सामग्री

  • बायल एग 3 से 4
  • टमाटर और कुछ पसंदानुसार सब्जी कटी हुई 1 बाउल
  • नमकऔर काली मिर्च स्वादानुसार
  • नींबू का रस ¼
  • कटा हुआ अजमोद ¼ कप
  • फ्रेश चीज़ 1/2

विधि

स्पेट 1

ओवन को 350 ° पर प्रीहीट करें। फिर इसमें सभी सब्जियों को बेक करें।

स्टेप 2

एक बाउल में टमाटर सहित सभी बेक्ड की हुई सब्जियों काे लें।

स्टेप 3

फिर उसमें बॉयल एग, फ्रेश चीज़ और सभी सामाग्रियों को डालकर अच्छे से मिक्स करें और सर्व करें।

और पढ़ें: आपकी डायट प्लान से जुड़े अहम सवाल, बताएं अपनी डायट के बारे में

चीज़ स्प्राउट सैलेड

सामग्री

  • व्हाइट विनेगर 3 बड़े चम्मच
  • एक बाउल स्प्राउट
  • सरसों ½ चम्मच
  • शहद 1 बड़ा चम्मच
  • जैतून का तेल 2 चम्मच
  • लाल प्याज कटे हुए 2
  • चेडर चीज़ 1 कप
  • अजमोद 1 गुच्छा
  • नमक और काली मिर्च स्वादानुसार

विधि

स्टेप 1
स्प्राउट को उबाल लें।

सटेप 2
व्हाइट वेनेगर, सरसों, शहद, नमक, काली मिर्च और जैतून के तेल को एक बाउल में मिक्स करें।

स्टेप 3
लाल प्याज को पतले आधे छल्ले में काटें। पतला महत्वपूर्ण है। उन्हें ड्रेसिंग के लिए भिगोएं।

स्टेप 4

अब इसमें स्प्राउट सहित सभी सामग्री को इसमें मिलाएं और सर्व करें।

और पढ़ें:आपकी डायट प्लान से जुड़े अहम सवाल, बताएं अपनी डायट के बारे में

चीज़ के सेवन के कुछ रिस्क भी हो सकते हैं

चीज़ के सेवन के कई हेल्थ बेनेफिट्स होने के साथ कुछ स्वास्थ्य के नुकसान भी हो सकते हैं। जैंसें कि-

  • सोडियम और सैच्यूरेटड वाले उच्च आहार से हाई ब्ल्ड प्रेशर वालों, हृदय रोग और टाइप 2 डायबिटीज वालों के लिए खतरा बढ़ सकता है।
  • जिन्हें एलर्जी की समस्या है, उनके के लिए और नुकसानदेह साबित हो सकता है।
  • चीज़ में फैट की अधिक मात्रा पायी जाती है। तो इससे वेट गेन का खतरा भी और अधिक बढ़ जाता है।
  • जिन्हें पहले से हाई कोलेस्ट्रॉल की समस्या है, तो उन्हें इसके सेवन से बचना चाहिए।
health-tool-icon

बीएमआर कैलक्युलेटर

अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Niharika Jaiswal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 09/07/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x