Domperidone + Esomeprazole : डॉम्परिडोन + एसोमप्राजोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    Domperidone + Esomeprazole : डॉम्परिडोन + एसोमप्राजोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    इस्तेमाल

    डोमपेरिडोन + इसमोप्राजोल (Domperidone+ Esomeprazole) का इस्तेमाल किसके लिए किया जाता है?

    डोमपेरिडोन + इसमोप्राजोल (Domperidone+ Esomeprazole) का इस्तेमाल गैस्ट्रोइसोफेगल रिफ्लक्स रोग (एसिड रिफ्लक्स) और अपच के उपचार में किया जाता है। यह दो दवाइयों का मेल है डोमपेरिडोन और इसमोप्राजोल। डोमपेरिडोन एक शक्तिशाली डोपामाइन रिसेप्टर प्रतिपक्षी है है, जो पेट और आंतों की मूवमेंट को बढ़ाने के लिए ऊपरी पाचन तंत्र पर असर डालता है। इसमोप्राजोल एक प्रोटोन पंप इन्हीबिटर (PPI) है जो पेट में एसिड की मात्रा को कम करता है। इससे एसिड संबंधी अपच या हार्टबर्न से छुटकारा मिलता है। इस दवाई का प्रयोग अव्यवस्थित मतली, उल्टी, गैस्ट्रिक अलसर, पेप्टिक अल्सर, मधुमेह जठरांत्र और अन्य स्थितियों से जुड़े लक्षणों के उपचार के लिए भी किया जाता है।

    और पढ़ें : Domperidone : डोमपेरिडोन क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

    डॉम्परिडोन + एसोमप्राजोल (Domperidone+ Esomeprazole) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

    • अगर उपलब्ध हो तो मेडिकल गाइड, पेशेंट इनफार्मेशन लीफलेट अवश्य पढ़ें, जो आपको आपके डॉक्टर ने इस दवाई के प्रयोग से पहले दिया है। अगर कोई सवाल हो तो अपने डॉक्टर से अवश्य बात करें।
    • अपने डॉक्टर की सलाह के अनुसार इस दवाई को मुंह के माध्यम से रोजाना दिन में एक बार भोजन के साथ लें, हो सके तो शाम को इसका सेवन करें।
    • इस दवाई को एकदम से तोड़ कर न चबाएं। ऐसा करने से पूरी दवाई आप एक ही बार में निकलेगी, जिससे साइड इफेक्ट का जोखिम बढ़ जाता है। पूरी टेबलेट को एक साथ खूब सारे पानी के साथ लें।
    • इस दवाई की डोज रोगी की मेडिकल स्थिति, ट्रीटमेंट और अन्य दवाईयों पर निर्भर करती है। अपने डॉक्टर को पहले ही उन सभी उत्पादों के बारे में बता दें जिन का प्रयोग आप कर रहे हैं।
    • इस दवाई के पूरे फायदे पाने के लिए नियमित रूप से इसका सेवन करें। रोजाना इस दवाई को लेना याद रखने के लिए इसे एक ही समय पर लें।
    • अगर इस दवाई को लेने के बाद आपकी स्थिति में सुधार नहीं होता या स्थिति बिगड़ जाती है तो तुरंत डॉक्टर को बताएं।

    और पढ़ें : Maxtra Syrup: मैक्सट्रा सिरप क्या है? जानिए इसके उपयोग, डोज और सावधानियां

    डॉम्परिडोन + एसोमप्राजोल को कैसे स्टोर करूं?

    डॉम्परिडोन + एसोमप्राजोल को हमेशा रूम टेंपरेचर पर स्टोर करना चाहिए। इसे धूप के सीधे प्रकाश या नमी से दूर रखें। इसे डैमेज होने से बचाने के लिए कभी भी इसे फ्रीज में स्टोर करके न रखें। स्टोर से जुड़ी जानकारी जुटाने के लिए दवा के पैकेज पर लिखे हुए जरूरी निर्देशों को अच्छे से पढ़ें या फिर अपने डॉक्टर से इसके बारे में पूछे। सुरक्षा के लिए, आपको सभी दवाओं को बच्चों और पालतू जानवरों से दूर रखना चाहिए।

    दवा का इस्तेमाल न करने पर या उसके एक्सपायर होने पर, डॉक्टर के निर्देश के बिना इसे न ही टॉयलेट में फ्लश करें और न ही नाली में फेकें। सुरक्षित रूप से दवा को नष्ट करने के बारे में अपने फार्मासिस्ट से पूछे।

    [mc4wp_form id=”183492″]

    सावधानियां और चेतावनी

    डॉम्परिडोन + एसोमप्राजोल (Domperidone+ Esomeprazole) का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

    • अगर आपको डॉम्परिडोन, एसोमप्राजोल या किसी अन्य तत्व से एलर्जी है तो डॉम्परिडोन + एसोमप्राजोल को लेने से पहले अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट को अवश्य बताएं। इस उत्पाद में कुछ ऐसे तत्व हो सकते हैं जिनसे आपको एलर्जी रिएक्शन या अन्य समस्याएं हो सकती हैं।
    • डॉम्परिडोन + एसोमप्राजोल की सलाह एसिडिटी और हार्टबर्न के उपचार के लिए दी जाती है।
    • इसे भोजन से एक घंटा पहले लें, खासतौर पर सुबह के समय। यह दवाई लंबे समय तक आराम देती है।
    • अगर आपको गंभीर डायरिया, बुखार या पेट दर्द की समस्या हो, जिससे मुक्ति न मिल रही हो तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लेंl
    • अगर चौदह दिनों तक आपको इस दवाई से कोई राहत न मिले, तो हो सकता है कि आपको कोई अन्य समस्या हो। ऐसे में डॉक्टर को तुरंत बताएं।
    • इसे दवाई का लंबे समय तक प्रयोग करने से हड्डियां कमजोर हो सकती हैं या मिनरल्स की कमी भी हो सकती है। इस स्थिति में भी डॉक्टर की सलाह अनिवार्य है।

    और पढ़ें : Serrapeptase: सेररटीओपेप्टिड्स क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान डॉम्परिडोन + एसोमप्राजोल लेना सुरक्षित है?

    प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग की स्थिति में इस दवाई का उपयोग न करने की सलाह दी जाती है। सही मार्गदर्शन और सलाह के लिए अपने डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।

    और पढ़ें :Esomeprazole : इसोमेप्राजोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    जानिए इसके साइड इफेक्ट्स

    डॉम्परिडोन + एसोमप्राजोल (Domperidone+ Esomeprazole) के साइड इफेक्ट्स

    डॉम्परिडोन + एसोमप्राजोल (Domperidone+ Esomeprazole) में मौजूद तत्वों से कई साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। हालांकि यहां इनकी पूरी लिस्ट मौजूद नहीं है। यह साइड इफेक्ट संभव हैं, लेकिन ऐसा आवश्यक नहीं कि यह हमेशा हों। इनमें से कुछ साइड इफेक्ट दुर्लभ हैं, लेकिन यह गंभीर हो सकते हैं। अगर इस दवाई को लेने से आपको कोई साइड इफेक्ट दिखाई दें तो डॉक्टर से अवश्य संपर्क करें जैसे:

    इस दवाई के निम्नलिखित साइड इफ़ेक्ट भी हो सकते हैं:

    • दृष्टि का कमजोर होना
    • बेचैनी
    • चक्कर आना
    • मुंह सुखना
    • जी मिचलाना
    • दिल की धड़कन का बढ़ना
    • पसीना आना

    गैलेक्टोरिया, गाइनेकोमास्टिया या मासिक धर्म में अनियमितता भी इस दवाई के साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं।

    और पढ़ें : Paracetamol+Phenylephrine+Chlorpheniramine Maleate: पैरासिटामोल+फिनाइलेफ्रिन+क्लोरफेनीरामिन मालेट क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    इन जरूरी बातों को जानें

    कौन-सी दवाएं डॉम्परिडोन + एसोमप्राजोल (Domperidone+ Esomeprazole) के साथ इस्तेमाल नहीं की जा सकती हैं?

    अगर आप अन्य दवाइयों या उत्पादों का प्रयोग कर रहे हैं तो उनके साथ डॉम्परिडोन + एसोमप्राजोल को लेने से इस दवाई का प्रभाव बदल सकता है। इससे न केवल साइड इफेक्ट्स की संभावना बढ़ जाती है। बल्कि, आपकी दवाई भी सही से काम नहीं करेगी। अपने डॉक्टर को उन सभी दवाइयों, विटामिन्स या सप्लिमेंट्स के बारे में बताएं जिनका प्रयोग आप कर रहे हैं। डॉम्परिडोन + एसोमप्राजोल को इन दवाइयों के साथ लेना खतरनाक हो सकता है।

    • ऐमियोडैरोन (Amiodarone)
    • अपरिणवीर (Apranavir)
    • एंटासिडस (Antacids)
    • अतजानवीर (Atazanavir)
    • एट्रोपिन (Atropine)
    • साइटलीप्रेम (Citalopram)
    • क्लॉरिथ्रोमैकिन (Clarithromycin)
    • क्लोमिप्रमिन (Clomipramine)
    • डायजेपाम (Diazepam)

    क्या भोजन या एल्कोहॉल के साथ डॉम्परिडोन + एसोमप्राजोल का इस्तेमाल किया जा सकता है?

    डॉम्परिडोन + एसोमप्राजोल को एल्कोहॉल के साथ लेना सुरक्षित नहीं है। इसलिए, इस दवाई को लेने से पहले डॉक्टर से पूरी सलाह लें।

    डोजेज

    यहां पर दी गई जानकारी को डॉक्टर की सलाह का विकल्प न मानें। किसी भी दवा या सप्लिमेंट का इस्तेमाल करने से पहले हमेशा डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

    डॉम्परिडोन + एसोमप्राजोल की सही डोज के बारे में जानने के लिए अपने डॉक्टर से मिले की सलाह लें। आपको इसकी कितनी डोज लेनी चाहिए, यह बात आपकी उम्र, स्वास्थ्य या अन्य स्थितियों पर निर्भर करती है।

    और पढ़ें : Levonorgestrel (oral): लिवोनोगेस्ट्रल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

    डॉम्परिडोन + एसोमप्राजोल (Domperidone+ Esomeprazole) किस रूप में आती है?

    डॉम्परिडोन + एसोमप्राजोल इस रूप में उपलब्ध है।

    • टेबलेट

    ओवरडोज या आपातकालीन स्थिति में क्या करना चाहिए?

    ओवरडोज या आपातकालीन स्थिति के लिए अपने स्थानीय डॉक्टर या हॉस्पिटल से संपर्क करें।

    नोट :

    • रोगी के अलावा यह दवाई किसी अन्य व्यक्ति को न दें।
    • उतनी ही डोज लें जितनी आपके डॉक्टर से बताई हो। अधिक दवाई लेने से इलाज जल्दी नहीं होता बल्कि साइड इफेक्ट की संभावना बढ़ जाती है।

    यदि मुझसे डॉम्परिडोन + एसोमप्राजोल (Domperidone+ Esomeprazole) की डोज मिस हो जाए तो मुझे क्या करना चाहिए?

    अगर आपसे डॉम्परिडोन + एसोमप्राजोल (Domperidone+ Esomeprazole) की डोज मिस हो जाए, तो जितना जल्दी हो सके इसे ले लें। हालांकि, अगर दूसरी खुराक का समय हो गया है, तो डबल डोज लेने की बजाय एक डोज मिस कर दें।

    हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की कोई भी मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है, अधिक जानकारी के लिए आप डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

    डॉ. प्रणाली पाटील

    फार्मेसी · Hello Swasthya


    Anu sharma द्वारा लिखित · अपडेटेड 07/05/2021

    advertisement
    advertisement
    advertisement
    advertisement