backup og meta
खोज
स्वास्थ्य उपकरण
बचाना

जानिए मॉर्निंग सेक्स करने के ये अमेजिंग फायदे

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड Dr. Pooja Bhardwaj


Nidhi Sinha द्वारा लिखित · अपडेटेड 27/08/2020

जानिए मॉर्निंग सेक्स करने के ये अमेजिंग फायदे

सेक्स विषय पर आज भी लोग खुल कर बात करने से कतराते हैं। लेकिन सेक्स से जुड़ी जानकारी होना बड़ों के साथ-साथ बच्चों को भी होना जरुरी है। सेक्स से जुड़ी एक दिलचस्प बात ये भी है कि सेक्स करने का सही वक़्त क्या है। ये ठीक वैसा ही है जैसे सेक्स पोजिशन्स (Sex Positions)। कहते हैं दिन की शुरुआत अच्छी होती है तो काम में एकाग्रता आती है, दिल और दिमाग दोनों खुश रहता है। इसलिए दिन की शुरूआत अगर आप मॉर्निंग सेक्स के साथ करते हैं तो आपका पूरा दिन अच्छा जाएगा और आप अपने काम पर भी फोकस कर सकते हैं।

मॉर्निंग सेक्स के बारे में क्या कहते हैं एक्सपर्ट

सेक्स एक्सपर्ट्स के अनुसार पुरुषों के लिए सेक्स करने का सबसे सही समय सुबह ही होता है। दिन की शुरुआत से पहले। ऐसा नहीं है कि सेक्स से जुड़ी चाहत सिर्फ पुरुषों में ही होती है बल्कि महिलाओं में सेक्स की इच्छा दिन शुरू होने के साथ-साथ रात तक भी रहती है। कुछ लोग सेक्स ख़ुशी के लिए करते हैं तो कुछ बच्चे की चाहत के लिए!   

यह भी पढ़ें : प्रेग्नेंसी में सेक्स ड्राइव को कैसे बढ़ाएं?

क्या मॉर्निंग सेक्स, सेक्स का सही समय है?

कई लोगों के मन में यह सवाल उठता है कि यौन-संबंध बनाने का सही समय क्‍या है? कई रिसर्च से पता चलता है कि शारीरिक संबंध बनाने का सबसे अच्‍छा टाइम सुबह का ही होता है। इसके पीछे सबसे बड़ा कारण ह है कि सुबह के समय लोग स्ट्रेस फ्री होकर उठते हैं। इसकी वजह से आपका शरीर और मन पूरी तरह से यौन संबंधों के लिए समर्पित रहता है। इसके अलावा मॉर्निंग सेक्स का सबसे बड़ा फायदा यह भी है कि इस समय हार्मोन्स (टेस्‍टोस्‍टेरोन और एस्‍ट्रोजन) का स्‍तर उच्च होता है। ये हॉर्मोन्स कामेच्‍छा को काफी प्रभावित करते हैं। बॉडी में इन हॉर्मोन्स का स्तर जितना अच्छा होता है सेक्स-ड्राइव उतनी ही बेहतर होती है।

यह भी पढ़ें : जानिए ब्रेन स्ट्रोक के बाद होने वाले शारीरिक और मानसिक बदलाव

आइए जानते है सुबह सेक्स करने फायदे: 

सुबह के समय शरीर में ऊर्जा का स्तर उच्च होता है। इसलिए, मॉर्निंग सेक्स करने के कई स्वास्थ्य लाभ भी होते हैं। जैसे-

इम्युनिटी में आता है सुधार

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ सके इसके लिए आप क्या कुछ नहीं ट्राई करते हैं। अगर कहा जाए कि इम्युनिटी पावर को बढ़ाने के लिए मॉर्निंग सेक्स लाभदायक है तो आपको सुनकर अजीब लगेगा। लेकिन, यह सही है मॉर्निंग सेक्‍स करना आपके इम्यून पावर के लिए फायदेमंद हो सकता है। ऐसा 2015 में हुई एक रिसर्च से पता चलता है कि नियमित रूप से मॉर्निंग सेक्‍स से रोगाणुओं, बैक्‍टीरिया और अन्‍य वायरस को रोकने में मदद मिलती है। इससे इम्युनिटी कम होने की वजह से होने वाली सर्दी-खासी की समस्या से भी निजात मिलती है।

यह भी पढ़ें : पुरुष सेक्स ड्राइव बढ़ाने के लिए ये फूड्स होंगे फायदेमंद

टेंशन फ्री:

जो कपल्स ज्यादा स्ट्रेस में रहते हैं उनके लिए सुबह के समय में यौन-संबंध स्थापित करना ज्यादा फायदेमंद हो सकता है। सुबह-सुबह आनंददायक सेक्शुअल एक्टिविटी करने से आपके स्ट्रेस हार्मोंन कम होते हैं। इससे चरम यौन सुख प्राप्‍त करने की भी संभावना बढ़ जाती है। सुबह की शुरुआत अगर आप सेक्स के साथ करते हैं तो पूरा दिन आप खुश और एक्टिव रहते हैं। इसका एक फायदा यह भी है कि आप अपने पार्टनर के साथ दिन की शुरुआत अच्छी नोट पर करते हैं। कपल्स एक-दूसरे के क्लोज आते हैं जिससे तनाव ख़त्म होता है। तनाव उत्पन करने वाले हॉर्मोन को कम करता है।  

यह भी पढ़ें : शावर सेक्स का बनाया है प्लान तो पहले चुनें सेफ सेक्स पुजिशन 

बेस्ट एक्सरसाइज :

सेक्स को बेस्ट एक्सरसाइज की श्रेणी में रखा गया है। इससे पूरे शरीर में ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है। कैलोरीज़ बर्न होने में मदद मिलती है और आप अपने पार्टनर के साथ बिज़ी शेडूअल में से थोड़ा वक़्त बिता पाते हैं। स्टडी से पता चलता है कि सुबह के समय सेक्स करने से कम होने वाली कैलोरी की मात्रा 30 मिनट की गई जॉगिंग में खर्च हुई कैलोरी के बराबर होती है। इस तरह से मॉर्निंग सेक्स आपके वजन को कम करने में भी मददगार साबित हो सकता है।

यह भी पढ़ें : प्रेग्नेंसी में सेक्स, कैफीन और चीज को लेकर महिलाएं रहती हैं कंफ्यूज

दूर होती है कॉफी लत:

अगर आप कॉफी बहुत पीते हैं और अपनी इस आदत को छोड़ना चाहते हैं तो मॉर्निंग सेक्स काफी मददगार साबित हो सकता है।  

गुड-डे की शुरूआत होती है:

सुबह सेक्स करने से आप फ्रेश फील भी करते हैं। मॉर्निंग सेक्स की वजह से मस्तिष्क में  कडल हॉर्मोन ‘ऑक्सीटोसिन’ का निर्माण होता है जो कपल्स में प्यार और बॉन्डिंग बढ़ता है। 

यह भी पढ़ें : पहली बार सेक्शुअल इंटरकोर्स के दौरान इन बातों की जानकारी है आपको ?

प्यार बढ़ता है

मॉर्निंग सेक्‍स के दौरान शरीर से ऑक्‍सीटोन हॉर्मोन रिलीज करता है। इसको कडल हार्मोन (cuddle hormone) के नाम से भी जाना जाता है। ऑक्‍सीटोसिन एक ऐसा रसायन है जो मस्तिष्‍क में प्यार और संबंध को नियंत्रित करने में सहायता करता है। सुबह के समय शारीरिक संबंध स्थापित करने से इस हार्मोन की अधिक मात्रा उत्‍सर्जित होती है पार्टनर के प्रति लगाव ज्यादा महसूस होता है।

यह भी पढ़ें : ऑटिज्म प्रभावित बच्चों को भविष्य में होती है सेक्स संबंधी समस्याएं

मस्तिष्क होता है सेहतमंद:

मॉर्निंग सेक्स ब्रेन में फील गुड हॉर्मोन का निर्माण करता है जिससे मस्तिष्क हेल्थी होने के साथ-साथ तेज़ भी होता है।  

शारीरिक संबंध होते हैं ज्यादा प्रगाढ़

शोध कहते हैं कि बॉडी में जितना अधिक टेस्‍टोस्‍टेरोन (testosterone) हॉर्मोन होता है सेक्शुअल इंटरकोर्स उतना ही अमेजिंग होता है। टेस्‍टोस्‍टेरोन का उच्च स्‍तर आपके पार्टनर कामोत्तेजित करने और यौन क्रिया में सुधार लाने में मददगार साबित हो सकता है। साथ ही शरीर में टेस्‍टेस्‍टेरोन हॉर्मोन का हाई लेवल स्‍तंभन शक्ति (erection strength) को भी बढ़ा सकता है। इसलिए, मॉर्निंग सेक्स के दौरान टेस्‍टेस्‍टेरोन का उच्‍च स्‍तर ज्यादा देर तक सेक्शुअल एक्टिविटी करने के लिए लाभदायक होता है।

यह भी पढ़ें : रुटीन की सेक्स पुजिशन से कुछ हटकर करना है ट्राय तो इन्हें आजमाएं

यंग लुक :

मॉर्निंग सेक्स अपने आपको जवां बनाए रखने का सबसे बेहतर उपाय है। इन सब के बीच इस बात का ख्याल ज़रूर रखें की, अगर आपके पार्टनर की सेक्स की इच्छा न हो, तो उनकी इच्छा का आदर करते हुए, आपके पार्टनर का दिन अच्छा जाने के लिए उन्हें खुश करने के तरीके सोचे, जिससे दोनों में ख़ुशी बनी रहे।

तो ये थे मॉर्निंग सेक्स के स्वास्थ्य लाभ। हालांकि हर दिन सुबह के समय शारीरिक संबंध स्थापित करना थोड़ा कठिन हो सकता है इसलिए सप्ताह में कम से कम तीन बार मॉर्निंग सेक्स करने से पूर्ण शारीरिक लाभ उठाएं। याद रखें कि मॉर्निंग सेक्स को बोरिंग न बनाएं। उसमें भी नई-नई सेक्स पुजिशन ट्राई करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सक सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है।

और भी पढ़ें :-

आप वास्तव में सेक्स के बारे में कितना जानते हैं?

पानी में सेक्स करने का बना रहे हैं प्लान, तो पहले पढ़ें यह वॉटर सेक्स गाइड

पानी में सेक्स करना (वॉटर सेक्स) कितना सही है?

प्रेग्नेंसी में STD (Sexually Transmitted Diseases): जानें इसके लक्षण और बचाव

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

Dr. Pooja Bhardwaj


Nidhi Sinha द्वारा लिखित · अपडेटेड 27/08/2020

ad iconadvertisement

Was this article helpful?

ad iconadvertisement
ad iconadvertisement