home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Rhatany: रैतनी क्या है?

Rhatany: रैतनी क्या है?
उपयोग|सावधानियां और चेतावनी|साइड इफेक्ट्स|रिएक्शन|डोसेज|उपलब्ध

उपयोग

रैतनी (Rhatany) का इस्तेमाल किस लिए होता है?

रैतनी (क्रेमेरिया ट्रेआंद्रा) एक पौधा है, जो काफी असामान्य है। इसके जड़ का इस्तेमाल दवा के रूप में होता है। इससे संबंधित पौधों (अन्य क्रामेरिया प्रजाति के पौधे) को कभी-कभी इसकी मात्रा को बढ़ाने के लिए इसे में जोड़ा जाता है। लोग रैतनी का इस्तेमाल आंतों की सूजन और सीने के दर्द (एंजाइना) को ठीक करने के लिए करते हैं। रैतनी को कई बार माउथवॉश के रूप में या मुंह में हल्के गरारे करने, गले की जलन, मसूड़ों की सूजन, जुबान में क्रैक और नासूर को ठीक करने के लिए करते हैं। मुंह के अल्सर, सूजन में इसे स्किन पर लगाया जाता है। ठंड और नम मौसम के कारण होने वाली खुजली का उपचार करने में भी इसका प्रयोग किया जाता है।

इसके फूल लाल रंग के और बड़े आकार में होते है। इसका पौधा आमतौर पर एक झाड़ी की तरह होता है। यह पहाड़ के ढलानों, सूखे और रेतीले स्थानों पर उगता है।

और पढ़ें : आंखों में खुजली या जलन (Eye Irritation) कम करने के घरेलू उपाय

रैतनी (Rhatany) कैसे काम करती है?

इसमें कई सक्रिय घटक पाए जाते हैं जिनका इस्तेमाल टॉनिक के रूप में किया जाता है। यह पुरानी दस्त, पेचिश, रजोनिवृत्ति (मेनोपॉज), मूत्र में असंयम (पेशाब रोकने में परेशानी), हेमटुरिया और आंतों से रक्तस्राव होने जैसी स्थितिओं, आंतों की सूजन (आंत्रशोथ) और सीने में दर्द (एनजाइना) के उपचार में उपयोगी होता है। आमतौर इसका उपयोग गुदा और ल्यूकोरिया के फिशर में किया जाता है। यह अल्सर, गले में खराश, मसूड़ों में सूजन और दर्द, आंखों, नाक आदि से जु़ड़ी समस्याओं के उपचार के लिए भी लाभकारी होता है।

दांतों और मसूड़ों के स्वास्थ्य के लिए इसके पाउडर का इस्तेमाल टूथपेस्ट और माउथवॉश के तौर पर भी किया जाता है। हालांकि, रैतनी कैसे काम करता है इसको लेकर पर्याप्त अध्ययन नहीं किए गए हैं। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने हर्बालिस्ट या डॉक्टर से संपर्क करें। हालांकि, रैतनी कैसे काम करता है इसको लेकर पर्याप्त अध्ययन नहीं किए गए हैं। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने हर्बालिस्ट या डॉक्टर से संपर्क करें। हालांकि, इसमें टैनिन की उच्च सांद्रता होती है। एस्ट्रिजेंट रसायनों जैसे टैनिंस टिश्यूज और पस को कम करके सूजन को कम कर देते हैं।

और पढ़ें : Coconut Oil : नारियल तेल क्या है?

सावधानियां और चेतावनी

रैतनी (Rhatany) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

यदि आपको निम्नलिखित समस्याएं हैं, तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह अवश्य लें:

  • गर्भवती होने या ब्रेस्टफीडिंग कराने वाली महिलाएं डॉक्टर से सलााह लेकर ही इसका सेवन करें क्योंकि, इन दोनों अवस्था में सिर्फ डॉक्टर की सलाह पर ही दवाइयां ली जा सकती हैं।
  • यदि आप अन्य दवाइयां ले रहे हैं। इसमें वह दवाइयां भी शामिल हैं, जो आप बिना डॉक्टर की सलाह के ले रहे हैं।
  • यदि आपको रैतनी के किसी पदार्थ या किसी अन्य दवा या हर्बल मेडिसिन से एलर्जी हो।
  • यदि आपको कोई अन्य बीमारी, डिसऑर्डर या मेडिकल कंडिशन हैं।
  • यदि आपको किसी अन्य प्रकार की एलर्जी जैसे फूड, डाई, प्रिजरवेटिव्स या जानवरों से एलर्जी हो।

अन्य दवा के मुकाबले इस औषधि को लेकर नियम ज्यादा सख्त नहीं है। इसकी सुरक्षा का आंकलन करने के लिए अतिरिक्त अध्ययनों की आवश्यकता है। इस औषधि के लाभ को लेने से पहले इसके जोखिमों का आंकलन करना जरूरी है। इसकी ज्यादा जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या हर्बालिस्ट से सलाह लें।

और पढ़ें : टी ट्री ऑइल के 10 स्वास्थवर्धक फायदे

रैतनी लेना कितना सुरक्षित है?

दो हफ्तों तक सीधे मुंह से रैतनी का सेवन करने वाले ज्यादातर लोगों के लिए संभवतः यह सुरक्षित है। कितने समय तक रैतनी का इस्तेमाल या स्किन पर लगाना सुरक्षित है? इसको लेकर पर्याप्त जानकारी उपलब्ध नहीं है।

विशेष सावधानियां और चेतावनी

गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए यह कितनी सुरक्षित है? इसको लेकर पर्याप्त जानकारी उपलब्ध नहीं है। सुरक्षा की दृष्टि से प्रेग्नेंट और ब्रेस्टफीडिंग कराने वाली महिलाओं को इसके सेवन से बचना चाहिए। यदि आपको रैतनी से एलर्जी है, तो इसका सेवन न करें।

रैतनी को कैसे स्टोर करें?

इस औषधि को हमेशा कमरे के तापमान पर ही स्टोर करें। इसे सीधे धूप या नमी वाले स्थान में न रखें। इसके अलावा इसे बाथरूम या फ्रीज में भी स्टोर नहीं करना चाहिए। अगर आपको इसके इस्तेमाल की आवश्यकता नहीं या यह एक्सपायर हो गया हो, तो इसका सेवन भी न करें। दवा के इस्तेमाल की जरूर न होने पर सुरक्षित तरीके से इसका निपटारा करें। लेकिन, ध्यान रखें कि कभी भी इसे खुली या बहती नाली या टॉयलेट में फ्लश न करें और न ही इसे सीधे कूड़ेदान में फेंकें, क्योंकि इससे पर्यावरण को नुकसान हो सकता है।

और पढे़ंः बैक पेन को सही करेंगे ये टिप्स, क्विज में हैं कमर-दर्द के उपचार

साइड इफेक्ट्स

रैतनी से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

रैतनी का सेवन करने से आपको डाइजेशन जैसे समस्याएं हो सकती हैं। दुर्लभ मामलों में ही मुंह और गले की लाइनिंग में रैतनी से एलर्जिक रिएक्शन सामने आते हैं। हालांकि, सभी को इन साइड इफेक्ट्स का अनुभव नहीं होता है। उपरोक्त साइड इफेक्ट्स के अलावा भी इसके कुछ दुष्प्रभाव हो सकते हैं, जिन्हें ऊपर बताया नहीं गया है। यदि इसके साइड इफेक्ट्स को लेकर आप चिंतित हैं, तो अपने डॉक्टर या हर्बालिस्ट से संपर्क करें।

और पढ़ें : ट्रेंड में चल रहा सिलेरी जूस पीना जानिए आपके लिए कितना है सही?

रिएक्शन

रैतनी के क्या रिएक्शन हो सकते हैं?

रैतनी आपकी मौजूदा दवाइयों या मेडिकल कंडिशन के साथ परस्पर क्रिया करके रिएक्शन कर सकती है। इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर या हर्बालिस्ट से सलाह अवश्य लें।

और पढ़ें : कई गुणों से भरपूर है रोजमेरी हर्ब, जानें इसके 5 अद्भुत फायदे

निम्नलिखित प्रोडक्ट्स के साथ रैतनी का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए:

  • मुंह के द्वारा ली जाने वाली दवाइयों के साथ रैतनी रिएक्शन कर सकती है।

रैतनी में बड़ी मात्रा में टेनिन्स नामक कैमिकल्स होते हैं। टेनिन्स पेट और आंत में मौजूद पदार्थों को सोख लेती है। मुंह के साथ ली जाने वाली दवाइयों के साथ रैतनी का सेवन करने से बॉडी में दवा को सोखने की क्षमता कम हो जाती है। इसके अतिरिक्त, दवाइयों की प्रभाविकता भी घट जाती है। इस रिएक्शन को रोकने के लिए दवा खाने के कम से कम एक घंटा बाद रैतनी का सेवन करें।

डोसेज

ऊपर बताई गई जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं हो सकती है। इसका इस्तेमाल करने से पहले हमेशा अपने डॉक्टर या हर्बालिस्ट से सलाह लें।

और पढ़ें : Acai: असाई क्या है?

रैतनी की सामान्य खुराक क्या है?

हर मरीज के मामले में रैतनी की खुराक अलग होती है। जो डोज आप ले रहे हैं, वो आपकी उम्र, हेल्थ और अन्य हेल्थ कंडिशन पर निर्भर करती है। औषधियां हमेशा सुरक्षित नहीं होती हैं। इसकी उचित डोज के लिए अपने डॉक्टर या हर्बालिस्ट से सलाह लें।

उपलब्ध

रैतनी किस रूप में आती है?

  • कच्ची रैतनी
  • रैतनी की जड़ का पाऊडर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Rhatany. https://www.webmd.com/vitamins-supplements/ingredientmono-382-rhatany.aspx?activeingredientid=382&activeingredientname=rhatany. Accessed on 7 January, 2020.

RHATANY. https://www.rxlist.com/rhatany/supplements.htm. Accessed on 7 January, 2020.

Proanthocyanidins from Krameria triandra root. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/2813572. Accessed on 7 January, 2020.

The Past and Present Uses of Rhatany (Krameria, Krameriaceae). https://www.jstor.org/stable/4255370?seq=1. Accessed on 7 January, 2020.

Antioxidant and photoprotective activity of a lipophilic extract containing neolignans from Krameria triandra roots. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/11914952. Accessed on 7 January, 2020.

लेखक की तस्वीर
Dr Sharayu Maknikar के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Sunil Kumar द्वारा लिखित
अपडेटेड 10/10/2019
x