Jojoba: होहोबा क्या है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट अक्टूबर 8, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

परिचय

होहोबा क्या है?

होहोबा एक रेगिस्तानी पौधा है। इसका वानस्पतिक नाम सीमोंडसिया चिनेनसिस (Simmondsia chinensis) है। यह पौधा Simmondsiaceae परिवार से ताल्लुक रखता है। यह कैलिफोर्निया और एरिजोना के रेगिस्तान में पाया जाता है। इसके बीजों से लगभग 55 से 75 प्रतिशत तक तेल प्राप्त किया जा सकता है। न्युट्रिएंट्स से भरपूर होहोबा ऑयल का प्रयोग एरोमाथेरेपी में किया जाता है।

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

होहोबा का उपयोग किसलिए किया जाता है?

स्किन के लिए वरदान:
होहोबा को स्किन संबंधित परेशानियां जैसे एक्ने, पसोरिएसिस, सनबर्न के लिए लगाया जाता है। ये बालों की ग्रोथ में भी मदद करता है। इसका इस्तेमाल शैंपू, लिपस्टिक, मेकअप, बॉडी लोशन आदि में किया जाता है।

घाव को भरता है:
होहोबा में एंटी-बैक्टीरियल प्रोपर्टीज होती हैं जो घाव को भरने में मददगार है। एथनो फार्माकोलोजी के शोध पत्र की एक रिपोर्ट के अनुसार होहोबा वैक्स हमारी स्किन की कोशिकाओं में कोलेजन के संश्लेषण को बढ़ाती हैं।

एल्जाइमर:
कुछ रिसर्च के मुताबिक होहोबा ऑयल के मसाज से न सिर्फ इमोशन में सुधार होता है साथ ही दिमाग भी अच्छे से काम करता है। हालांकि इस पर अभी और शोध की जरूरत है।

स्किन संबंधित परेशानियों को करे दूर (Skin Related Problems):

होहोबा ऑयल में एंटी-इन्फलामेटरी और हीलिंग प्रॉपर्टिज होती हैं। ये ड्रायनेस, फ्लेकिंग, इचिंग जैसे लक्षण को दूर करने में मदद करता है। एक्जिमा, सोराएसिस जैसी परेशानियों में ये वरदान समान है।

सनबर्न से राहत (Soothe Sunburns):

होहोबा ऑयल में कई ऐसे पदार्थ होते हैं जिस वजह से इसका इस्तेमाल कई सनस्क्रीन प्रोडक्ट्स में किया जाता है। एक शोध के अनुसार, इसमें विटामिन-ई होता है जो स्किन को धूप से हुए नुकसान को भरने का काम करता है।

झुर्रियों को दूर करता है (Reduce fine lines and wrinkles):

ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस होने के कारण त्वचा पर झुर्रियां आने लगती हैं। शोध के अनुसार, होहोबा झुर्रियों को दूर करने का काम करता है। इसमें कई ऐसी एंटीऑक्सीडेंट प्रॉपर्टिज होती हैं जो ढ़ीली स्किन को सुधारने में मदद करता है।

चोट के निशान और दाग-धब्बों को दूर करता है:

होहोबा ऑयल में विटामिन-ई होता है जो चोट के निशान और दाग-धब्बों को दूर करने में मदद करता है। कई शोध के अनुसार होहोबा ऑयल पूरानी चोट के निशान और हीलिंग के लिए फायदेमंद होता है।

इन परेशानियों में भी मददगार:

  • त्वचा में नमी प्रदान करता है
  • त्वचा पर सूजन को मिटाने के लिए भी इसका इस्तेमाल करता है
  • त्वचा के संक्रमण से दिलाए निजात
  • त्वचा की झुर्रियों को दूर करने
  • हेयर फॉल को करे कम
  • डैंड्रफ को करे दूर
  • नाखूनों की ग्रोथ
  • गर्भावस्था के बाद त्वचा पर आए स्ट्रेच मार्क्स मिटाने के लिए
  • होंठों की नमी के लिए

कैसे काम करता है होहोबा?

यह एक हर्बल सप्लिमेंट है और कैसे काम करता है, इसके संबंध में अभी कोई ज्यादा शोध उपलब्ध नहीं हैं। इस बारे में और अधिक जानकारी के लिए आप किसी हर्बल विशेषज्ञ या फिर किसी डॉक्टर से संपर्क करें। हालांकि कुछ शोध यह बताते हैं कि यह त्वचा पर एमोलिएंट की तरह काम करता है, जो स्किन को नमी प्रदान करने के साथ बालों में भी सुधार करता है। कई शोध बताते हैं कि यह नए बाले लाने में भी कारगर है। होहोबा ऑयल में कई ऐसे पदार्थ होते हैं जो जख्मों को भरने में मदद करते हैं। कई शोध के अनुसार, होहोबा ऑयल खरोंच और कट्स के होने पर त्वचा की कोशिकाओं को एक साथ बांधने के लिए प्रोत्साहित करता है।

एंटीबैक्टीरियल (Antibacterial):

होहोबा ऑयल में एंटीमाइक्रोबियल और एंटीफंगल प्रॉपर्टीज होती हैं। लैब में किये गए टेस्ट में पाया गया कि होहोबा ऑयल बैक्टीरिया और फंगल को नष्ट करने में मदद करता है।

एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर (Antioxidants):

होहोबा ऑयल में विटामिन-ई होता है, जो हमारी स्किन के लिए बेहद फायदेमंद होता है। यह दिनभर प्रदूषण से स्किन को होने वाले ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम करने में मददगार है।

नॉनकोमेडोजेनिक (Noncomedogenic):

होहोबा ऑयल में बोटेनिकल पदार्थ होते हैं जो आपकी त्वचा का निर्माण करने के साथ रोम छिद्रों को बंद करता है। साथ ही ब्रेकआउट को कम करता है और गंभीर मुंहासों को कम करता है।

और पढ़ें: कलौंजी क्या है?

उपयोग

कितना सुरक्षित है होहोबा का उपयोग?

  • होहोबा तेल को जब बालों के लिए इस्तेमाल करें,तो 2 चम्मच से ज्यादा न करें, इसके गंभीर परिणाम हो सकते हैं।
  • इसे त्वचा पर लगाना ज्यादातर सभी के लिए सुरक्षित है। बहुत कम लोगों में इससे त्वचा पर लाल चकत्ते देखे गए हैं। आप भी इसे प्रयोग करने से पहले एक बार पैच टेस्ट करना न भूलें।
  • होहोबा को खाने के तौर पर लेना सभी के लिए सुरक्षित नहीं है। इसमें इरुसिक एसिड होता है,जो दिल को हानि पहुंचा सकता है।
  • प्रेग्नेंसी और ब्रेस्ट फीडिंग के दौरान होहोबा को खाने के तौर पर लेना सुरक्षित नहीं है। इस दौरान बिना डॉक्टर की सलाह के किसी प्रकार की दवा या हर्बल सप्लिमेंट नहीं लेना चाहिए।

हर्बल सप्लिमेंट के उपयोग से जुड़े नियम अंग्रेजी दवाओं के नियमों जितने सख्त नहीं होते हैं। इनकी उपयोगिता और सुरक्षा से जुड़े नियमों के लिए अभी और शोध की जरूरत है। इस हर्बल सप्लिमेंट के इस्तेमाल से पहले इसके फायदे और नुकसान की तुलना करना जरूरी है। इस बारे में और अधिक जानकारी के लिए किसी हर्बल विशेषज्ञ या आयुर्वेदिक डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ें: केल क्या है?

साइड इफेक्ट्स

होहोबा से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

होहोबा ऑयल ज्यादातर सभी के लिए सेफ है लेकिन, कुछ लोगों में इससे एलर्जी होने की संभावना रहती है। अगर आपको रैशेज, खुजली या स्किन पर लाली महसूस हो तो इसका प्रयोग करना बंद कर दें और डॉक्टर से सलाह लें। हालांकि हर किसी को ऐसा हो ये जरूरी नहीं है। इससे अलग भी कुछ साइड इफेक्ट हो सकते हैं। अगर आपको कोई भी साइड इफेक्ट महसूस हो या आप इनके बारे में और जानना चाहते हैं तो नजदीकी डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ें: मरजोरम क्या है?

डोसेज

होहोबा को लेने की सही खुराक क्या है ?

इस हर्बल सप्लिमेंट की खुराक हर मरीज के लिए अलग हो सकती है। आपके द्वारा ली जाने वाली खुराक आपकी उम्र, स्वास्थ्य और कई चीजों पर निर्भर करती है। हर्बल सप्लिमेंट हमेशा सुरक्षित नहीं होते हैं। इसलिए सही खुराक की जानकारी के लिए हर्बलिस्ट या डॉक्टर से चर्चा करें। कभी भी इसकी खुराक खुद से निर्धारित करने की गलती न करें। आपके द्वारा की गई छोटी से लापरवाही स्वास्थ्य के लिए हानिकारक साबित हो सकती है।

और पढ़ें: जावित्री क्या है?

उपलब्ध

किन रूपों में उपलब्ध है होहोबा?

होहोबा निम्नलिखित रूपों में उपलब्ध है

  • होहोबा ऑयल

उम्मीद करते हैं कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और होहोबा ऑयल से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

Iceland moss: आइसलैंड मॉस क्या है?

आइसलैंड मॉस क्या है? इसका इस्तेमाल किस लिए किया जाता है? किन लोगों को इसके इस्तेमाल से परहेज करना चाहिए? जानिए इससे होने वाले साइड इफेक्ट्स के बारे में...

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Mona narang
जड़ी-बूटी A-Z, ड्रग्स और हर्बल मार्च 26, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Wild Thyme: वाइल्ड थाइम क्या है?

वाइल्ड थाइम (Wild Thyme) क्या है? वाइल्ड थाइम का उपयोग किन परेशानियों के लिए किया जाता है? वाइल्ड थाइम से क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Mona narang
जड़ी-बूटी A-Z, ड्रग्स और हर्बल मार्च 25, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

वॉटर प्लान्टेन के फायदे और नुकसान – Health Benefits of Water Plantain

जानिए वॉटर प्लान्टेन की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, वॉटर प्लान्टेन उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Water Plantain डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Mona narang
जड़ी-बूटी A-Z, ड्रग्स और हर्बल मार्च 18, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

Khella: खेला क्या है?

जानिए खेला की जानकारी, खेला के फायदे, लाभ, खेला के उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Khella डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Mona narang
जड़ी-बूटी A-Z, ड्रग्स और हर्बल मार्च 18, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

कैलिया जकाटेचिचि , Calea Zacatechichi

Calea Zacatechichi: कैलिया जकाटेचिचि क्या है ? जानिए इसके फायदे और साइड इफेक्ट

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr Sharayu Maknikar
के द्वारा लिखा गया shalu
प्रकाशित हुआ मई 12, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
Miracle Fruit-मिरेकल फ्रूट

मिरेकल फ्रूट के फायदे एंव नुकसान – Health Benefits of Miracle Fruit

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr Sharayu Maknikar
के द्वारा लिखा गया shalu
प्रकाशित हुआ मई 12, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
ayurvedic tips for corona,कोरोना वायरस से बचाव के लिए जड़ी बूटियां

कोरोना वायरस से बचाने के लिए वरदान समान हैं ये जड़ी बूटियां, कुछ तो आपकी किचन में ही हैं मौजूद

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Mona narang
प्रकाशित हुआ अप्रैल 23, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
Parsley piert-पास्ली पिअर्त

Parsley piert: पार्सले पिअर्त क्या है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Mona narang
प्रकाशित हुआ मार्च 28, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें