home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Formoterol : फॉर्मोटेरोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

फॉर्मोटेरोल का उपयोग किसलिए किया जाता है?|फॉर्मोटेरोल के इस्तेमाल से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?|फॉर्मोटेरोल इस्तेमाल करने से क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?|कौन सी दवाएं फॉर्मोटेरोल के साथ नहीं ली जा सकती हैं?|डॉक्टर की सलाह
Formoterol : फॉर्मोटेरोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

फॉर्मोटेरोल का उपयोग किसलिए किया जाता है?

फॉर्मोटेरोल का इस्तेमाल लॉन्ग टर्म ट्रीटमेंट के तौर पर अस्थमा के कारण होने वाली समस्याओं जैसे कि सांसों में घरघराहट, सांस फूलना आदि के लिए किया जाता है। यह समयाएं फेफड़ों से जुड़े रोगों (सीओपीडी) के कारण भी हो सकती हैं जिसमें क्रोनिक ब्रोंकाइटिस और इम्फीसेमा शामिल हैं।

इसके अलावा पांच साल या उससे ज्यादा उम्र के बच्चों और बड़ों में एक्सरसाइज के दौरान होने वाली सांस की समस्या और अस्थमा के इलाज में फॉर्मोटेरोल इन्हेलेशन पाउडर का इस्तेमाल किया जाता है।

ये भी पढ़ें : अस्थमा के लिए ज़िम्मेदार हो सकती हैं ये चीजें

मैं फॉर्मोटेरोल को कैसे इस्तेमाल करूं?

  • प्रोडक्ट के पैकेज पर दिए गए सारे निर्देशों को फॉलो करें। यह एक इन्हेलर है और इसे मुंह में डालकर इन्हेलर की तरह इस्तेमाल करें।
  • अगर आपको किसी जानकारी को लेकर संदेह है तो इस बारे में डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

मैं फॉर्मोटेरोल को कैसे स्टोर करूं?

  • कमरे के तापमान पर और गर्मी से दूर रखें।
  • मूल कंटेनर में कैप्सूल स्टोर करें। खोलने के तुरंत बाद इसका उपयोग करें।
    सभी दवाओं को सुरक्षित स्थान पर रखें। सभी दवाओं को बच्चों और पालतू जानवरों की पहुंच से दूर रखें।
  • एक्सपायर दवाओं को फेंक दें। जब तक आपको ऐसा करने के लिए नहीं कहा जाता है, तब तक टॉयलेट या नालों में इसे ना फेंकें। अपने फार्मासिस्ट से इस बारे में बात करें कि दवाओं को कैसे फेंकें? संभव हो आपके एरिया में ड्रग टेक-बैक प्रोग्राम चल रहे हों जिसकी मदद से आप दवाओं को वापस कर सकें।
  • नेबुलाइजर या फॉर्मोटेरोल शीशियों को उनके पाउच में सील करके रखें और धूप या गर्मी से दूर रखें और जब तक आप उन्हें उपयोग करने के लिए तैयार न हों। नेबुलाइजर साॅल्यूशन को रेफ्रिजरेटर में रखें या इसे कमरे के तापमान पर 3 महीने तक स्टोर करें। इस दवा को बच्चों की पहुंच से दूर रखें।

फॉर्मोटेरोल के इस्तेमाल से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

इस दवा को इस्तेमाल करने से पहले आपको ये सारी बाते पता होनी चाहिए:

  • अगर आप फॉर्मोटेरोल का इस्तेमाल एक्सरसाइज की वजह से होने वाली सांस की समस्या को रोकने के लिए कर रहें हैं तो एक्सरसाइज शुरू करने से कम से कम 15 मिनट पहले इसका इस्तेमाल करें। कम से कम 12 घंटे के लिए इसकी दूसरी खुराक ना लें। अगर आप नियमित रूप से रोजाना दो बार फॉर्मोटेरोल का इस्तेमाल करते हैं तो एक्सरसाइज से पहले इसकी एक्स्ट्रा खुराक ना लें।
  • बच्चों में फॉर्मोटेरोल इस्तेमाल के दौरान सावधान होने की सलाह दी जाती है; वे इसके प्रभाव के प्रति बहुत ज्यादा संवेदनशील हो सकते हैं, खासतौर पर उन्हें मिचली, पेट दर्द और पेट खराब जैसी समस्याएं हो सकती है।

आप डॉक्टर को यह भी बताएं अगर आपको ये सारी समस्याएं है;

  • अगर आपको फॉर्मोटेरोल या किसी दूसरी दवाइयों से या फॉर्मोटेरोल इन्हेलेशन पाउडर या नेबुलाइजर सॉल्यूशन की सामग्री से किसी तरह की कोई एलर्जी है तो अपने डॉक्टर को बताएं।
  • अगर आप मिल्क प्रोटीन के प्रति एलर्जिक हैं।
  • अगर आप कोई सर्जरी करवाने वाले हैं जिसमें डेंटल सर्जरी भी शामिल हो, तो इस बारे में भी डॉक्टर को बताएं।

अगर आपको पहले से ही अस्थमा की समस्या है तो फॉर्मोटेरोल इन्हेलेशन पाउडर का इस्तेमाल ना करें क्योंकि इससे स्थिति और अधिक खराब हो सकती है। अगर आपको खराब स्थिति में पहुंचे अस्थमा के निम्नलिखित लक्षण दिखाई दें तो तुरंत अपने डॉक्टर को कॉल करें:

  • इन्हेलर का कम काम करना।
  • अगर आपका इन्हेलर कम काम करता है और ऐसी स्थिति में आपको ज्यादा पफ लेने की जरूरत पड़ रही हो या फिर बार-बार इसका इस्तेमाल करने की जरूरत पड़ रही हो।
  • आठ हफ्ते के दौरान अगर आप एक कनिस्तर (200 इनहेलेशन) शॉर्ट एक्टिंग इन्हेलर का इस्तेमाल करते हों।
  • अगर आपका पीक फ्लो मीटर (होम डिवाइस जो सांसों का परीक्षण करता है) बताता है कि आपको सांस लेने में दिक्कत हो रही है।
  • अगर आपको अस्थमा के इलाज के लिए इमरजेंसी रूम जाने की जरूरत हो।
  • अगर एक हफ्ते तक रेगुलर फॉर्मोटेरोल इनहेलेशन पाउडर का इस्तेमाल करने के बाद भी लक्षण में सुधार ना हो रहा हो या इलाज के दौरान लक्षण और अधिक खराब स्थिति में पहुंच जाएं।

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान फॉर्मोटेरोल लेना सुरक्षित है?

महिलाओं में प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान फॉर्मोटेरोल के इस्तेमाल को लेकर अभी पर्याप्त जानकारी नहीं है। इस बारे अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क करें। हालांकि यूएस फूड एंड एडमिनिस्ट्रेशन ने प्रेग्नेंसी के दौरान, इसके इस्तेमाल को लेकर इसे खतरे की ‘C’ श्रेणी में रखा है। एफडीए प्रेग्नेंसी खतरे की सूची इस प्रकार है;

  • A= कोई नुकसान नहीं
  • B= कुछ शोध में कोई नुकसान नहीं
  • C= थोड़ा नुकसान हो सकता है
  • D= नुकसान का पॉजिटिव प्रमाण
  • X= इस बारे में मतभेद हैं
  • N= कुछ पता नहीं

ये भी पढ़ें : अस्थमा क्या है? जानें इसके कारण , लक्षण और इलाज

फॉर्मोटेरोल इस्तेमाल करने से क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

कुछ कॉमन साइड इफेक्ट्स इस प्रकार हैं;

  • मुंह का सूखना
  • नाक का बहना या भरा होना
  • थकान
  • नींद की समस्या
  • गंभीर एलर्जिक रिएक्शन (चकते पड़ना, हीव्स, खुजली, सांस की समस्या, सीने का टाइट होना, मुंह, चेहरे, होठ, जीभ या गले में सूजन होना, असामान्य रूप से आवाज का बैठना)
  • सीने का दर्द
  • बेहोशी
  • सांस का तेज चलना
  • तेज या अनियमित हार्टबीट होना
  • बुखार, ठंड लगना या गले मे खराश होना
  • मांसपेशियों में दर्द होना, कमजोरी या खिंचाव होना
  • अस्थमा के नए लक्षण दिखाई देना या अस्थमा या सीओपीडी की स्थिति और अधिक खराब होना (सीने का टाइट होना, कफ, सांसों की कमी, घरघराहट होना)
  • गंभीर रूप से सिर में दर्द होना, सिर चकराना, सिर हल्का होना, कांपना या नर्वसनेस होना
  • गंभीर मिचली, उल्टी या पेट मे दर्द होना
  • गंभीर या असामान्य रूप से सुस्ती
  • सुस्ती आना
  • हाई ब्लड शुगर के लक्षणों का होना (अधिक प्यास लगना, भूख लगना या ज्यादा यूरिन निकलना, सुस्ती, कंफ्यूजन)
  • आवाज में बदलाव होना

सभी लोगों को ये सारे साइड इफेक्ट्स महसूस नहीं होते हैं। कुछ साइड इफेक्ट्स यहां पर नहीं बताए गए हैं। अगर आपको इन साइड इफेक्ट्स को लेकर कोई चिंता है यो इस बारे में डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

यह भी पढ़ें- पेट की एसिडिटी को कम करने वाली इस दवा से हो सकता है कैंसर

कौन सी दवाएं फॉर्मोटेरोल के साथ नहीं ली जा सकती हैं?

अगर आप वर्तमान में कोई दवा ले रहें हैं तो फॉर्मोटेरोल उसके साथ इंटरैक्ट कर सकती है जिससे दवा का एक्शन प्रभावित होगा या फिर गंभीर साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। इस चीज को रोकने के लिए आप उन दवाओं (जिनमें प्रिस्क्रिप्शन ड्रग, नॉनप्रिस्क्रिप्शन ड्रग और हर्बल प्रोडक्ट शामिल हैं) की लिस्ट रखें और उन्हें डॉक्टर या फार्मासिस्ट के साथ शेयर करें। सुरक्षा के लिहाज से आप बिना डॉक्टर के सहमति के ना तो कोई दवा अपने से शुरू करें, ना ही बंद करें और ना ही उसकी खुराक को बदलें।

निम्नलिखित प्रोडक्ट इस दवा के साथ इंटरैक्ट कर सकते हैं:

सोटालोल

एडवेर डिसक्स

एल्ब्यूटेरोल

कॉम्बीवेंट

क्या भोजन और एल्कोहॉल के साथ फॉर्मोटेरोल इस्तेमाल की जा सकती है?

फॉर्मोटेरोल भोजन या एल्कोहॉल के साथ इंटरैक्ट कर सकती है जिससे ड्रग का एक्शन प्रभावित हो सकता है या फिर गंभीर साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। इसलिए भोजन या एल्कोहॉल के साथ इस ड्रग को इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर या फार्मासिस्ट से इस बारे में बात करें।

फॉर्मोटेरोल खाने से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है?

फॉर्मोटेरोल आपके स्वास्थ्य स्थिति के अनुसार इंटरैक्ट कर सकती है। इससे आपकी स्वास्थ्य स्थिति और अधिक खराब हो सकती है या फिर दवा का एक्शन प्रभावित हो सकता है। इसलिए बेहतर है कि मौजूदा स्वास्थ्य स्थिति के बारे में अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट को बताएं।

ये स्वास्थ्य स्थितियां इस प्रकार हैं;

  • अनियमित हार्टबीट
  • हाई ब्लड प्रेशर
  • फिनोक्रोमोसाइटोमा (एक प्रकार का ट्यूमर जिसकी वजह से ब्लड प्रेशर में बदलाव आ सकता है)
  • कार्डियोवैस्कुलर
  • डायबिटीज
  • हाइपोकैलेमिया
  • दौरे पड़ना

यह भी पढ़ें- कार्डियो एक्सरसाइज से रखें अपने हार्ट को हेल्दी, और भी हैं कई फायदे

डॉक्टर की सलाह

नीचे दी गई जानकारी किसी चिकित्सक की सलाह नहीं है। इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने चिकित्सक या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

फॉर्मोटेरोल कैसे उपलब्ध है?

फॉर्मोटेरोल निम्नलिखित खुराक और क्षमता में उपलब्ध है:

  • इन्हेलेशन कैप्सूल
  • इन्हेलेशन सॉल्यूशन

इमरजेंसी या ओवरडोज की स्थिति में क्या करना चाहिए?

इमरजेंसी या ओवरडोज की स्थिति में आप इमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या अपने नजदीकी इमरजेंसी वार्ड में जाएं।

ओवरडोज के निम्नलिखित लक्षण होते हैं;

  • सीने का दर्द
  • बेहोशी
  • तेज, पॉउंडिंग या अनियमित हार्टबीट होना
  • नर्वसनेस
  • सिर दर्द
  • शरीर के किसी भाग का अनियंत्रित होना या कांपना
  • दौरे पड़ना
  • मांसपेशियों में खिंचाव
  • मुंह का सूखना
  • मिचली
  • सिर चकराना
  • ज्यादा थकान लगना
  • सोए रहना या सोने में दिक्कत होना
  • प्यास
  • सांस लेने में दिक्कत

क्या करना चाहिए अगर एक खुराक लेना भूल जाएं?

अगर आप फॉर्मोटेरोल की खुराक लेना भूल जाते हैं तो याद आने पर जल्द से जल्द अपनी खुराक लें। हालांकि, अगर इसके कुछ ही समय बाद आपको अपनी अगली खुराक लेनी हो तो इसे न लें और अपनी नियमित खुराक के अनुसार ही इसका सेवन करते रहें। डबल खुराक ना लें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सक सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Formoterol Accessed on 13/11/2016

Formoterol Accessed on 13/11/2016

Formoterol Fumarate Capsule, With Inhalation Device Accessed on 09/12/2019

Budesonide-Formoterol HFA Aerosol Inhaler Accessed on 09/12/2019

Budesonide-Formoterol, Inhalation Powder, Pressurized Accessed on 09/12/2019

What Is Budesonide-Formoterol? Accessed on 09/12/2019

Formoterol (Inhalation Route) Accessed on 09/12/2019

 

लेखक की तस्वीर badge
Anoop Singh द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 25/09/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x