home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Wild Daisy: वाइल्ड डेजी क्या है?

Wild Daisy: वाइल्ड डेजी क्या है?
परिचय|उपयोग|साइड इफेक्ट्स|डोसेज|उपलब्ध

परिचय

वाइल्ड डेजी क्या है? (What is Wild Daisy?)

वाइल्ड डेजी एक पौधा है, जिसका जमीन से ऊपर का हिस्सा कई तरह की दवाओं को बनाने में प्रयोग किया जाता है। औषधीय गुणों से भरपूर इस पौधे में न्यूट्रिएंट्स भी अच्छी मात्रा में होते हैं। कफ (Cough) और खांसी से निजात पाने के लिए लोग इस पौधे की चाय का सेवन करते हैं। इसे खांसी (Cough), लिवर (Liver) और गुर्दे (Kidney) संबंधित परेशानियों के लिए अच्छा माना जाता है। ये सूजन को दूर करने में भी मदद करता है। इसके सेवन से भूख के साथ-साथ चयापचय भी मजबूत होता है। कई स्किन संबंधित परेशानियां और घाव भरने के लिए भी इसे स्किन पर लगाकर इस्तेमाल किया जाता है।

वाइल्ड डेजी (Wild Daisy), डेजी की सामान्य यूरोपीयन प्रजातिओं में से एक है। जो सूरजमुखी के परिवार से संबंधित है। यह फूल सफेद, गुलाबी, पीले, लाल, क्रिमसन और बैंगनी रंग में भी आते हैं। वेस्टर्न, सेंट्र्ल और नार्थन यूरोप में वाइल्ड डेजी (Wild Daisy) बहुत ही सामान्य होता है। लेकिन नार्थ अमेरिका में इसकी प्रजातियां बहुत ही मुश्किल से पाई जाती हैं। इसके अलावा, वाइल्ड डेजी को बेलिस पेरेनिस के नाम से भी जाना जाता है।

और पढ़ें : Veronica : वेरोनिका क्या है?

वाइल्ड डेजी का उपयोग किस लिए किया जाता है? (Use of Wild Daisy)

संक्रमण से लड़ने में कारगर

इसमें कई ऐसे रसायन होते हैं, जो शरीर को संक्रमण (Infection) से लड़ने में मदद प्रदान कर सकता है। इसके अलावा ये शरीर से सारे विषैले (Toxin) पदार्थों को बाहर करता है। इसमें मौजूद एंटीस्पास्मोडिक प्रोपर्टीज होती हैं, जो पेट में दर्द (Stomach pain) से राहत दिलाते हैं।

रेस्पिरेटरी सिस्टम सुधारने के लिए

इसके अर्क में एंटीट्यूसिव, एंटी-इंफ्लेमेटरी और एक्सपेक्टोरेंट गुण होते हैं जो ब्रोंकाइटिस (Bronchitis), सर्दी और श्वसन तंत्र संबंधित परेशानियों को ठीक करने में मददगार है। परंपरागत रूप से इसे चाय के रूप में उपयोग किया जाता रहा है। इसके अलावा गले में खराश और मुंह की सूजन को दूर करने के लिए इसे माउथवॉश या गार्गल के रूप में उपयोग किया जाता है।

डाइजेस्टिव सिस्टम संबंधित परेशानियों को करे दूर

वाइल्ड डेजी (Wild Daisy) पाचन तंत्र को मजबूत बनाने में मदद करता है। इसमें मौजूद रसायन पाचन तंत्र (Digestive system) संबंधित परेशानियां जैसे गैस (Acidity) बनना, दस्त (Loose Motion), लिवर (Liver) और गॉल ब्लैडर (Gallbladder) की दिक्कते आदि।

जख्मों को भरने के लिए

वाइल्ड डेजी में हीलिंग प्रोपर्टीज होती हैं, जिसे घाव और खरोचों को भरने की प्रक्रिया को तेज करता है।

त्वचा की रंगत निखारने के लिए

वाइल्ड डेजी का इस्तेमाल दवाओं और हर्ब्स के साथ-साथ ब्यूटी प्रॉडक्ट्स (Beauty products) के तौर पर भी किया जाता है। स्किन केयर प्रोडक्ट्स (Skin care products) और कॉस्मेटिक्स (Cosmetics) से लेकर इसका इस्तेमाल स्किन और हेयर टोनर्स, सीरम, ऑइंटमेंट, लोशन आदि में भी किया जाता है। इसमें एल-आर्बुटिन नामक प्राकृतिक पदार्थ पाया जाता है, जो त्वचा की रंगत निखारने में मददगार होता है।

एंटी-एजिंग के निशान दूर करें

वाइल्ड डेजी बढ़ती उम्र के निशान और चेहरे पर आने वाली झुर्रियों (Wrinkles) की समस्याओं को दूर करने में भी लाभकारी होती है। इसमें एंटी-एजिंग गुण पाए जाते हैं। जब हमारी त्वचा सूरज की यूवी किरणों के संपर्क में आती है, तो चेहरे के कोलेजन फाइबर क्षतिग्रस्त हो जाते हैं। कोलेजन फाइबर सॉफ्ट और हेल्दी स्किन के लिए बहुत जरूरी होते हैं, ऐसे में वाइल्ड डेजी की त्वचा में कोलेजन फाइबर की मात्रा को बनाए रखती है।

इन बीमारियों को दूर करने में मददगार:

  • ब्रोंकाइटिस (Bronchitis)
  • खांसी
  • लिवर और किडनी संबंधित परेशानियां
  • सूजन को करे दूर
  • खून को साफ करने में मदद करता है
  • एस्ट्रिंजेंट की तरह करे काम
  • घाव को भरने में मददगार
  • स्किन संबंधित परेशानियां

हालांकि इन सभी उपयोगों के लिए वाइल्ड डेजी (Wild Daisy) की प्रभावशीलता को निर्धारित करने के लिए अधिक शोध की आवश्यकता है।

वाइल्ड डेजी (Wild Daisy) कैसे काम करता है?

इसमें सेपोनिन नामक केमिकल होता है, जो त्वचा की कोशिकाओं को अधिक कोलेजन का उत्पादन करने में मदद करता है। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से परामर्श लें।

और पढ़ें : Agave : रामबांस क्या है?

उपयोग

कितना सुरक्षित है वाइल्ड डेजी का उपयोग? (Is Wild Daisy safe?)

  • प्रेग्नेंसी और ब्रेस्टफीडिंगः अगर आप गर्भवती हैं या फिर शिशु को स्तनपान (Breastfeeding) करवा रही हैं, तो इसका सेवन करने से पहले एक बार चिकित्सक से सलाह अवश्य लें। ऐसा इसलिए क्योंकि गर्भावस्था (Pregnancy) में महिला को खानपान का ध्यान रखना जरूरी है। ऐसे में अगर इसका सेवन किया जाए, तो कई बार यह नुकसानदायक साबित हो सकता है। इसलिए एक बार डॉक्टर से सलाह अवश्य लें।
  • वाइल्ड डेजी के पौधे से एलर्जीः वाइल्ड डेजी एलर्जी (Allergy) का भी कारण बन सकती है। ऐसे लोग जिन्हें वाइल्ड डेजी (Wild Daisy) या उसकी प्रजातियों से जुड़े पौधे जैसे, रैगवेड, गुलदाउदी औषधि, मेरीगोल्ड या अन्य पौधों से किसी भी तरह की एलर्जी की शिकायत है, तो उन्हें भी इसका इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।
  • अगर आप कोई दवा का सेवन कर रहे हैं, तो इसका सेवन करने से बचें।
  • यदि आपको रैगवीड, डेजी, मेरीगोल्ड और संबंधित पौधों से एलर्जी है, तो भी इसका सेवन न करें।
  • अगर आपको किसी पदार्थ या दवाई से नुकसान है तो इसका सेवन बिना डॉक्टर के सुझाव के न करें।
  • आपको कोई अन्य बीमारी, विकार या कोई चिकित्सीय उपचार चल रहा है तो इसका सेवन न करें।
  • यदि आपको किसी तरह के खाने, जानवर या सामान से एलर्जी है तो भी इसका सेवन करने से बचना चाहिए।

यहां पर दी गई जानकारी को डॉक्टर की सलाह का विकल्प न मानें। किसी भी दवा या सप्लिमेंट का इस्तेमाल करने से पहले हमेशा डॉक्टर की सलाह जरुर लें। हर्बल सप्लिमेंट (Herbal Supplements) के उपयोग से जुड़े नियम, दवाओं के नियमों जितने सख्त नहीं होते हैं। इनकी उपयोगिता और सुरक्षा से जुड़े नियमों के लिए अभी और शोध की जरुरत है। इस हर्बल सप्लिमेंट के इस्तेमाल से पहले इसके फायदे और नुकसान की तुलना करना जरुरी है। इस बारे में और अधिक जानकारी के लिए किसी हर्बल विशेषज्ञ या आयुर्वेदिक डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ें : Arginine: आर्जिनाइन क्या है?

साइड इफेक्ट्स

वाइल्ड डेजी से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं? (Side effects of Wild Daisy)

वाइल्ड डेजी को लेकर अभी तक कोई साइड इफेक्ट नहीं देखे गए हैं। इस पर अभी अधिक शोध की जरूरत है। जरूरी नहीं ये सभी के लिए सुरक्षित हो। यदि आपको साइड इफेक्ट के विषय मे कोई चिंता है, तो कृपया अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से परामर्श करें।

डोसेज

वाइल्ड डेजी को लेने की सही खुराक (Dose for Wild Daisy)

इस हर्बल सप्लिमेंट की खुराक हर मरीज के लिए अलग-अलग हो सकती है। इसकी खुराक– उम्र, स्वास्थ्य और कई अन्य स्थितियों पर निर्भर करती है। हर्बल सप्लिमेंट हमेशा सुरक्षित नहीं होते हैं। इसकी अपनी उचित खुराक के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से बात करें।

और पढ़ें : Khat: खट क्या है?

उपलब्ध

किन रूपों में उपलब्ध है?

  • रॉ वाइल्ड डेजी
  • वाइल्ड डेजी टी

हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी प्रकार की चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Daisies/https://healthyfocus.org/health-benefits-of-daisies/Accessed on 16/03/2021

Leucanthemum vulgare
(oxeye daisy)/https://www.cabi.org/isc/datasheet/13357/Accessed on 16/03/2021

Indoor Plants That Improve Overall Health and Wellness/https://www.onegreenplanet.org/natural-health/10-plants-that-improve-the-air-quality-in-your-home/Accessed on 16/03/2021

DAISY PLANT PROFILE/https://solidarityapothecary.org/daisy-plant-profile/Accessed on 16/03/2021

WILD DAISY. https://www.rxlist.com/wild_daisy/supplements.htm. Accessed on 31 December, 2019.

 

लेखक की तस्वीर
Dr Sharayu Maknikar के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Mona narang द्वारा लिखित
अपडेटेड 17/10/2019
x