home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

एलमी (गोंद) के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Elemi (Canarium luzonicum)

एलमी (गोंद) के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Elemi (Canarium luzonicum)
परिचय|उपयोग|साइड इफेक्ट्स|डोसेज|उपलब्ध

परिचय

मनीला एलमी (Elemi) क्या है?

मनीला एलमी या गोंद एक राल है, जिसे एक उष्णकटिबंधीय पेड़ से निकाला जाता है। इसका साइंटिफिक नाम कैनरी लुजोनिकम (Canarium luzonicum) है, जो बर्सेरासी (Burseraceae) प्रजाति है। इसका इस्तेमाल वार्निश, मलहम और अरोमाथेरिपी में उपयोग किया जाता है। इसे कैनेरियम कम्यून, कैनारियम सिग्नम, कैनारियम नट, एलमी डी मनिले, एलमी रेसिन के नामों से भी जाना जाता है। जब इसके पेड़ों की छाल काटी जाती है, तो उससे ग्रे रंग का एक तरल गाढ़ा पदार्थ बनता है, जिसे ही एलमी या गोंद कहते हैं।

मनीला एलमी मुख्य रूप से फिलीपींस के लिए स्थानिक क्षेत्रों में पाया जा सकता है। जो एक बड़ा और सदाबहार पेड़ होता है। इसका पेड़ 30 मीटर तक ऊंचा हो सकता है। यह एक सुगंधित ओलेरोसिन का एक बड़ा स्रोत होता है जिसे एलमी कहा जाता है। इसके पेड़ से प्राप्त बीजों को कच्चा या पका कर उनका सेवन किया जा सकता है। इसका फल मीठा होता है और इसके बीज से निकलने वाले तेल का उपयोग खाना बनाने में किया जा सकता है। साथ ही, इसके फलों का गूदा पका कर खाया जा सकता है।

और पढ़ेंः सिंघाड़ा के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Singhara (Water chestnut)

मनीला एलमी (Elemi) का उपयोग कैसे किया जाता है?

इस गोंद का उपयोग निम्नलिखित स्वास्थ्य स्थितियों को बेहतर बनाने और उनका उपचार करने के लिए किया जा सकता है, जिसमें शामिल हैंः

  • पेट की समस्याओं के उपचार के लिए
  • खांसी की समस्या को दूर करने के लिए
  • इसके अलावा, इसका इस्तेमाल विभिन्न कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स के निमार्ण में भी किया जाता है, जिसमें बालों के लिए शैंपू और कंडीशनर, बच्चों के लिए स्किन उत्पाद, साबुनों में सुगंध लाने के लिए आदि।
  • दवाओं और सौंदर्य उत्पाद के अलावा, इसका इस्तेमाल प्लास्टिक बनाने और स्याही बनाने के लिए भी किया जा सकता है।
  • कुछ रिसर्च में यह भी दावा किया जाता है कि, आदिवासी इसका इस्तेमाल मसाल जलाने के लिए भी किया करते थें। जिसकी रोशनी बहुत दूर तक जाती थी और इससे बनी मसाल लंबे समय तक जलती रहती थी।
  • इसके अलावा, फिलीपीन में इसका उत्पादन बड़े तौर पर आय अर्जित करने के लिए भी किया जाता है।
  • इसकी छाल का उपयोग पोस्टपार्टम बाथ के लिए किया जाता है।
  • इसके एसेंशियल ऑयल का उपयोग जुएं मारने के फोमिंग जेल में किया जाता है।
  • ओलियोरेसिन का उपयोग अर्थराइटिस, रयूमेटिक जॉइंट्स, बॉइल्स, घाव और जलने पर किया जाता है।

मनीला एलमी कैसे काम करता है?

यह गोंद उष्णकटिबंधीय पेड़ों की छालों से प्राप्त किया जाता है। इस गोंद के पेड़ के छालों, पत्तियों और लकड़ियों का भी इस्तेमाल विभिन्न स्थितियों में किया जा सकता है। एलमी गोंद में जीवाणुरोधी, ऐंटीफंगल, एंटीसेप्टिक, एंटीस्पास्मोडिक और रूबेफेशिएंट के गुण पाए जा सकते हैं। जिसका उपयोग बुखार और ठंड लगने, गठिया, जलन आदि के उपचार में किया जा सकता है। हालांकि, स्वास्थ्य के प्रति यह गोंद कैसे कार्य करती है, इस संबंध में पर्याप्त जानकारी उपलब्ध नहीं है। इसकी अधिक जानकारी के लिए कृपया आप अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह लें सकते हैं।

और पढ़ेंः पाठा (साइक्लिया पेल्टाटा) के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Patha plant (Cyclea Peltata)

उपयोग

मनीला एलमी का उपयोग करना कितना सुरक्षित है?

विभिन्न शोधों के मुताबिक, मनीला एलमी के पेड़ से प्राप्त, गोंद, फलों, पत्तियों, छाल और बीजों का सेवन करना एक औषधी के रूप में लाभकारी माना जा सकता है। हालांकि, आपको इसका सेवन हमेशा अपने डॉक्टर के निर्देश पर ही करना चाहिए। आपको इसके ओवरडोज से भी बचना चाहिए। सिर्फ उतनी ही खुराक का सेवन करें, जितना आपके डॉक्टर द्वारा निर्देशित किया गया हो।

और पढ़ेंः कदम्ब के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Kadamba Tree (Neolamarckia cadamba)

साइड इफेक्ट्स

मनीला एलमी (Elemi) से क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

अध्ययनों के मुताबिक एक औषधी के तौर पर मनीला एलमी का सेवन करना पूरी तरह से सुरक्षित हो सकता है। वैसे तो इससे किसी तरह के गंभीर दुष्प्रभाव के मामले नहीं मिलते हैं। हालांकि, मनीला एलमी के सेवन से पहले अपने डॉक्टर की उचित सलाह लें। साथ ही, अगर आपको इसके सेवन से किसी भी तरह के साइड इफेक्ट्स दिखाई दें, तो तुरंत इसका सेवन करना बंद करें और अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

निम्नलिखित परिस्थितियों में इसका इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह लें:

  • यदि आप प्रेग्नेंट या ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं। दोनों ही स्थितियों में सिर्फ डॉक्टर की सलाह पर ही दवा खानी चाहिए।
  • यदि आप अन्य दवाइयां ले रही हैं। इसमें डॉक्टर की लिखी हुई और गैर लिखी हुई दवाइयां शामिल हैं, जो मार्केट में बिना डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन के खरीद के लिए उपलब्ध हैं।
  • यदि आपको गोंद के किसी पदार्थ से एलर्जी या अन्य दवा या औषधि से एलर्जी है।
  • अगर आपको कोई गंभीर शारीरिक स्थिति हो, जैसे- कैंसर या लिवर से जुड़ी कोई समस्या
  • यदि आपको फूड, डाई, प्रिजर्वेटिव्स या जानवरों से अन्य प्रकार की एलर्जी है।

अन्य दवाइयों के मुकाबले औषधियों के संबंध में रेग्युलेटरी नियम अधिक सख्त नही हैं। इनकी सुरक्षा का आंकलन करने के लिए अतिरिक्त अध्ययनों की आवश्यकता है। गोंद का इस्तेमाल करने से पहले इसके खतरों की तुलना इसके फायदों से जरूर की जानी चाहिए। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें।

और पढ़ें: डिलिवरी के बाद महिलाओं को क्यों खिलाए जाते हैं गोंद के लड्डू?

डोसेज

उपरोक्त जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं हो सकती। इसका इस्तेमाल करने से पहले हमेशा अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह लें।

मनीला एलमी को लेने की सही खुराक क्या है?

मनीला एलमी का इस्तेमाल आप विभिन्न रूपों में कर सकते हैं। हर मरीज के मामले में मनीला एलमी का डोज अलग-अलग हो सकता है। जो डोज आप ले रहे हैं वो आपकी उम्र, हेल्थ और दूसरे अन्य कारकों पर निर्भर कर सकता है। बिना डॉक्टर की सलाह के इसके सेवन की सलाह किसी अन्य व्यक्ति को न दें। क्योंकि, औषधियां हमेशा ही सुरक्षित नहीं हो सकती हैं। गलत तरीके से इसका इस्तेमाल करना स्वास्थ्य के लिए नुकसानदेह साबित हो सकता है। गोंद के किसी मानक डोज के संबंध में जानकारी उपलब्ध नहीं है। इसके उपयुक्त डोज के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें।

प्रतिदिन मनीला एलमी के सेवन की अधिकतम खुराक हो सकती हैः

खाने की मात्रा में गोंद का सेवन करना ज्यादातर लोगों में सुरक्षित पाया गया है। अधिक मात्रा में गोंद का सेवन करना कितना सुरक्षित है, इस संबंध में अधिक जानकारी उपलब्ध नहीं है। इसके बारे में अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

और पढ़ेंः अर्जुन की छाल के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Arjun Ki Chaal (Terminalia Arjuna)

उपलब्ध

मनीला एलमी (Elemi) किन रूपों में उपलब्ध है?

मनीला एलमी के निम्न रूपों का इस्तेमाल आप इस तरह से कर सकते हैंः

  • मनीला एलमी गोंद के कैप्सूल, सॉफ्टजेल्स
  • मनीला एलमी गोंद एसेंशियल ऑयल

अधिक जानकारी के लिए आयुर्वेदिक एक्सपर्ट या हर्बलिस्ट से संपर्क करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Canarium (PROSEA Exudates). https://uses.plantnet-project.org/en/Canarium_(PROSEA_Exudates). Accessed on 11 August, 2020.

Canarium luzonicum – (Blume) A.Gray. https://pfaf.org/user/Plant.aspx?LatinName=Canarium+luzonicum. Accessed on 11 August, 2020.

Commercial Essential Oils as Potential Antimicrobials to Treat Skin Diseases. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5435909/. Accessed on 11 August, 2020.

ELEMI. https://www.rxlist.com/elemi/supplements.htm. Accessed on 11 August, 2020.

ANALYSIS AND COMPOSITION OF MANILA ELEMI. http://scinet.dost.gov.ph/union/Downloads/111-124_PJS1949_v78_no1_74985.pdf. Accessed on 11 August, 2020.

LEADER: For. Florena B. Samiano. http://www.fprdi.dost.gov.ph/index.php/priority-programs-projects/r-d/gums-resins-oil-and-other-exudates. Accessed on 11 August, 2020.

लेखक की तस्वीर
Dr Sharayu Maknikar के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Sunil Kumar द्वारा लिखित
अपडेटेड 01/11/2019
x