home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Shellac: शेलैक क्या है?

Shellac: शेलैक क्या है?
परिचय|उपयोग|साइड इफेक्ट्स|डोसेज|उपलब्ध

परिचय

शेलैक क्या है? (What is Shellac?)

शेलैक, पेड़ पर रहने वाले कैरिका लैक्का नाम के मादा कीड़े से खासतौर पर प्रजनन के बाद निकलने वाला स्त्राव है। इसमें प्राकृतिक गम होता है। फर्टिलाइजेशन के बाद मादा पेड़ पर एक स्पॉट ढूंढकर वहां पर शेलैक की एक परत बनाती है, जिसमें वह खुद को पूरी तरह से कवर करती है। ये सफेद मोम के धागे जैसा दिखता है। इस काकून जैसी जगह में मादा अपने अंडे देती है।

शेलैक की खेती भारत, थाईलैंड और बर्मा में होती है। इसका उत्पादन कुसुम के पेड़ों को संक्रमित करने वाले कीड़ों द्वारा किया जाता है। पेड़ों से सफेद मोम के धागों को निकालकर पानी में भिगोया जाता है, जिससे इसमें से कीट हटाए जा सकें। इसके बाद शेष सामग्री को सोडियम कार्बोनेट में भिगोया जाता है, जो लैकिक एसिड को हटाता है। फिर तीन से चार प्रोसेस से निकलने के बाद शैलेक तैयार होता है। शैलेक का इस्तेमाल सालों से फार्मा, डेंटिस्ट्री और मैनुफेक्चरिंग इंडस्ट्री में किया जा रहा है।

और पढ़ें : Flax Seeds : अलसी के बीज क्या है?

शैलेक का उपयोग ​किस लिए किया जाता है? (What is Shellac used for?)

शैलेक निम्नलिखित परेशानीयों के लिए इस्तेमाल किया जाता है:

-डेंटिस्ट्री में शैलेक का इस्तेमाल डेंटल प्रोडक्ट्स को बनाने में किया जाता है। डेंटिस्ट शैलेक को लंबे समय से कई तरह से इस्तेमाल करते आ रहे हैं। इनमें से ज्यादातर शैलेक का इस्तेमाल डेन्चर करते वक्त करते हैं। डेंट्ल स्कूलों में मोल्डिंग और आर्टिफिशियल कैलकुलस के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है।

-फार्मा इंडस्ट्री में भी इसका प्रयोग लंबे समय से किया जा रहा है। इसे खासतौर पर दवाइयों को बनाने और उस पर कोटिंग करने के लिए प्रयोग किया जाता है।

-कॉस्मेटिक इंडस्ट्री में कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्ड जैसे हेयर स्प्रे, लिपस्टिक को बनाने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है।

आयुर्वेद में शैलेक (Shellac) का इस्तेमाल (Shellac use in Aurveda)

आयुर्वेद में शैलेक का इस्तेमाल कई बीमारियों के इलाज के लिए किया जाता है। इसे लगाने से चोट और घाव से खून आना बंद हो जाता है। इसके अलावा ये त्वचा के अल्सर को भी ठीक करता है। फंगल इन्फेक्शन, एक्जिमा, हर्पीज और स्कैबीज से निजात दिलाने में भी ये मददगार है। कई रोगों के इलाज के लिए इसे वरदान के समान माना जाता है।

इन बीमारियों में भी है मददगार शैलेक का सेवन: (Shellac is helpful in these diseases also)

शैलेक कैसे काम करता है? (How does Shellac work?)

शैलेक कैसे काम करता है, इसके बारे में कोई अध्ययन नहीं है। हालांकि इसमें प्राकृतिक गम होता है जिस वजह से इसका प्रयोग कोटिंग के लिए किया जाता है। इसका इस्तेमाल करने का सोच रहे हैं तो एक बार अपने चिकित्सक से परामर्श जरूर लें।

और पढ़ें : Flax Seeds : अलसी के बीज क्या है?

उपयोग

कितना सुरक्षित है शैलेकका उपयोग ? (How safe is the use of Shellac?)

जो लोग दवाइयों में शैलेक को ले रहे हैं उनमें ज्यादातर के लिए यह सुरक्षित है। बहुत कम लोगों में शैलेक से एलर्जी देखने को मिलती है। बहुत सारे लोग डेंटल और फार्मा प्रोडक्ट्स में इस्तेमाल होने वाले शैलेक और हार्डवेयर स्टोर पर मिलने वाले उत्पाद में इस्तेमाल होने वाले शैलेक को एक समझ लेते हैं। बता दें, हार्डवेयर प्रोडक्ट्स में इस्तेमाल होने वाला शैलेक में मेथनॉल भी होता है, जो बहुत ही जहरीला होता है।

निम्नलिखित परिस्थितियों में इसका इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह लें:

  • यदि आप प्रेग्नेंट या ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं। दोनों ही स्थितियों में सिर्फ डॉक्टर की सलाह पर ही दवा खानी चाहिए।
  • यदि आप अन्य दवाइयां ले रही हैं। इसमें डॉक्टर की लिखी हुई और गैर लिखी हुई दवाइयां शामिल हैं, जो मार्केट में बिना डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन के खरीद के लिए उपलब्ध हैं।
  • यदि आपको शैलेक के किसी पदार्थ या अन्य दवा या औषधि से एलर्जी है।
  • यदि आपको कोई बीमारी, डिसऑर्डर या कोई अन्य मेडिकल कंडिशन है।
  • यदि आपको फूड, डाई, प्रिजर्वेटिव्स या जानवरों से अन्य प्रकार की एलर्जी है।

अन्य दवाइयों के मुकाबले औषधियों के संबंध में रेग्युलेटरी नियम अधिक सख्त नही हैं। इनकी सुरक्षा का आंकलन करने के लिए अतिरिक्त अध्ययनों की आवश्यकता है। शैलेक का इस्तेमाल करने से पहले इसके खतरों की तुलना इसके फायदों से जरूर की जानी चाहिए। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें।

और पढ़ें : Green Tea : ग्रीन टी क्या है ?

साइड इफेक्ट्स

शैलेक से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं? (What are the side effects of Shellac?)

कुछ लोगों को शैलेक से एलर्जी हो सकती है। अगर आपको गोंद या पौधे के अर्क से किसी तरह की कोई एलर्जी है तो इसका इस्तेमाल न करें। अगर आपकी किसी दूसरी बीमारी की दवाइयां चल रही हैं तो इसका इस्तेमाल करने से पहले एक बार डॉक्टर से जरूर कंसल्ट करें।

स्तनपान कराने वाली और गर्भवती महिलाएं इसको बिल्कुल एवॉइड करें, क्योंकि ये उनके और उनके बच्चे के लिए हानिकारक हो सकता है। किसी भी साइड इफेक्ट के नजर आने पर तुरंत डॉक्टर से कंसल्ट करें।

डोसेज

शैलेक को लेने की सही खुराक क्या है? (What is the correct dose to take Shellac?)

इस हर्बल सप्लिमेंट की खुराक हर मरीज के लिए अलग हो सकती है। आपके द्वारा ली जाने वाली खुराक आपकी उम्र, स्वास्थ्य और कई चीजों पर निर्भर करती है। हर्बल सप्लिमेंट हमेशा सुरक्षित नहीं होते हैं। इसलिए सही खुराक की जानकारी के लिए हर्बलिस्ट या डॉक्टर से चर्चा करें। कभी भी शैलेक की खुराक खुद से निर्धारित करने की गलती न करें। आपके द्वारा की गई छोटी से लापरवाही स्वास्थ्य के लिए हानिकारक साबित हो सकती है।

और पढ़ें: Elderberry: एल्डरबेरी क्या है?

उपलब्ध

किन रूपों में उपलब्ध है शैलेक ?(In which form Shellac is available?)

ये फलेक्स के रूप में उपलब्ध है, लेकिन इसका इस्तेमाल ऐसे नहीं करना चाहिए। फार्मा इंडस्ट्री में शैलेक का प्रयोग इसे कई तरह से रिफाइन करने के बाद किया जाता है।

हम आशा करते हैं आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। हैलो हेल्थ के इस आर्टिकल में इस हर्बल से जुड़ी ज्यादातर जानकारियां देने की कोशिश की है, जो आपके काफी काम आ सकती हैं। अगर आपको ऊपर बताई गई कोई सी भी शारीरिक समस्या है तो इस हर्ब का इस्तेमाल आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। बस इस बात का ध्यान रखें कि हर हर्ब सुरक्षित नहीं होती। इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से कंसल्ट करें तभी इसका इस्तेमाल करें। शैलेक से जुड़ी यदि आप अन्य जानकारी चाहते हैं तो आप हमसे कमेंट कर पूछ सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Efficacy of shellac, a natural product, for the prevention of wet gangrene: https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/23637276/ Accessed on 20/08/2020

Shellac: https://pubchem.ncbi.nlm.nih.gov/compound/shellac Accessed on 20/08/2020

Shellac: http://cameo.mfa.org/wiki/Shellac Accessed on 20/08/2020

Shellac: https://www.sciencedirect.com/topics/engineering/shellac Accessed on 20/08/2020

SHELLAC: https://www.rxlist.com/shellac/supplements.htm Accessed on 20/08/2020

Shellac: https://www.drugs.com/npp/shellac.html Accessed on 20/08/2020

Antiobesity effects of seedlac and shellac in rats fed with a high-fat diet: https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC7053287/ Accessed on 20/08/2020

लेखक की तस्वीर
Dr. Shruthi Shridhar के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Mona narang द्वारा लिखित
अपडेटेड 08/09/2019
x