home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Goldthread: गोल्डथ्रेड क्या है?

परिचय|उपयोग|सावधानियां और चेतावनी|साइड इफेक्ट्स|डोज
Goldthread: गोल्डथ्रेड क्या है?

परिचय

गोल्डथ्रेड क्या है?

गोल्डथ्रेड को कई नामों से जाना जाता है जैसे कैन्सरोट, चीनी कॉप्टिस, चीनी गोल्डथ्रेड, कॉप्टाइड, कॉप्टाइड आ ट्रिस फुएइल्स, राइज़ोमा कोप्टिडिस, सवॉयने, टिसावोयने जून आदि। यह बटरकप परिवार का ऐसा पौधा है, जिसके भूमि के नीचे के तने का प्रयोग दवाई बनाने के लिए किया जाता है। यह एक छोटा और कम ऊंचाई वाला पौधा है। इसमें सफेद रंग का फूल खिलता है और फूल खिलने का समय मई से अगस्त महीने के बीच का होता है। गोल्डथ्रेड का प्रयोग पाचन संबंधी समस्याओं, लीशमैनियासिस और ट्राइकोमोनिएसिस जैसे परजीवी संक्रमण और सोरायसिस नामक त्वचा की परेशानी को दूर करने के लिए किया जाता है। अगर आप गोल्डथ्रेड का प्रयोग करते हैं, तो आपको इसके बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए। जानिए इस हर्ब के बारे में विस्तार से।

उपयोग

गोल्डथ्रेड का इस्तेमाल किन रोगों के उपचार के लिए किया जाता है?

गोल्डथ्रेड का प्रयोग कई रोगों के उपचार के लिए किया जाता है, जैसे:

  • पाचन संबंधी समस्याएं
  • लीशमैनियासिस (एक परजीवी इन्फेक्शन जो त्वचा को प्रभावित करता है)
  • ट्राइकोमोनिएसिस (एक परजीवी संक्रमण जो यौन रोगों का कारणहै)
  • सोरायसिस (त्वचा की समस्या)
  • पीलिया
  • इसे खून साफ़ करने वाली दवाई भी कहा जाता है, इसलिए कई अन्य समस्याओं में भी इसका प्रयोग होता है।

गोल्डथ्रेड कैसे काम करता है?

गोल्डथ्रेड पेट में एसिड को कम कर सकता है। इसके साथ ही इसमें एंटीबैक्टीरियल प्रभाव भी होते हैं।

सावधानियां और चेतावनी

गोल्डथ्रेड का इस्तेमाल कितना सुरक्षित है?

गोल्डथ्रेड कितनी सुरक्षित औषधि है, इस बारे में पर्याप्त जानकारी उपलब्ध नहीं है लेकिन ऐसा माना जाता है कि नए जन्मे शिशुओं के लिए यह जड़ी-बूटी बिलकुल भी सुरक्षित नहीं है।

  • गोल्डथ्रेड बच्चों के लिए बिलकुल असुरक्षित है। इसमें बेरबेरीन नामक एक केमिकल होता है जो नवजात शिशुओं में बिलीरूबिन की मात्रा बढ़ा सकता है। बिलीरुबिन लिवर द्वारा निकाला गया केमिकल है। बहुत अधिक बिलीरुबिन नवजात शिशुओं में दिमागी समस्याओं का कारण बन सकता है, विशेष रूप से उन नवजात शिशुओं में जो समय से पहले पैदा होते हैं।
  • अगर आप प्रेग्नेंट हैं तो आपको गोल्डथ्रेड का सेवन नहीं करना चाहिए या तभी करना चाहिए जब डॉक्टर ने इसकी सलाह दी हो। क्योंकि, इसका सेवन करना गर्भ में पल रहे शिशु के लिए हानिकारक हो सकता है। इस में बेरबेरीन केमिकल होता है जो शिशु के विकास में बाधा बन सकता है। बिलीरुबिन की अधिक मात्रा शिशु के दिमाग के लिए भी हानिकारक है। गर्भावस्था के पहले तीन महीनों में इस जड़ी-बूटी का सेवन शिशु के लिए बेहद हानिकारक है। सुरक्षित रहने के लिए अपने डॉक्टर से पूरी जानकरी लें।
  • अगर आप स्तनपान करा रही हैं तो उस स्थिति में भी आपको डॉक्टर की सलाह के बिना इस दवाई को नहीं लेना चाहिए। क्योंकि, यह हर्ब ब्रेस्ट मिल्क से पास होती है और आपके शिशु को नुकसान पहुंचा सकती है। इसलिए प्रेगनेंसी और ब्रेस्टफीडिंग दोनों ही स्थितियों में आपको केवल उन्ही दवाईयों का सेवन करना चाहिए जिसकी सलाह डॉक्टर ने दी हो।

और पढ़ें: MTHFR गर्भावस्था: पोषक तत्व से वंचित रह सकता है आपका शिशु!

साइड इफेक्ट्स

गोल्डथ्रेड का क्या प्रभाव हो सकता है?

  • अन्य हर्ब्स की तरह गोल्डथ्रेड के भी कुछ दुष्प्रभाव हो सकते हैं। हालांकि ऐसा आवश्यक नहीं कि इस जड़ी-बूटी को लेने से सभी लोगों को साइड इफेक्ट्स हों, लेकिन कुछ लोगों में कुछ दुष्प्रभाव देखे आ सकते हैं। अगर आपको इस हर्ब को खाने से कोई भी समस्या होती है या साइड-इफेक्ट नजर आते हैं तो तुरंत अपने डॉक्टर को बताएं ताकि सही समय पर वो आपको सही सलाह दे सकें। सही मार्गदर्शन और सलाह के बाद ही इसे लें।
  • गोल्डथ्रेड का सेवन नए जन्मे शिशुओं और गर्भ में पल रहे शिशुओं के लिए हानिकारक सिद्ध हो सकती है। इसलिए, गर्भावस्था और स्तनपान की स्थिति में इसका सेवन करने से बचे।
  • अगर आप इस हर्ब से होने वाले साइड इफेक्ट्स को लेकर चिंतित हैं, तो कृपया अपने औषधि विशेषज्ञ या डॉक्टर से परामर्श करें ।

साइक्लोस्पोरिन इंटरेक्शन रेटिंग: इस सयोंजन को लेकर सावधान लें और अपने डॉक्टर से सम्पर्क करें।
शरीर साइक्लोस्पोरिन से छुटकारा पाने के लिए उसे ब्रेक कर देता है। गोल्डथ्रेड शरीर द्वारा साइक्लोस्पोरिन को ब्रेक करने की प्रक्रिया को धीमा कर देता है। इससे शरीर में बहुत अधिक साइक्लोस्पोरिन पैदा हो सकते हैं जिससे साइड इफ़ेक्टस हो सकते हैं।

लिवर इंटरेक्शन रेटिंग द्वारा दवाईओं में बदलाव: इस संयोजन को लेते हुए सावधान रहना चाहिए और अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए। कुछ दवाईयां लिवर द्वारा बदली और ब्रेक कर दी जाती हैं। गोल्डथ्रेड को कुछ ऐसी दवाईयों के साथ लेने से (जो लिवर के द्वारा ब्रेक कर दी जाती है) साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। अगर आप कोई ऐसी दवाई ले रहे हैं जिसे लेने से लिवर में बदलाव आता है तो गोल्डथ्रेड लेने से पहले डॉक्टर की सलाह लें। अपनी मर्जी से इसे लेना घातक हो सकता है।
लिवर द्वारा बदलने वाली दवाईयां इस प्रकार हैं साइक्लोस्पोरिन (cyclosporine), लोवास्टैटिन (lovastatin), क्लैरिथ्रोमाइसिन (clarithromycin), इंडिनविर (indinavir), सिल्डेनाफिल (sildenafil), ट्रायाज़ोलम (triazolam) और कई अन्य।

और पढ़ें : सूखे और फटे होठों के पीछे का कारण कहीं दवाईयां तो नहीं, जानें इसके घरेलू उपाय

डोज

गोल्डथ्रेड की कितनी खुराक लेना सही है?

गोल्डथ्रेड की सही डोज क्या है। यह बात कई चीजों पर निर्भर करती है जैसे उपयोग करने वाले की उम्र, स्वास्थ्य या कई अन्य स्थितियां। इसकी सही डोज क्या है इस समय इसके बारे में कोई वैज्ञानिक जानकारी नहीं है। याद रखें कि प्राकृतिक उत्पाद हमेशा सुरक्षित नहीं होते और उनकी सही डोज का पता होना महत्वपूर्ण है। इसलिए इसका उपयोग करने से पहले अपने फार्मासिस्ट और फिजिशियन या डॉक्टर की सलाह अवश्य लें। इस हर्ब को आप इस रूप और डोज में ले सकते हैं।

  • काढ़ा : एक कटोरी पानी में एक चम्मच गोल्डथ्रेड का पाउडर डालें। इसे अच्छे से पकाएं। इसका एक चम्मच दिन में 3 से 6 बार लें। इसका प्रयोग गरारे करने के लिए भी किया जा सकता है। गोल्डथ्रेड की जड़ को मुंह में रखने से मुंह के छाले दूर होते हैं।
  • टिंक्चर :एक समय से इसकी पांच से दस बूंदें लें।

हमें उम्मीद है कि गोल्डथ्रेड पर आधारित यह लेख आपको पसंद आया होगा। इस लेख में हमनें हर्ब से जुडी सभी जानकारियां देने की कोशिश की हैं जो कि आपके लिए उपयोगी साबित हों। अगर आपको यहां बताई गईं स्वास्थ्य समस्याएं हैं तो आप इस हर्ब का उपयोग डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए हर्बलिस्ट या डॉक्टर से संपर्क करें।

हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की मेडिकल सलाह , निदान या उपचार प्रदान नहीं करता और न ही इसके लिए जिम्मेदार है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Anu sharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 31/05/2020 को
डॉ. पूजा दाफळ के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड
x