home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Bistort: बिस्टोर्ट क्या है?

Bistort: बिस्टोर्ट क्या है?
परिचय|उपयोग|सावधानियां और चेतावनी|साइड इफेक्ट्स|रिएक्शन|डोसेज

परिचय

बिस्टोर्ट (Bistort) क्या है?

बिस्टोर्ट एक औषधिय पौधा है। इसे स्नेकवीड (Snakeweed) के नाम से भी जाना जाता है। यह पौधा यूरोप और अमेरिका में पाया जाता है। यह हर्ब Polygonaceae प्रजाति की है। इसका अन्य नाम स्नेकररूट, स्नेक रूट, स्ननेकवीड और ईस्टर लेज भी कहा जाता है।

बिस्टोर्ट का सेवन प्रायः डायरिया में किया जाता है। वैसे बिस्टोर्ट को मुंह से जुड़ी परेशानी होने पर सीधे अप्लाई भी किया जा सकता है। इससे भी परेशानी दूर हो सकती है।

बिस्टोर्ट में टैनिन्स (Tannins) की मौजूदगी होती है और एक तरह का कैमिकल होता है, जो डायरिया, मुंह से जुड़ी परेशानी या गले से संबंधित परेशानी जैसे सूजन या अन्य तरह की परेशानी दूर करने के लिए सेवन किया जा सकता है।

और पढ़ें: प्रदूषण से बचने के लिए आजमाएं यह हर्बल मैजिक लंग टी

उपयोग

बिस्टोर्ट (Bistort) का इस्तेमाल किस लिए होता है?

बिस्टोर्ट का इस्तेमाल कीड़े के बाहरी रूप से काटने, डंक मारने, जलने, सांप के काटने और बवासीर के इलाज के लिए होता है। आंतरिक रूप से बिस्टोर्ट का इस्तेमाल पेप्टिक अल्सर, इरेटेबल बाउल सिंड्रोम (irritable bowel syndrome), अल्सरेटिव कोलाइटिस और डायरिया के इलाज में होता है। इंटोफॉरेन (interferon) जैसी एक्टिविटी को बढ़ाने के लिए एक एंटीवायरल के रूप में इसके संभावित इस्तेमाल को लेकर अनुसंधान किए जा रहे हैं।

बवासीर- बवासीर या पाइल्स की समस्या होने पर बिस्टोर्ट का सेवन लाभकारी हो सकता है लेकिन, अगर इसके सेवन आपको लाभ न मिले तो डॉक्टर से संपर्क करना वेहतर होगा। क्योंकि बवासीर की समस्या ज्यादा दिनों तक रहने से आपकी परेशानी बढ़ सकती।

पेप्टिक अल्सर- पेप्टिक अल्सर पेट के भीतरी सतह खासकर छोटी आंत के ऊपरी हिस्से में हुए छाले को कहा जाता है। अगर इसका इलाज ठीक तरह से नहीं किया जाये तो ये छाले धीरे-धीरे जख्म (घाव) बन सकते हैं। इस बढ़ते जख्म की वजह से पीड़ित व्यक्ति की शारीरिक परेशानी बढ़ सकती है। ऐसी स्थिति में पीड़ित व्यक्ति का डायजेशन भी बिगड़ सकती हैं।

इरिटेबल बाउल सिंड्रोम- यह पेट से संबंधित परेशानी होती है। हेल्थ एक्सपर्ट के अनुसार इरेटेबल बाउल सिंड्रोम तनाव की वजह होने वाली परेशानी है। इरेटेबल बाउल सिंड्रोम होने पर कब्ज की समस्या के साथ-साथ पेट दर्द की परेशानी भी शुरू हो जाती है। इसलिए शरीर में हो रहे इस तरह के बदलाव को नजरअंदाज न करें और डॉक्टर से संपर्क करें।

डायरिया- डायरिया होने पर लूजमोशन की समस्या शुरू हो जाती है। ऐसी स्थिति में पेशेंट को बार-बार बाथरूम जाना पड़ता है। वैसे डायरिया का असर इस बात पर निर्भर करता है कि यह कितने दिनों तक रहता है। कभी-कभी यह परेशानी एक से दो दोनों में अपने आप ठीक भी हो जाती है। अगर ऐसा नहीं होता है, तो घरेलू उपाय से बचें और जल्द से जल्द डॉक्टर संपर्क करना चाहिए। क्योंकि डायरिया होने की स्थिति में शरीर में पानी की कमी हो जाती है और पेशेंट की शारीरिक स्थिति ज्यादा बिगड़ सकती है।

बिस्टोर्ट कैसे कार्य करता है?

इसके कार्य करने के संबंध में पर्याप्त जानकारी उपलब्ध नही है। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से संपर्क करना बेहतर होगा। हालांकि, कुछ अध्ययनों में पता चला है कि बिस्टोर्ट में टेननिन्स नामक कैमिकल्स होते हैं, जो डायरिया, मुंह और गले की सूजन को कम करने जलन में राहत देते हैं। इसलिए इसका उपयोग इन परेशानियों को दूर करने के लिए किया जा सकता है।

सावधानियां और चेतावनी

बिस्टोर्ट (Bistort) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

यदि आप बिस्टोर्ट का इस्तेमाल कर रहे हैं तो जठरांत्र के लक्षणों (ऐंठन, डायरिया, ब्लीडिंग) पर नजर रखें और हेपेटिक फंक्शन टेस्ट कराएं। दिन में तीन बार से अधिक मौखिक रूप से बिस्टोर्ट का सेवन न करें। अन्य दवाइयों के मुकाबले औषधियों के संबंध में रेग्युलेटरी नियम अधिक सख्त नहीं हैं। इनकी सुरक्षा का आंकलन करने के लिए अतिरिक्त अध्ययनों की आवश्यकता है। बिस्टोर्ट का इस्तेमाल करने से पहले इसके खतरों की तुलना इसके फायदों से जरूर की जानी चाहिए। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें।

और पढ़ें: सही मात्रा में कीवी का सेवन न करने से होने वाले दुष्परिणाम

बिस्टोर्ट (Bistort) कितना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी और ब्रेस्टफीडिंग: दोनों ही परिस्थितियों के संबंध में जब तक अतिरिक्त अध्ययनों से इसकी सुरक्षा की जानकारी का खुलासा न हो, तब तक इसका इस्तेमाल करने से बचें।

और पढ़ें: Maitake mushroom: मेटेक मशरूम क्या है?

साइड इफेक्ट्स

बिस्टोर्ट (Bistort) से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

बिस्टोर्ट का सेवन करने से जठरांत्र में जलन और हेपाटोटोक्सिसिटी हो सकती है। हालांकि, हर व्यक्ति को यह साइड इफेक्ट्स नहीं होते हैं। उपरोक्त दुष्प्रभाव के अलावा भी बिस्टोर्ट के कुछ साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं, जिन्हें ऊपर सूचीबद्ध नहीं किया गया है। यदि आप इसके साइड इफेक्ट्स को लेकर चिंतित हैं, तो अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह लें।

और पढ़ें : Hepatitis-B : हेपेटाइटिस-बी क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और इलाज

रिएक्शन

बिस्टोर्ट (Bistort) से मुझे क्या रिएक्शन हो सकते हैं?

बिस्टोर्ट आपकी मौजूदा दवाइयों के साथ रिएक्शन कर सकता है या दवा का कार्य करने का तरीका परिवर्तित हो सकता है। इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से संपर्क करें। डॉक्टर ओरल ड्रग्स के साथ बिस्टोर्ट के सेवन की सलाह दे सकता है। व्यावहारिक रूप से लंबे वक्त के लिए इसका इस्तेमाल अलग-अलग हो सकता है।

और पढ़ें : चोट के घाव को जल्‍द भरने के लिए अपनाएं ये 10 असरदार घरेलू उपचार

डोसेज

उपरोक्त जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं हो सकती। इसका इस्तेमाल करने से पहले हमेशा अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह लें।

बिस्टोर्ट (Bistort) का सामान्य डोज क्या है?

आप दिन में तीन बार 237 ml उबले हुए पानी में एक चम्मच बिस्टोर्ट की जड़ें मिलाकर ले सकते हैं। बाहरी इस्तेमाल के लिए आप इसके पाउडर को पानी में मिलाकर एक लेप बनाकर प्रभावित हिस्से पर लगा सकते हैं।

हर मरीज के मामले में बिस्टोर्ट का डोज अलग हो सकता है, जो डोज आप ले रहे हैं वो आपकी उम्र, हेल्थ और दूसरे अन्य कारकों पर निर्भर करता है। औषधियां हमेशा ही सुरक्षित नही होती हैं। बिस्टोर्ट के उपयुक्त डोज के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें।

बिस्टोर्ट (Bistort) किन रूपों में आता है?

यह औषधि निम्नलिखित रूपों में उपलब्ध हो सकती है:

  • पाउडर
  • जड़ें (सूखी कटी हुई)
  • चाय

अगर आप बिस्टोर्ट से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा। किसी भी हर्ब का सेवन अपनी इच्छा अनुसार न करें। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर
Dr Sharayu Maknikar के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Sunil Kumar द्वारा लिखित
अपडेटेड 12/11/2019
x